1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. दस महीने में 20.68 लाख लोग स्टैच्यू ऑफ यूनिटी देखने पहुंचे, पिछले बीस दिनों में उमड़ी भारी भीड़

दस महीने में 20.68 लाख लोग स्टैच्यू ऑफ यूनिटी देखने पहुंचे, पिछले बीस दिनों में उमड़ी भारी भीड़

पिछले दस महीनों में 20.68 लाख लोग दुनिया की सबसे ऊंची प्रतिमा का दीदार करने के लिए पहुंच चुके हैं, जिससे 53.49 करोड़ रुपये की आमदनी हुई है।

Nirnaya Kapoor Nirnaya Kapoor
Updated on: August 22, 2019 16:46 IST
Statue of Unity- India TV
Image Source : SOCIAL MEDIA दस महीने में 20.68 लाख लोग देखने पहुंचे स्टेच्यू ऑफ यूनिटी

गांधीनगर। सरदार सरोवर बांध पर बनाई गई विश्व की सबसे ऊंची प्रतिमा ‘स्टैच्यू ऑफ यूनिटी’ का पीएम नरेंद्र मोदी पिछले साल 31 अक्टूबर को उद्घाटन किया था, जिसके बाद सरदार पटेल की प्रतिमा को 1 नवंबर को पर्यटकों के लिए खोल दिया गया था। तब से लेकर अब तक 20.68 लाख लोग दुनिया की सबसे ऊंची प्रतिमा का दीदार करने के लिए पहुंच चुके हैं, जिससे 53.49 करोड़ रुपये की आमदनी हुई है। आने वाले दिनों में यहां दूसरे प्रोजेक्ट्स भी शुरू होने वाले हैं, जो पर्यटकों के लिए आकर्षण का केंद्र बनेंगे।

अगस्त के शुरुआती 20 दिनों में सवा लाख लोग पहुंचे

9 अगस्त को नर्मदा डैम में पानी ऐतिहासिक स्तर से ऊपर जाने पर उसके दरवाजे खोलने पड़े, जिसके बाद से पर्यटकों की भीड़ जुटने लगी। अगस्त महीने की 20 तारीख तक  स्टैच्यू ऑफ लिबर्टी और नर्मदा डैम को देखने के लिए सवा लाख से ज्यादा पर्यटक पहुंच चुके हैं, जिससे 20 दिनों में 2 करोड़ 97 लाख 31 हजार 140 रुपये की इनकम हुई।

रिवर राफ्टिंग का मजा ले सकेंगे पर्यटक

स्टेच्यू ऑफ यूनिटी को देखने के लिए देश-विदेश से पर्यटक आते हैं और इस इलाके में रिवर राफ्टिंग, फ्री वाई फाई सेवा, रिवर राफ्टिंग, क्रोकट्स गार्डन, बटरफ्लाय गार्डन, एकता नर्सरी, ज़रवानी इको टूरिज़म, जुरासिक पार्क, सफारी पार्क, चिल्ड्रन न्यूट्रिशन पार्क, मिरर मेज़, आरोग्य वन, एकता मोल, जेटी (बोटिंग ), डिजिटल फारेस्ट वर्ल्ड जैसे करीब 40 जितने प्रोजेक्ट शुरू होने वाले हैं, जिनका 31 अक्टूबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा लोकार्पण किया जायेगा।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment