1. You Are At:
  2. होम
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. मध्य प्रदेश: मंदसौर में बच्ची से दरिंदगी की सारी हदें पार, दहल गया डॉक्टरों का भी कलेजा

मध्य प्रदेश: मंदसौर में बच्ची से दरिंदगी की सारी हदें पार, दहल गया डॉक्टरों का भी कलेजा

मध्य प्रदेश के मंदसौर में एक स्कूली बच्ची के साथ रेप के दौरान हैवानियत की सारी हदें पार कर दी गईं। रेप के दौरान इस 7 वर्षीय स्कूली बच्ची के साथ हुई वहशत के खुलासे के बाद लोगों में इस घटना को लेकर आक्रोश बढ़ता जा रहा है...

Edited by: IndiaTV Hindi Desk [Updated:29 Jun 2018, 6:56 PM IST]
Madhya Pradesh: Doctors shocked at Mandsaur rape victim’s injuries | PTI Representational- India TV
Madhya Pradesh: Doctors shocked at Mandsaur rape victim’s injuries | PTI Representational

इंदौर: मध्य प्रदेश के मंदसौर में एक स्कूली बच्ची के साथ रेप के दौरान हैवानियत की सारी हदें पार कर दी गईं। रेप के दौरान इस 7 वर्षीय स्कूली बच्ची के साथ हुई वहशत के खुलासे के बाद लोगों में इस घटना को लेकर आक्रोश बढ़ता जा रहा है। मामले में गिरफ्तार 20 वर्षीय युवक इरफान उर्फ भय्यू को फांसी दिए जाने की मांग जोर पकड़ रही है। कक्षा 3 में पढ़ने वाली पीड़ित बच्ची इंदौर के शासकीय महाराजा यशवंतराव चिकित्सालय (MYH) के बाल शल्य चिकित्सा विभाग के वॉर्ड में भर्ती है। वहीं, शहर के मुस्लिम समुदाय के नेताओं ने आरोप को फांसी की सजा देने की मांग की है।

ऐसी दरिंदगी कि डॉक्टर भी दहल गए

MYH में बच्ची का इलाज कर रहे डॉक्टर भी उसके साथ हुई दरिंदगी के निशान देखकर दहल गए हैं। डॉक्टरों के मुताबिक, बच्ची के साथ हैवानियत करने वाले शख्स ने उसके सिर, चेहरे और गर्दन पर धारदार हथियार से हमला किया था। इसके साथ ही बच्ची के नाजुक अंगों को भीषण चोट पहुंचाई थी जिसे मेडिकल जुबान में ‘फोर्थ डिग्री पेरिनियल टियर’ कहते हैं। उसके चेहरे और नाक पर भी जगह-जगह दांत से काटने के निशान हैं। डॉक्टरों ने बताया कि यौन हमले में बच्ची के बुरी तरह क्षतिग्रस्त नाजुक अंगों को दुरुस्त करने के लिए उसकी अलग-अलग सर्जरी की गई हैं। डॉक्टरों के मुताबिक बच्ची की हालत फिलहाल खतरे से बाहर है और उसकी सेहत पर नजर रखी जा रही है। उन्होंने बताया कि बच्ची को अस्पतला से छुट्टी मिलने में कम से कम 2 सप्ताह लग सकते हैं। 

मुस्लिम समुदाय के नेताओं ने कहा- आरोपी को मिले फांसी
बच्ची के साथ हुई इस दरिंदगी के विरोध में मुस्लिम समुदाय के लोग भी गुरुवार को सड़कों पर उतर आए। समुदाय के नेताओं ने कहा कि ऐसे वहशी इंसान के लिए समाज में कोई जगह नहीं है और दोषी को जल्द से जल्द फांसी मिलनी चाहिए। वक्फ अंजुमन इस्लाम कमिटी सदर मोहम्मद यूनुस शेख ने इस बारे में बात करते हुए कहा कि इस तरह का जघन्य अपराध माफी के लायक नहीं है। उन्होंने कहा कि आरोपी युवक की लाश को दफनाने के लिए शहर के किसी भी कब्रिस्तान में जगह नहीं मिलेगी।

कमलनाथ की मांग, बच्ची को बेहतर इलाज मिले
इस बीच, मध्य प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने ट्वीट के जरिए मांग की है कि मंदसौर में दरिंदगी की शिकार बच्ची को बेहतर इलाज के लिए किसी महानगर के बड़े अस्पताल में भर्ती कराया जाए और इसका पूरा खर्च प्रदेश सरकार उठाए। पीड़ित बच्ची के हाल-चाल जानने के लिए राजनेताओं के MYH पहुंचने का सिलसिला भी जारी है। मंदसौर लोकसभा सीट से भाजपा सांसद सुधीर गुप्ता ने स्कूली छात्रा से बलात्कार की घटना पर नाराजगी जताते हुए MYH में कहा कि मासूम बच्चियों से बलात्कार करने वाले दरिंदों के लिए फांसी की सजा भी कम है। उन्होंने कहा कि बच्ची से बलात्कार और उस पर जानलेवा हमले का मुकदमा फास्ट ट्रैक अदालत में चलाया जाएगा, ताकि आरोपी को जल्द से जल्द सजा दिलवाई जा सके।

भाजपा विधायक ने कहा- बीच चौराहे पर दी जाए दोषी को फांसी
मंदसौर की वरिष्ठ कांग्रेस नेता मीनाक्षी नटराजन ने कहा कि संदेह है कि स्कूली बच्ची के साथ गैंगरेप किया गया था, जबकि पुलिस ने मामले में अभी एक ही आरोपी को गिरफ्तार किया है। उन्होंने मांग की कि मामले की गहराई से जांच की जानी चाहिए और इसमें शामिल लोगों के खिलाफ कड़े कानूनी कदम उठाए जाने चाहिए। इंदौर की भाजपा विधायक उषा ठाकुर ने कहा कि ‘मंदसौर में स्कूली बच्ची से किसी वहशी की तरह बर्ताव करने वाले बलात्कारी हमलावर को बीच चौराहे पर फांसी दी जानी चाहिए और उसका अंतिम संस्कार नहीं किया जाना चाहिए।’

26 जून को लापता हुई थी बच्ची
आपको बता दें कि मंदसौर में बच्ची 26 जून की शाम स्कूल की छुट्टी के बाद लापता हो गई थी। वह 27 जून को स्कूल के पास की झाड़ियों में लहूलुहान हालत में मिली थी। मंदसौर पुलिस ने मामले में इरफान मेव उर्फ भय्यू (20) को गिरफ्तार किया है। मंदसौर के कोतवाली थाने में उसका पुराना आपराधिक रिकॉर्ड है। बच्ची से बलात्कार के मांमले में मंदसौर-नीमच क्षेत्र में लोगों का आक्रोश उफान पर है। वे आरोपी को फांसी दिए जाने की मांग को लेकर पिछले 3 दिन से लगातार प्रदर्शन कर रहे हैं।

देखें वीडियो: बलात्कारी धरती पर बोझ, जीने का अधिकार नहीं- शिवराज सिंह चौहान

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Web Title: Madhya Pradesh: Doctors shocked at Mandsaur rape victim’s injuries
Write a comment
the-accidental-pm-300x100