1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. आम आदमी पार्टी नेता कैलाश गहलोत की बढ़ीं मुश्किलें, 120 करोड़ की टैक्स चोरी का आरोप

आम आदमी पार्टी नेता कैलाश गहलोत की बढ़ीं मुश्किलें, 120 करोड़ की टैक्स चोरी का आरोप

आयकर विभाग ने शनिवार को भी दिल्ली सरकार में कैबिनेट मंत्री कैलाश गहलोत के परिसरों की तलाशी ली। विभाग ने कहा कि तलाशी में मिले कागजातों से जाहिर होता है कि मंत्री ने 120 करोड़ रुपये की कर चोरी की है।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Updated on: October 13, 2018 21:13 IST
Kailash Gahlot- India TV
IT department finds evidence of Rs 120 crore tax evasion by Delhi Minister Kailash Gahlot

नई दिल्ली: आयकर विभाग ने शनिवार को भी दिल्ली सरकार में कैबिनेट मंत्री कैलाश गहलोत के परिसरों की तलाशी ली। विभाग ने कहा कि तलाशी में मिले कागजातों से जाहिर होता है कि मंत्री ने 120 करोड़ रुपये की कर चोरी की है। आयकर विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने नाम उजागर नहीं करने की शर्त पर आईएएनएस को बताया, "हमें 120 करोड़ रुपये कर चोरी के साक्ष्य मिले हैं।" अधिकारी ने बताया, "गहलोत द्वारा कर चोरी की रकम एक अनुमानित आंकड़ा है।" 

उन्होंने बताया कि मंत्री के परिसरों से बरामद दस्तावेजों से जाहिर होता है कि दफ्तरियों, चपरासियों और अन्य कर्मचारियों को कर्ज दिया गया है और अनेक फर्जी कंपनियों की हिस्सेदारी 70 करोड़ रुपये है। अधिकारी ने बताया, "हमें कर्मचारियों के नाम कई बेनामी जायदाद का पता चला है और एक ड्राइवर के नाम एक विशाल भूखंड है।" अधिकारी ने बताया कि आयकर विभाग को गहलोत द्वारा दुबई में जायदाद में निवेश करने का सबूत मिला है। 

उन्होंने कहा, "एक फर्जी कंपनी के निदेशक से कर्ज और करीब 20 करोड़ रुपये की प्रविष्टियों का पता चला है। इसके अलावा सामान्य वकालतनामा (जनरल पावर ऑफ अटॉर्नी) के माध्यम में जायदाद में बड़े पैमाने पर निवेश के साक्ष्य मिले हैं।" हालांकि विभाग के प्रवक्ता से संपर्क करने पर उन्होंने कुछ टिप्पणी करने से मना कर दिया। आयकर विभाग के अधिकारियों ने बुधवार और गुरुवार को गहलोत और उनके परिवार के सदस्यों के वसंतकुज, पश्चिम विहार, नजफगढ़ और गुरुग्राम स्थित 16 आवासीय परिसरों और व्यावसायिक प्रतिष्ठानों की तलाशी ली। गहलोत परिवहन, कानून, राजस्व, सूचना प्रौद्योगिकी और प्रशासनिक सुधार विभाग के मंत्री हैं। 

आयकर विभाग के प्रवक्ता सुभि अहलूवालिया ने आईएएनएस को बुधवार को बताया कि दो कंपनियों-ब्रिस्क इन्फ्रास्ट्रक्चर एंड डेवलपर प्राइवेट लिमिटेड और कॉरपोरेट इंटरनेशनल फाइनेंशियल सर्विसेस प्राइवेट लिमिटेड से जुड़े गहलोत और उनके परिवार के सदस्यों के परिसरों की तलाशी ली गई। गहलोत के आवासीय और व्यावसायिक परिसरों में आयकर विभाग की छापेमारी के बाद दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से माफी मांगने को कहा। केजरीवाल ने बुधवार को हिंदी में ट्वीट के जरिए कहा, "नीरव मोदी, (विजय) माल्या से दोस्ती और हमारे ऊपर छापा? मोदीजी, आपने मेरे ऊपर, सत्येंद्र (जैन), मनीष (सिसौदिया) पर छापे डलवाए। उससे क्या हुआ? क्या आपको कुछ मिला? दिल्ली की चुनी हुई सरकार पर अगली छापेमारी करने से पहले दिल्ली से माफी मांगिए।"

यह भी देखें

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment