1. You Are At:
  2. होम
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. विधवाओं के कल्याण के लिए किसी को चिंता नहीं, ना परिवार और ना सरकार : सुप्रीम कोर्ट

विधवाओं के कल्याण के लिए किसी को चिंता नहीं, ना परिवार और ना सरकार : सुप्रीम कोर्ट

सुप्रीम कोर्ट ने विधवाओं के कल्याण के लिए जरूरी कदम नहीं उठाने को लेकर आज केंद्र और राज्यों से नाराजगी प्रकट की।

Edited by: IndiaTV Hindi Desk [Published on:30 Jan 2018, 10:10 PM IST]
supreme court- India TV
Image Source : PTI supreme court

नयी दिल्ली: सुप्रीम कोर्ट ने विधवाओं के कल्याण के लिए जरूरी कदम नहीं उठाने को लेकर आज केंद्र और राज्यों से नाराजगी प्रकट की। जस्टिस मदन बी लोकुर और जस्टिस दीपक गुप्ता की पीठ ने कहा, ‘‘किसी को विधवाओं के कल्याण की फिक्र नहीं है।’’ पीठ ने कहा कि इस संबंध में प्रावधान हैं जिन्हें केंद्र और राज्यों द्वारा लागू किये जाने की अपेक्षा की जाती है लेकिन कोई कार्रवाई नहीं की गयी। 

पीठ ने केंद्र सरकार के वकील से कहा, ‘‘क्या आपने इन विधवाओं की हालत देखी है? हम क्या कर सकते हैं।’’जब केंद्र के वकील ने राज्यों द्वारा दिये गये हलफनामों पर जवाब देने के लिए कुछ वक्त मांगा तो पीठ ने कहा, ‘‘उनकी फिक्र कोई नहीं करना चाहता। जब उनके परिवार उनकी देखभाल नहीं करना चाहते तो भारत सरकार से उनकी देखरेख की अपेक्षा कैसे कर सकते हैं।’’ 

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Web Title: विधवाओं के कल्याण के लिए किसी को चिंता नहीं, ना परिवार और ना सरकार : सुप्रीम कोर्ट No one worries for the welfare of widows, neither family nor government: Supreme Court
Write a comment