1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. एएन-32 विमान हादसे की जांच कर सुनिश्चित करेंगे ऐसा फिर न हो : वायुसेना प्रमुख

एएन-32 विमान हादसे की जांच कर सुनिश्चित करेंगे ऐसा फिर न हो : वायुसेना प्रमुख

वायुसेना प्रमुख बी एस धनोआ ने शनिवार को कहा कि भारतीय वायु सेना अरुणाचल प्रदेश में हाल में दुर्घटनाग्रस्त हुए एएन-32 विमान हादसे के कारणों का पता लगाकर यह सुनिश्चित करेगी कि ऐसे हादसे फिर नहीं हों। 

Bhasha Bhasha
Published on: June 15, 2019 20:36 IST
bs dhanoa- India TV
Image Source : PTI एएन-32 विमान हादसे की जांच कर सुनिश्चित करेंगे ऐसा फिर न हो : वायुसेना प्रमुख  (फाइल फोटो)

हैदराबाद। वायुसेना प्रमुख बी एस धनोआ ने शनिवार को कहा कि भारतीय वायु सेना अरुणाचल प्रदेश में हाल में दुर्घटनाग्रस्त हुए एएन-32 विमान हादसे के कारणों का पता लगाकर यह सुनिश्चित करेगी कि ऐसे हादसे फिर नहीं हों।  उनकी यह टिप्पणी अरुणाचल प्रदेश के दूर-दराज के इलाके में वायुसेना के विमान का मलबा मिलने के कुछ दिन बाद आई है। हादसे के वक्त विमान में 13 लोग सवार थे और सभी की मौत हो गई।

उन्होंने यहां के पास डूंडीगल में वायुसेना अकादमी में संयुक्त स्नातक परेड से इतर संवाददाताओं से कहा, “हमें फ्लाइट डाटा रिकॉर्डर और कॉकपिट वॉयस रिकॉर्डर मिल गए हैं...हम इस बात की विस्तृत जांच करेंगे कि क्या हुआ और यह सुनिश्चित करेंगे कि ऐसा दुबारा नहीं हो।”

वह अरुणाचल प्रदेश में एएन-32 परिवहन विमान हादसे से संबंधित एक सवाल का जवाब दे रहे थे। उन्होंने दावा किया कि अरुणाचल प्रदेश में, इलाके बेहद दुर्गम हैं और वहां अधिकतर बादल छाए रहते हैं, जब आप उस क्षेत्र में बादलों वाले ऐसे मौसम में उड़ान भरते हैं, तो वहां दुर्घटनाओं की आशंका बनी रहती है। उन्होंने कहा, ‘‘...यह समीक्षा करने की जरूरत है कि क्या हुआ और हमें ऐसे हादसे का फिर सामना न करना पड़े।’’

रूसी मूल का यह विमान तीन जून की दोपहर असम के जोरहाट से अरुणाचल प्रदेश के मेंचुका के लिये उड़ान भरने के करीब 33 मिनट बाद लापता हो गया था। करीब आठ दिनों तक चलाए गए व्यापक तलाशी अभियान के बाद वायुसेना के एक हेलीकॉप्टर द्वारा सबसे पहले सियांग और शी-योमी जिलों की सीमा पर 12 हजार फुट की ऊंचाई से मंगलवार को विमान का मलबा देखा गया। विमान में सवार सभी 13 लोगों की जान चली गई थी। 

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment