1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. केरल: पांच पादरियों ने मिलकर किया महिला का यौन उत्पीड़न, क्राइम ब्रांच करेंगी अब मामले की जांच

केरल: पांच पादरियों ने मिलकर किया महिला का यौन उत्पीड़न, क्राइम ब्रांच करेंगी अब मामले की जांच

लनकारा ऑर्थोडॉक्स सीरियन चर्च के पांच पादरियों पर महिला को ब्लैकमेल करने और यौन उत्पीड़न करने का आरोप लगाया गया है।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Updated on: June 29, 2018 19:48 IST
चित्र का इस्तेमाल...- India TV
Image Source : PTI चित्र का इस्तेमाल प्रतीक के तौर पर किया गया है।

तिरुवनंतपुरम: केरल में एक महिला का पांच पादरियों द्वारा यौन उत्पीड़न किये जाने के आरोप सामने आने के कुछ ही दिन बाद राज्य के पुलिस प्रमुख लोकनाथ बेहरा ने मामले की अपराध शाखा से जांच के आज आदेश दिये। मालनकारा ऑर्थोडॉक्स सीरियन चर्च के पांच पादरियों पर महिला को ब्लैकमेल करने और यौन उत्पीड़न करने का आरोप लगाया गया है। पुलिस सूत्रों ने कहा , ‘‘ अपराध शाखा को आरोपों की जांच के आदेश दिये गए हैं। ’’ 

माकपा के वरिष्ठ नेता और केरल प्रशासनिक सुधार आयोग के अध्यक्ष वी एस अच्युतानंदन ने बेहरा को पत्र लिखकर एक व्यक्ति द्वारा लगाए गए उन आरोपों की जांच कराए जाने की मांग की , जिसमें कहा गया कि पादरियों ने उसकी पत्नी का यौन उत्पीड़न किया। पत्र को अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (अपराध शाखा) शेख दरवेश साहब को मामले की जांच कराने के लिये भेजा गया। अपराध शाखा के महानिरीक्षक एस श्रीजीत जांच का नेतृत्व करेंगे। राष्ट्रीय महिला आयोग (एनसीडब्ल्यू) ने डीजीपी और राज्य के पुलिस प्रमुख से मामले की जांच कराने और की गई कार्रवाई का विवरण आयोग को देने को कहा था। 

यह घटना पिछले सप्ताह प्रकाश में आई जब शिकायतकर्ता की चर्च के अधिकारियों से कथित बातचीत का ऑडियो क्लिप सामने आया। उसमें शिकायतकर्ता की पत्नी का पादरियों द्वारा यौन उत्पीड़न किये जाने का आरोप लगाया गया था। इस बातचीत का ऑडियो क्लिप सोशल मीडिया पर काफी प्रसारित हुआ। कोट्टायम स्थित चर्च ने कहा था कि उसने आरोपों की ‘ स्पष्ट और निष्पक्ष ’ जांच के आदेश दिये हैं और दोषी पाए जाने पर कार्रवाई की जाएगी। चर्च ने एक वक्तव्य में कहा , ‘‘ आरोपी को नहीं बचाया जाएगा और बेगुनाह को दंडित नहीं किया जाएगा। ’’ मामले में कोई पुलिस शिकायत दर्ज नहीं कराई गई है। 

 

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment