1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. अरुणाचल प्रदेश: विधायक तिरोंग अबो समेत 11 लोगों का कत्ल, NSCN ने दिया वारदात को अंजाम

अरुणाचल प्रदेश: विधायक तिरोंग अबो समेत 11 लोगों का कत्ल, NSCN ने दिया वारदात को अंजाम

अरुणाचल प्रदेश के तिरप जिले में उग्रवादी संगठन एनएससीएन के संदिग्ध सदस्यों ने मंगलवार को वर्तमान विधायक और एनपीपी के एक विधानसभा प्रत्याशी तिरोंग अबो और 10 अन्य लोगों की मंगलवार को गोली मारकर हत्या कर दी।

Bhasha Bhasha
Updated on: May 21, 2019 20:45 IST
NPP mla tirong aboh and six others killed attack by NSCN...- India TV
NPP mla tirong aboh and six others killed attack by NSCN in arunachal pradesh

 

ईटानगर: अरुणाचल प्रदेश के तिरप जिले में उग्रवादी संगठन एनएससीएन के संदिग्ध सदस्यों ने मंगलवार को वर्तमान विधायक और एनपीपी के एक विधानसभा प्रत्याशी तिरोंग अबो और 10 अन्य लोगों की मंगलवार को गोली मारकर हत्या कर दी। मृतकों में विधायक का बेटा और सुरक्षाकर्मी भी शामिल हैं। एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने यह जानकारी दी। जिले की खोंसा पश्चिम विधानसभा सीट से मौजूदा विधायक अबो (41) इस सीट से फिर से चुनावी मैदान में थे।

शुरुआती खबरों में कहा गया था कि हमले में सात लोगों की मौत हुई है लेकिन पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) एस बी के सिंह ने बाद में बताया कि मृतकों की संख्या 11 है। सिंह ने बताया कि एनएससीएन के उग्रवादियों ने सुबह करीब साढे ग्यारह बजे जिले के 12 मील क्षेत्र के पास विधायक के वाहनों पर गोलियां उस समय चलाईं जब वह अपने परिजनों, तीन पुलिसकर्मियों तथा एक चुनावी एजेंट के साथ असम से अपने चुनावी क्षेत्र लौट रहे थे। 

डीजीपी ने कहा कि घटना में घायल एक सुरक्षाकर्मी को असम के डिब्रूगढ़ के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया है। उन्होंने कहा कि विधायक और दस अन्य की मौके पर ही मौत हो गई। गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने नई दिल्ली में इस घटना पर दुख जताया और इसे पूर्वोत्तर में शांति भंग करने का ‘‘क्रूर प्रयास’’ करार दिया। 

सिंह ने ट्वीट किया, ‘‘अरुणाचल प्रदेश के विधायक तिरोंग अबो जी, उनके परिवार तथा अन्य की हत्या से हैरान और दुखी हूं। यह पूर्वोत्तर में शांति और अमनचैन भंग करने का क्रूर प्रयास है। इस जघन्य अपराध के लिए जिम्मेदार लोगों को बख्शा नहीं जाएगा। मेरी संवेदना शोकसंतप्त परिवार के साथ हैं।’’ उधर, गृह राज्यमंत्री किरेन रिजिजू ने इस दर्दनाक हमले के लिए जिम्मेदार लोगों के खिलाफ कठोरतम कार्रवाई की मांग की।

घटना पर शोक जताते हुए मुख्यमंत्री पेमा खांडू ने कहा कि हमलावरों को मार गिराया जाएगा। उन्होंने कहा, ‘‘हमलावरों को मार गिराने के लिए कार्रवाई शुरू की जाएगी। मेरी ओर से भावभीनी श्रद्धांजलि। ईश्वर दिवंगत आत्माओं को शांति दे।’’ घटना की निंदा करते हुये एनपीपी अध्यक्ष और मेघालय के मुख्यमंत्री कोनराड पी संगमा ने इस मामले में प्रधानमंत्री कार्यालय और केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह के हस्तक्षेप की मांग की है। 

उन्होंने ट्वीट करके कहा कि एनपीपी इस घटना में अपने विधायक श्री तिरोंग अबो (अरूणाचल प्रदेश) और उनके परिजनों की मौत से स्तब्ध और दुखी है और वे इस दुर्दांत हमले की निंदा करते हैं और पीएमओ एवं राजनाथ सिंह से हमले की इस घटना के जिम्मेदार लोगों पर कार्रवाई करने की मांग करते हैं। इस बीच, अरुणाचल प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने राज्य में ‘‘अराजकता तथा अव्यवस्था’’ के लिए सत्तारूढ भाजपा को जिम्मेदार ठहराया।

पार्टी ने एक बयान में कहा, ‘‘अगर राज्य के निर्वाचित प्रतिनिधि केन्द्र तथा राज्य की वर्तमान सरकार में सुरक्षित नहीं हैं तो आम जनता सुरक्षित महसूस कैसे कर सकती है?’’ घटना की उच्चस्तरीय न्यायिक जांच की मांग करते हुए पार्टी ने कहा, ‘‘मुख्यमंत्री पेमा खांडू और उनकी भाजपा सरकार राज्य में अराजकता तथा अव्यवस्था के लिए जिम्मेदार है।’’ अबो 2014 में पीपुल्स पार्टी ऑफ अरुणाचल (पीपीए) की टिकट पर खोंसा पश्चिम सीट से निर्वाचित हुए थे। राज्य में विधानसभा के चुनाव लोकसभा के साथ संपन्न कराये गए थे।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment
yoga-day-2019