1. You Are At:
  2. होम
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. रैपिड ट्रांजिट परियोजना की लागत में दिल्ली की हिस्सेदारी अदा करे केंद्र सरकार: केजरीवाल

रैपिड ट्रांजिट परियोजना की लागत में दिल्ली की हिस्सेदारी अदा करे केंद्र सरकार: केजरीवाल

अपर्याप्त कोष होने का हवाला देते हुए दिल्ली, गाजियाबाद और मेरठ के बीच प्रस्तावित रैपिड ट्रांजिट परियोजना की लागत में खर्च वहन करने का आग्रह किया है।

Edited by: India TV News Desk [Updated:04 Aug 2018, 9:30 AM IST]
अरविंद केजरीवाल, रैपिड ट्रांजिट परियोजना, - India TV
Image Source : पीटीआई रैपिड ट्रांजिट परियोजना की लागत में दिल्ली की हिस्सेदारी अदा करे केंद्र सरकार: केजरीवाल 

नई दिल्ली: मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने अपर्याप्त कोष होने का हवाला देते हुए केंद्र सरकार से दिल्ली, गाजियाबाद और मेरठ के बीच प्रस्तावित रैपिड ट्रांजिट परियोजना की लागत में दिल्ली की हिस्सेदारी का खर्च वहन करने का आग्रह किया है।

इस हफ्ते की शुरुआत में केंद्रीय आवास एवं शहरी मामलों के मंत्री हरदीप सिंह पुरी को लिखे एक पत्र में केजरीवाल ने कहा कि 82.15 किलोमीटर लंबे दिल्ली-गाजियाबाद-मेरठ रीजनल रैपिड ट्रांजिट सिस्टम (आरआरटीएस) की लागत 31,902 करोड़ रुपए अनुमानित है। इस मुद्दे को लेकर पिछले हफ्ते पुरी से मिलने वाले केजरीवाल ने कहा कि इस कॉरिडोर का 13 किलोमीटर का हिस्सा शहर में पड़ रहा है, इसलिए इसकी कुल लागत में से 1,138 करोड़ रुपए दिल्ली सरकार को देना है।

केजरीवाल ने कहा कि उनकी सरकार इस परियोजना को सैद्धांतिक रूप से मंजूरी देने के लिए तैयार है। हालांकि उन्होंने कहा कि दिल्ली सरकार के पास इसका खर्च वहन करने के लिए पर्याप्त धन नहीं है, इसलिए मैं आग्रह करता हूं कि इस परियोजना की लागत में दिल्ली के हिस्से वाला खर्च केंद्र सरकार उठाए।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Web Title: रैपिड ट्रांजिट परियोजना की लागत में दिल्ली की हिस्सेदारी अदा करे केंद्र सरकार: केजरीवाल
Write a comment