1. You Are At:
  2. होम
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. केरल, पुडुचेरी में भारी बारिश की संभावना, कर्नाटक के 12 जिलों में अलर्ट

केरल, पुडुचेरी में भारी बारिश की संभावना, कर्नाटक के 12 जिलों में अलर्ट

आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के अधिकारियों ने बृहस्पतिवार को आपदा प्रबंधन की तैयारी की समीक्षा करते हुए संबंधित अधिकारियों को अनुमान को ध्यान में रखकर बांधों में पानी के स्तर की निगरानी करने को कहा।

Edited by: IndiaTV Hindi Desk [Published on:05 Oct 2018, 9:23 AM IST]
केरल, पुडुचेरी में भारी बारिश की संभावना, कर्नाटक के 12 जिलों में अलर्ट- India TV
केरल, पुडुचेरी में भारी बारिश की संभावना, कर्नाटक के 12 जिलों में अलर्ट

तिरुवनंतपुरम: अगस्त में दक्षिण पश्चिम मानसून से तबाह हो चुके केरल में दक्षिणपूर्व अरब सागर में निम्न दबाव का क्षेत्र बनने की संभावना से और वर्षा होने की आशंका है। इसके मद्देनजर राज्य सरकार ने आपदा प्रबंधन की तैयारी बढ़ा दी। केरल के पड़ोसी राज्य तमिलनाडु ने भारतीय मौसम विभाग (आईएमडी) के इस अनुमान के बाद कि राज्य में सात अक्टूबर को ज्यादातर स्थानों पर मूसलाधार वर्षा और कुछ स्थानों भयंकर वर्षा हो सकती है कई कदम उठाए हैं। भारतीय मौसम विभाग के एक बुलेटिन में कहा गया है कि निम्न दबाव का क्षेत्र मजबूत होकर तेज चक्रवाती तूफान का रूप ले सकता है और केरल के कई हिस्सों में मूसलाधार से भयंकर तक वर्षा हो सकती है।

आईएमडी की भविष्यवाणी के मद्देनजर इडुक्की और मलप्पुरम जिलों में रेड अलर्ट जारी किया है जहां रविवार को भारी वर्षा होने की संभावना है। बुलेटिन के अनुसार दक्षिणपूर्व अरब सागर और उसके आसपास लक्षद्वीप एवं मालदीव के क्षेत्र में फैला चक्रवात बृहस्पतिवार सुबह को मध्य क्षोभमंडल स्तर तक पहुंच गया और उसके प्रभाव में छह अक्टूबर तक दक्षिण पूर्व सागर में निम्न दबाव का क्षेत्र बनने की संभावना है। बुलेटिन में कहा गया है, ‘‘निम्न दबाव के क्षेत्र के और संकेंद्रित होने और 36 घंटों में उत्तर पश्चिम की दिशा में बढ़कर चक्रवाती तूफान का रुप लेने एवं ओमान की तट की ओर बढ़ने की संभावना है।’’

आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के अधिकारियों ने बृहस्पतिवार को आपदा प्रबंधन की तैयारी की समीक्षा करते हुए संबंधित अधिकारियों को अनुमान को ध्यान में रखकर बांधों में पानी के स्तर की निगरानी करने को कहा। त्रिचूर और पलक्कड़ जिलों में बांधों के दरवाजे अतिरिक्त पानी निकालने के लिए आज शाम खोल दिये गये। समुद्र में स्थिति शनिवार से बहुत खराब रहने की संभावना है ऐसे में मछुआरों को गहराई में नहीं जाने की सलाह दी गयी है।

केरल में अगस्त में दक्षिण पश्चिम मानसून ने कहर बरपाया था। यह 100 सालों में सबसे बुरी स्थिति थी। कई जिलों में वर्षा और बाढ़ से 493 लोगों की जान चली गयी थी। चेन्नई में अधिकारियों ने बताया कि तमिलनाडु के जिलाधिकारियों को एहतियाती कदम उठाने का निर्देश दिया गया है। तैयारी की समीक्षा के लिए बैठकें पहले ही बुलायी जा चुकी हैं। चेन्नई के मौसम उपमहानिदेशक एस बालचंद्रन ने चेन्नई में संवाददाताओं को बताया कि अगले तीन दिनों में तमिलनाडु और पुडुचेरी में वर्षा होने की संभावना है। एक और दो स्थानों पर भारी वर्षा हो सकती है। पिछले 24 घंटे में भी तमिलनाडु और पुडुचेरी में वर्षा हो चुकी है।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Web Title: केरल, पुडुचेरी में भारी बारिश की संभावना, कर्नाटक के 12 जिलों में अलर्ट - Heavy rain likely in Puducherry and Tamil Nadu on October 7, red alert issued
Write a comment