1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. सोशल मीडिया पर इन एकाउंट से रहें बचकर, कश्मीर के बारे में फैला रहे हैं भ्रामक जानकारी

सोशल मीडिया पर इन एकाउंट से रहें बचकर, कश्मीर के बारे में फैला रहे हैं भ्रामक जानकारी

गृह सचिव राजीव गौबा ने जम्मू कश्मीर की परिस्थिति के बारे में भ्रामक जानकारी फैलाने वाले कुछ ट्विटर अकाउंट बंद करने की सिफारिश की गई है। इस संबंध में 7 ट्विटर अकाउंट की लिस्ट इंडिया टीवी के पास है जिन्हें बंद करने की सिफारिश की गई है।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Updated on: August 12, 2019 19:08 IST
Many twitter handle blocked after fake news campaign on...- India TV
Many twitter handle blocked after fake news campaign on Kashmir

नई दिल्ली: गृह सचिव राजीव गौबा ने जम्मू कश्मीर की परिस्थिति के बारे में भ्रामक जानकारी फैलाने वाले कुछ ट्विटर अकाउंट बंद करने की सिफारिश की गई है। इस संबंध में 7 ट्विटर अकाउंट की लिस्ट इंडिया टीवी के पास है जिन्हें बंद करने की सिफारिश की गई है। हाल ही में जम्मू कश्मीर में सरकार द्वार बड़े किए गए है जिनमें जम्मू कश्मीर पुनर्गठन बिल और वहां से धारा 370 हटाना शामिल है। इसके बाद सरकार घाटी में हालात पर कड़ी नजर रखे हुए है कि भ्रामक जानकारियों के कारण हालात ना बिगड़े जिसके तहत कुछ अकाउंट की लिस्ट जारी की गई है। जो घाटी में वहां की परिस्थितियों के बारे में भड़काऊ और गलत जानकारी साझा कर रहे थे। जिन्हें अब बंद कर दिया जाएगा।

ट्वविटर अकाउंट की लिस्ट

  1. @kashmir787 Voice of Kashmir
  2. @Red4Kashmir MadihaShakil Khan
  3. @arsched Arshad Sharif
  4. @mscully94 Mary Scully
  5. @sageelaniii Syed Ali Geelani
  6. @sadaf2k19
  7. @RiazKha61370907 RiazKha723

इसके अलावा सोमवार को राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल ने घाटी की सुरक्षा स्थिति का जायजा लेने के लिए शहर और दक्षिण कश्मीर के इलाकों का सोमवार को हवाई सर्वेक्षण किया। जम्मू कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 के ज्यादातर प्रावधानों को हटाये जाने संबंधी सरकार के फैसले के बाद लगाई गई कड़ी पाबंदियों के बीच घाटी में आज ईद-उल-अज़हा का त्योहार मनाया जा रहा है। अधिकारियों ने बताया कि पुलिस प्रमुख दिलबाग सिंह और सैन्य कमांडरों ने भी कश्मीर घाटी के विभिन्न भागों का अलग-अलग हवाई सर्वेक्षण किया। उन्होंने बताया कि अधिकारियों ने स्थिति को बिल्कुल ठीक पाया। उन्होंने बताया कि पूरे जम्मू कश्मीर में ईद की नमाज शांतिपूर्ण ढंग से अदा की गई। 

प्रशासन ने एक बयान में कहा कि श्रीनगर में आतंकवादियों और असामाजिक तत्वों द्वारा शांति व्यवस्था को बाधित करने की आशंका को ध्यान में रखते हुए संवेदनशील इलाकों में जरूरी प्रतिबंध लगाये गये हैं। स्थानीय मस्जिदों में बड़ी संख्या में लोग नमाज अदा करने पहुंचे और उन्होंने एक-दूसरे को ईद की बधाई दी। बयान के अनुसार कुछ स्थानों पर बड़ी संख्या में लोग एकत्र हुए। बांदीपोरा में (दार उल उलूम रहिमिया 5000, जामिया मस्जिद 2000), बारामुला (10,000), कुपवाड़ा (ईदगाह 3500), सोपोर (1500), कुलगाम (काजीगुंड 5500, कैमोह 6000), शोपियां (3000), पुलवामा (1800), अवंतीपोरा (2500), अनंतनाग (अचबल 3000), गंदेरबल (7000 से अधिक), बडगाम (चरार-ए-शरीफ 5000, मगाम 8000) और श्रीनगर की स्थानीय मस्जिदों में सैंकड़ों लोग एकत्र हुए। 

जम्मू में ईदगाह में पांच हजार से अधिक लोगों ने नमाज अदा की। हालांकि बयान में कहा गया है कि कुछ स्थानों पर विरोध की मामूली घटनाएं हुई। इसमें कहा गया है कि मीडिया में सुरक्षा बलों द्वारा गोलीबारी और कुछ लोगों के हताहत होने की खबरें है। बयान में कहा गया है, ‘‘इसे पूरी तरह से खारिज किया जाता है कि राज्य में गोलीबारी की कोई घटना हुई है। सुरक्षा बलों ने न तो कोई गोली चलाई है और न ही कोई हताहत हुआ है।’’

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment