1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. EVM की सुरक्षा मामले में संस्थागत विश्वसनीयता सुनिश्चित करना EC की जिम्मेदारी, अटकलों पर लगाए विराम: प्रणव मुखर्जी

EVM की सुरक्षा मामले में संस्थागत विश्वसनीयता सुनिश्चित करना EC की जिम्मेदारी, अटकलों पर विराम लगाना चाहिए: प्रणव मुखर्जी

पूर्व राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी ने विपक्षी दलों के EVM से छेड़छाड़ के आरोपों के बीच एक बयान जारी कर चुनाय आयोग की जिम्मेदारियों का जिक्र किया।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Updated on: May 21, 2019 19:08 IST
Pranab Mukherjee- India TV
Image Source : PTI Former president Pranab Mukherjee

नई दिल्ली: पूर्व राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी ने विपक्षी दलों के EVM से छेड़छाड़ के आरोपों के बीच एक बयान जारी कर चुनाय आयोग की जिम्मेदारियों का जिक्र किया। उन्होंने कहा कि 'EVM की सुरक्षा के मामले में संस्थागत विश्वसनीयता सुनिश्चित करना चुनाव आयोग की जिम्मेदारी है और चुनाव आयोग को EVM से छेड़छाड़ की अफवाहों को रोकने के लिए जरूरी कदम उठाने चाहिए।' बता दें कि चुनावों के परिणाम आने से पहले एक बार फिर से विपक्षी दलों ने चुनाव आयोग और EVM पर सवाल उठाने शुरू कर दिए हैं और इस सबसे बीच ही पूर्व राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी ने ये बयान दिया है।

वहीं, दूसरी ओर से चुनाव आयोग ने भी इस मामले में बयान जारी कर अपना पक्ष रखा है। चुनाव आयोग ने कहा कि 'EVM की कथित आवाजाही और स्ट्रांगरूम में EVM बदलने जाने की खबरें गलत हैं। जो भी इससे संबंधित तस्वीरें मीडिया में वायरल हो रही हैं वह पूरी तरह से गलत हैं। उनमें दिख रही किसी भी EVM को वोटिंग के लिए इस्तेमाल नहीं किया गया था।'

बता दें कि पूर्व राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी ने इससे पहले सोमवार को चुनाव आयोग की प्रशंसा करते हुए संस्था द्वारा 2019 लोकसभा चुनाव बखूबी करवाने की बात कही थी। राजधानी नई दिल्ली में एक कार्यक्रम में उन्होंने कहा था, “चुनाव आयोग के पहले कमिश्नर सुकुमार सेन से लेकर वर्तमान चुनाव आयुक्त तक, सभी ने बेहतरीन तरीके से अपने काम को अंजाम दिया”।

उन्होंने कहा था कि कार्यपालिका तीनों आयुक्तों को नियुक्त करती है और तीनों ही बेहतरीन तरीके से अपना काम कर रहे हैं। प्रणब मुखर्जी ने कहा, “आप उनकी आलोचना नहीं कर सकते, यह चुनाव सही तरह से करवाया गया”। पूर्व राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी ने कहा कि अगर लोकतंत्र सफल हुआ है तो इसमें पहले चुनाव आयुक्त से लेकर वर्तमान चुनाव आयुक्त की बड़ी भूमिका है।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment