1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. राफेल पूजा पर घिरे रजनाथ सिंह के समर्थन में आई पाक सेना, आसिफ गफूर ने दिया यह बड़ा बयान

फ्रांस में राफेल पूजा पर घिरे रजनाथ सिंह के समर्थन में आई पाक सेना, आसिफ गफूर ने दिया यह बड़ा बयान

भारत के खिलाफ लगातार बयानबाजी करने वाले पाकिस्तानी सेना के प्रवक्ता आसिफ गफूर ने गुरुवार को 'राफेल पूजा' को लेकर रक्षामंत्री राजनाथ सिंह का बचाव किया है।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: October 11, 2019 10:00 IST
फ्रांस में राफेल पूजा पर घिरे रजनाथ सिंह के समर्थन में आई पाक सेना, आसिफ गफूर ने दिया यह बड़ा बयान- India TV
फ्रांस में राफेल पूजा पर घिरे रजनाथ सिंह के समर्थन में आई पाक सेना, आसिफ गफूर ने दिया यह बड़ा बयान

नई दिल्ली: भारत के खिलाफ लगातार बयानबाजी करने वाले पाकिस्तानी सेना के प्रवक्ता आसिफ गफूर ने गुरुवार को 'राफेल पूजा' को लेकर रक्षामंत्री राजनाथ सिंह का बचाव किया है। उन्होंने कहा कि 'राफेल पूजा में कुछ भी गलत नहीं है क्योंकि यह धर्म के अनुसार है।' बता दें कि फ्रांस से पहले राफेल लड़ाकू विमान मिलने के बाद रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने शस्त्र पूजा की थी जिसकी सोशल मीडिया पर खूब चर्चा हुई। उन्होंने नये विमान पर ‘ओम’ भी लिखा। उन्होंने दो सीट वाले विमान पर उड़ान भरने से पहले फूल और नारियल भी चढ़ाये।

पाकिस्तानी सेना के प्रवक्ता आसिफ गफूर ने गुरुवार को ट्वीट किया, “राफेल पूजा में कुछ भी गलत नहीं हैं क्योंकि यह धर्म के अनुसार है। कृपया, याद रखें...यह अकेली मशीन नहीं जो मायने रखती है असल में उस मशीन को संभालने वाले व्यक्ति की क्षमता, जुनून और संकल्प मायने रखता है। हमें हमारे पीएएफ शहीदों पर गर्व हैं।“

फ्रांस में राफेल पूजा पर घिरे रजनाथ सिंह के समर्थन में आई पाक सेना, आसिफ गफूर ने दिया यह बड़ा बयान

फ्रांस में राफेल पूजा पर घिरे रजनाथ सिंह के समर्थन में आई पाक सेना, आसिफ गफूर ने दिया यह बड़ा बयान

गौरतलब है कि कांग्रेस नेताओं ने राफेल लड़ाकू विमान प्राप्त करने के लिए रक्षामंत्री राजनाथ सिंह की फ्रांस यात्रा और राफेल विमान पर उनके शस्त्र पूजन को तमाशा करार दिया और भाजपा पर रक्षा खरीद को राजनीतिक रंग देने का आरोप लगाया। कांग्रेस नेता राशिद अल्वी ने कहा, ‘‘यह नाटकों की सरकार है। आप फ्रांस जाकर पूजा कर रहे हैं। क्या राफेल विमान भारत नहीं आने वाला था? आप दूसरे देश में जाकर यह सब तमाशा कर रहे हैं।’’ 

सिंह के शस्त्र पूजन को ‘तमाशा’ करार देने के अल्वी के बयान पर कुछ तीखी प्रतिक्रियाएं आईं जिस पर कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि वह पूजा की बात नहीं कर रहे बल्कि इस बात पर सवाल खड़ा कर रहे हैं कि राफेल विमान की आपूर्ति और अन्य तकनीकी मामलों में नेता क्यों शामिल हो रहे हैं। 

खड़गे ने कहा कि उन्होंने शस्त्र पूजा की आलोचना नहीं की और उनका यह कहना था कि विमान को आने में 6-8 महीने लगेंगे, ऐसे में वहां यह करने की क्या जरूरत थी, जब वह आ जाता तब करते। हालांकि, खड़गे के बयान पर तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए असंतुष्ट कांग्रेस नेता संजय निरूपम ने कहा कि शस्त्र पूजा को तमाशा नहीं कहा जा सकता। यह हमारे देश की हजारों साल पुरानी परंपरा है। 

उन्होंने कहा, ‘‘मैं जानता हूं कि मल्लिकार्जुन खड़गे जी नास्तिक हैं। वह प्रार्थना, पूजा में विश्वास नहीं करते। लेकिन उनकी तरह कांग्रेस में सभी लोग नास्तिक नहीं हैं।’’ निरूपम ने कहा, ‘‘पूरे देश में एक प्रतिशत लोग नास्तिक हैं लेकिन बाकी सभी पूजा प्रार्थना में भरोसा रखते हैं और इसलिए नास्तिकों को अपने विचारों को पार्टी और समाज पर नहीं थोपना चाहिए।’’ उन्होंने साफ किया कि वह शस्त्र पूजा का समर्थन कर रहे हैं, नाकि भाजपा का। उनके विचार से भारतीय परंपराएं और सांस्कृतिक विरासत किसी पार्टी या व्यक्ति से बहुत बड़े हैं।

India TV Hindi पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment
bigg-boss-13