1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. RSS नेता और उसके सरपंच भाई की हत्या, 15 लोगों ने दिया वारदात को अंजाम

RSS नेता और उसके सरपंच भाई की हत्या, 15 लोगों ने दिया वारदात को अंजाम

जिला मुख्यालय से करीब 35 किलोमीटर दूर कान्हीवाड़ा थाना अंतर्गत मेहरापिपरिया गांव में राजनीतिक रंजिश के चलते धारदार हथियारों से 15 लोगों द्वारा घात लगाकर किए गए हमले में स्थानीय आरएसएस नेता एवं उसके सरपंच भाई की मौत हो गई, जबकि स्थानीय आरएसएस कार्यकर्

India TV News Desk India TV News Desk
Updated on: August 21, 2017 22:20 IST
murder- India TV
murder

सिवनी (मप्र): जिला मुख्यालय से करीब 35 किलोमीटर दूर कान्हीवाड़ा थाना अंतर्गत मेहरापिपरिया गांव में राजनीतिक रंजिश के चलते धारदार हथियारों से 15 लोगों द्वारा घात लगाकर किए गए हमले में स्थानीय आरएसएस नेता एवं उसके सरपंच भाई की मौत हो गई, जबकि स्थानीय आरएसएस कार्यकर्ता सहित 2 लोग गंभीर रूप से घायल हो गये।

सिवनी के पुलिस अधीक्षक तरूण नायक ने आज यहां बताया, पुरानी रंजिश के चलते मुख्य आरोपी महानंद ने अपने 14 साथियों के साथ मिलकर मेहरापिपरिया गांव के बस स्टैण्ड चौराहे में बैठे दूसरे पक्ष के चार लोगों पर कल रात घात लगाकर धारदार हथियारों से हमला कर दिया। इस हमले में 2 लोगों की मौत हुई है और दो अन्य घायल हुए हैं। दोनों मृतक एवं दोनों घायल एक ही पक्ष के थे।

उन्होंने कहा कि मृतकों की पहचान मेहरापिपरिया गांव के सरपंच व स्थानीय भाजपा नेता अशोक पटले (40) और उसके छोटे भाई आरएसएस के जिला शारीरिक प्रमुख ज्ञानी पटले (38) के रूप में की गई है। रविवार रात नागपुर मेडिकल ले जाते वक्त इन दोनों ने दम तोड़ा। नायक ने बताया कि इस हमले में आरएसएस के सह जिला शारीरिक प्रमुख राकेश कटरे व एक अन्य फूलचंद पटले गंभीर रूप से घायल भी हुए हैं, जिन्हें जिला अस्पताल में प्राथमिक उपचार देने के बाद नागपुर भेज दिया गया, जहां उनका उपचार चल रहा है।

उन्होंने कहा कि वारदात को अंजाम देने के बाद मुख्य आरोपी महानंद ने अपनी बंदूक से दो राउंड हवाई फायर भी किए और अपने साथियों के साथ मौके से फरार हो गया। नायक ने बताया कि पुरानी रंजिश के चलते गांव के महानंद पक्ष में शामिल 15 लोगों ने इस वारदात को अंजाम दिया है।

उन्होंने बताया कि मुख्य आरोपी महानंद पटले गांव की जल उपभोक्ता संस्था का अध्यक्ष है। उसका चार महीने पूर्व सरपंच अशोक पटले से विवाद हुआ था। इस दौरान अशोक ने अपने भाई ज्ञानी पटले व अन्य साथियों की मदद से महानंद पटले पर प्राणघातक हमला किया था। इसका बदला लेने के लिए महानंद ने 14 साथियों के साथ मिलकर तलवार, बल्लम, हथोड़ा, रॉड समेत अन्य धारदार हथियारों से अशोक पटले एवं उसके साथियों पर कल रात हमला किया।

नायक ने बताया कि आरोपी महानंद पटले ने धारदार हथियार से हमला कर चारों को लहुलुहान कर दिया। इस दौरान बचाव के लिए एकत्रित हुई भीड को तितर-बितर करने के लिए महानंद ने अपने बंदूक से दो राउंड हवाई फायर भी किए और अन्य आरोपियों समेत मौके से फरार हो गया।

संघ के सिवनी नगर कार्यवाहक विनोद राहंगडाले ने बताया कि मृतक ज्ञानी पटले वर्तमान में आरएसएस के जिला शारीरिक प्रमुख के रूप में संघ को अपनी सेवाएं दे रहे थे। वहीं, गंभीर रूप से घायल राकेश कटरे भी आरएसएस का सह जिला शारीरिक प्रमुख है। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि पुलिस ने फरार मुख्य आरोपी महानंद पटले पर 20,000 रूपए व अन्य 14 आरोपियों पर 10-10 हजार रूपए का नकद ईनाम घोषित किया है।

उन्होंने कहा कि वारदात को अंजाम देने वाले सभी आरोपियों की सरगर्मी से तलाश की जा रही है। नायक ने बताया कि आरोपियों के खिलाफ कान्हीवाड़ा थाना पुलिस ने भादंवि की धाराओं 147, 148, 149, 307, 302 एवं 294 के साथ-साथ आर्म्स एक्ट के तहत मामला दर्ज कर जांच कर रही है। उन्होंने कहा कि मेहरापिपरिया गांव में एहतियात के तौर पर पुलिस बल तैनात कर दिया है।

नायक ने बताया कि पोस्टमॉर्टम के बाद मृतकों के शव परिजनों को सौंप दिए गए हैं। आज दोपहर मेहरापिपरिया में पुलिस अधिकारियों और आरएसएस कार्यकर्ताओं की मौजूदगी में मृतकों का अंतिम संस्कार कर दिया गया है।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment