1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. दिल्ली: अनधिकृत कॉलोनियों में 5 महीने पूरे होंगे विकास कार्य, ‘‘युद्ध स्तर’’ काम करने का आदेश

दिल्ली: अनधिकृत कॉलोनियों में 5 महीने पूरे होंगे विकास कार्य, ‘‘युद्ध स्तर’’ काम करने का आदेश

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शनिवार को अधिकारियों को निर्देश दिए कि 750 से अधिक अनधिकृत कॉलोनियों में विकास कार्य ‘‘युद्ध स्तर’’ पर किए जाएं और पांच महीने के अंदर पूरे किए जाएं।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: June 22, 2019 19:56 IST
Delhi CM directs officials to complete devp works in 781 unauthorised colonies within 5 months- India TV
Delhi CM directs officials to complete devp works in 781 unauthorised colonies within 5 months

नयी दिल्ली: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शनिवार को अधिकारियों को निर्देश दिए कि 750 से अधिक अनधिकृत कॉलोनियों में विकास कार्य ‘‘युद्ध स्तर’’ पर किए जाएं और पांच महीने के अंदर पूरे किए जाएं। मुख्यमंत्री ने एक उच्च स्तरीय बैठक में यह निर्देश दिया जिसमें सिंचाई और बाढ़ नियंत्रण मंत्री सत्येन्द्र जैन और वरिष्ठ अधिकारियों ने भाग लिया। मुख्यमंत्री का निर्देश ऐसे समय में आया है जब दिल्ली विधानसभा चुनावों में कुछ ही महीने बचे हुए हैं।

Related Stories

सरकार ने बयान जारी कर कहा, ‘‘मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शनिवार को निर्देश दिए कि 781 अनधिकृत कॉलोनियों में सिंचाई और बाढ़ नियंत्रण विभाग पांच महीने के अंदर युद्ध स्तर पर विकास कार्य पूरे करे।’’ चुनावों में अनधिकृत कॉलोनियों में रहने वाले लोग निर्णायक भूमिका निभाते हैं। बयान के मुताबिक मुख्यमंत्री खुद ही साप्ताहिक आधार पर विकास कार्यों की निगरानी करेंगे।

इसने कहा, ‘‘मुख्यमंत्री ने विभाग को निर्देश दिया कि चल रहे विकास कार्यों के बारे में साप्ताहिक रिपोर्ट पेश करें, जिनकी वह खुद निगरानी करेंगे।’’ बैठक में मुख्यमंत्री को बताया गया कि लोकसभा चुनाव के दौरान आदर्श आचार संहिता लागू होने के कारण काम रूके हुए थे और कई मामलों में काम समाप्त करने की समय सीमा आगे बढ़ गई। इन कॉलोनियों में विकास कार्यों के लिए दिल्ली सरकार ने 1500 करोड़ रुपये बजट का प्रावधान किया है।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment