1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. दिल्ली: आज खतरे का स्‍तर पार कर सकती है यमुना, सरकार ने दिए निचले इलाकों में रहने वाले लोगों को निकालने के निर्देश

दिल्ली: आज खतरे का स्‍तर पार कर सकती है यमुना, सरकार ने दिए निचले इलाकों में रहने वाले लोगों को निकालने के निर्देश

दिल्ली सरकार ने रविवार को राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र के लिए बाढ़ की चेतावनी जारी की है और निचले इलाकों में रहने वाले लोगों को वहां से सुरक्षित स्थान पर जाने के लिए कहा है क्योंकि यमुना नदी में जलस्तर के खतरे के निशान को पार करने की संभावना है।

Bhasha Bhasha
Updated on: August 19, 2019 6:44 IST
Waterlevel rises in yamuna- India TV
Image Source : TWITTER यमुना में बढ़ा जलस्तर, सरकार ने दिए निचले इलाकों में रहने वाले लोगों को निकालने के निर्देश

नई दिल्ली। दिल्ली सरकार ने रविवार को राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र के लिए बाढ़ की चेतावनी जारी की है और निचले इलाकों में रहने वाले लोगों को वहां से सुरक्षित स्थान पर जाने के लिए कहा है क्योंकि यमुना नदी में जलस्तर के खतरे के निशान को पार करने की संभावना है। अधिकारियों ने इसकी जानकारी दी।

रविवार शाम युमना नदी में जलस्तर 203.37 मीटर तक पहुंचा

अधिकारियों ने बताया कि रविवार की शाम युमना नदी में जलस्तर 203.37 मीटर तक पहुंच गया है और इसके सोमवार तक इसके बढ़ कर 207 मीटर तक पहुंचने की संभावना है क्योकि हरियाणा के हथिनी कुंड बैराज से शाम छह बजे आठ लाख 28 हजार क्यूसेक पानी छोड़ा गया है।

भारी बारिश की वजह से बढ़ रहा जलस्तर

पूर्वी दिल्ली जिले ने एक आदेश में कहा है, ‘‘भारी बारिश के कारण जलस्तर बढ़ रहा है और साथ ही हथिनी कुंड बैराज से पानी छोड़े जाने और यमुना का जल स्तर कल सुबह 10 बजे तक 207 मीटर तक बढ़ सकता है, जिससे जान माल के नुकसान का खतरा पैदा हो गया है ।’’

हथिनी कुंड बैराज से छोड़ा गया पानी

सभी उप-विभागीय मजिस्ट्रेटों को सोमवार सुबह 9 बजे तक दिल्ली पुलिस और नागरिक सुरक्षा स्वयं सेवकों की मदद से निचले इलाकों के लोगों को निकालने का निर्देश दिया गया है। दूसरी ओर अधिकारियों ने बताया कि हरियाणा ने रविवार को थोड़े-थोड़े अंतराल पर पानी छोड़ा। उन्होंने बताया कि शाम पांच बजे आठ लाख 14 हजार क्यूसेक पानी हथिनी कुंड बैराज से छोड़ा गया था।

दिल्ली सरकार कर रही है यमुना के आसपास के इलाकों में टेंट लगाने की तैयारी

दिल्ली सरकार ने कहा कि निचले इलाकों में रहने वाले लोगों को समायोजित करने के लिए आस-पास के इलाकों में टेंट लगाने की तैयारी की जा रही है। बाढ़ जैसी स्थिति से निपटने के उपायों पर चर्चा करने के लिए रविवार शाम को अधिकारियों की एक बैठक हुई। पिछले साल जुलाई में यमुना नदी में जलस्तर खतरे के निशान को पार करने के बाद राष्ट्रीय राजधानी में यमुना के पुराने पुल पर यातायात परिचालन कुछ दिनों के लिए बंद कर दिया गया था । पिछले साल यमुना नदी में जलस्तर 205.5 मीटर तक पहुंच गया था ।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment