1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. जम्मू-कश्मीर में सोमवार से खुलेंगे सभी स्कूल-कॉलेज, सरकारी दफ्तर में कामकाज शुरू

जम्मू-कश्मीर में सोमवार से खुलेंगे सभी स्कूल-कॉलेज, सरकारी दफ्तर में कामकाज शुरू

जम्मू-कश्मीर सरकार का सचिवालय और अन्य कार्यालय आज से काम करना आरंभ कर देंगे जबकि आमजन पर लगे प्रतिबंधों में ढील जुम्मे की नमाज के बाद की स्थिति पर निर्भर करेगी।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Updated on: August 16, 2019 12:35 IST
जम्मू-कश्मीर में आज से खुलेंगे सरकारी कार्यालय, जुम्मे की नमाज के बाद मिल सकती है ढील- India TV
जम्मू-कश्मीर में आज से खुलेंगे सरकारी कार्यालय, जुम्मे की नमाज के बाद मिल सकती है ढील

नई दिल्ली: जम्मू-कश्मीर सरकार का सचिवालय और अन्य कार्यालय सोमवार से काम करना आरंभ कर देंगे जबकि आमजन पर लगे प्रतिबंधों में ढील जुम्मे की नमाज के बाद की स्थिति पर निर्भर करेगी। खबर के मुताबिक राज्य प्रशासन ने प्रदेश के सभी स्कूलों-कॉलेजों और सरकारी दफ्तरों को सोमवार से खोलने का निर्देश जारी कर दिया है। वहीं, सूत्रों के अनुसार सरकारी कार्यालय और सचिवालय आज से कामकाज शुरू कर देंगे। राजभवन के एक प्रवक्ता ने बताया कि सरकार जुम्मे की नमाज के दौरान हालात पर नजर रखेगी और इसी के आधार पर आम लोगों के लिए भी प्रतिबंधों में ढील देने पर विचार किया जाएगा।

Related Stories

बता दें कि कश्मीर घाटी में स्वतंत्रता दिवस का उत्सव शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न हुआ और इस दौरान किसी भी अप्रिय घटना की खबर नहीं मिली। जम्मू-कश्मीर प्रशासन के मुख्य सचिव रोहित कंसल ने बताया कि स्वतंत्रता दिवस का उत्सव शांतिपूर्ण रहा और घाटी में कोई अप्रिय घटना दर्ज नहीं की गई।

कंसल ने बताया कि श्रीनगर पहले से ही रात्रिकालीन सेवा देने की क्षमता रखने वाला अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डा है और यह खुशी की बात है कि बृहस्पतिवार को ही रात्रिकालीन सेवा की शुरुआत भी हो गई। 

प्रशासन की ओर से जारी प्रेस विज्ञप्ति के मुताबिक बडगाम, पुलवामा, अवंतिपोरा, त्राल, गंदेरबल, कुलगाम, बारामुला, शोपियां, अनंतनाग और बांदीपोरा में स्वतंत्रता दिवस का उत्सव मनाया गया। जम्मू कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने कहा है कि सशस्त्र बलों की सतत कार्रवाई से आतंकवादियों ने हार मान ली है। 

जम्मू कश्मीर का विशेष दर्जा समाप्त करने के बाद यह पहला स्वतंत्रता दिवस है। मलिक ने गुरुवार को श्रीनगर के शेर-ए-कश्मीर स्टेडियम में तिरंगा फहराया। ध्वजारोहण के बाद उन्होंने अर्धसैनिक बलों और जम्मू-कश्मीर पुलिस की परेड का निरीक्षण किया। बाद में कार्यक्रम को संबोधित करते हुए राज्यपाल ने कहा कि केंद्र के फैसले के बाद लोगों को अपनी पहचान को लेकर चिंतित होने की जरूरत नहीं है।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment