1. You Are At:
  2. होम
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. 'हाफिज ने मुझसे कहा था कि ठाकरे को सबक सिखाने की जरूरत है'

हाफिज ने मुझसे कहा था कि ठाकरे को सबक सिखाने की जरूरत है: हेडली

डेविड कोलमेन हेडली ने आज यहां एक आतंक निरोधी अदालत के सामने खुलासा किया कि लश्कर ए तैयबा के प्रमुख और 26/11 के मुख्य षड़यंत्रकारी हाफिज सईद ने मुंबई आतंकी हमलों से पहले उससे कहा था कि शिव सेना प्रमुख दिवंगत बाल ठाकरे को सबक सिखाने की जरूरत है।

Bhasha [Published on:26 Mar 2016, 2:08 PM IST]
david headley- India TV
david headley

मुंबई: पाकिस्तानी अमेरिकी आतंकवादी डेविड कोलमेन हेडली ने आज यहां एक आतंक निरोधी अदालत के सामने खुलासा किया कि लश्कर ए तैयबा के प्रमुख और 26/11 के मुख्य षड़यंत्रकारी हाफिज सईद ने मुंबई आतंकी हमलों से पहले उससे कहा था कि शिव सेना प्रमुख दिवंगत बाल ठाकरे को सबक सिखाने की जरूरत है। उन्होंने कहा, यह सुनने के बाद :कि ठाकरे को सबक दिखाने की जरूरत है: हेडली ने सईद से कहा था कि यह हो जाएगा।

एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि उन्होंने इस काम को पूरा करने के लिए किसी समय अवधि का अनुरोध नहीं किया था, लेकिन कहा कि इसमें छह महीने का वक्त लगेगा। हेडली ने कल खुलासा किया था कि उसने अमेरिका में शिव सेना के लिए धन उगाही के कार्यक्रम की व्यवस्था की थी और इसमें ठाकरे को आमंत्रित करने की योजना बनाई थी।

लश्कर ए तैयबा का 55 वर्षीय कार्यकर्ता जो मामले में सरकारी गवाह बन गया है ,ने कहा कि शिव सेना के राजाराम रेगे ने उसे बताया था कि ठाकरे बीमार हैं और शायद उनके पुत्र एवं अन्य अधिकारी इस कार्यक्रम में हिस्सा ले सकते हैं। इससे पहले हेडली ने अदालत को बताया था कि आतंकी संगठन लश्कर ए तैयबा ठाकरे को खत्म करना चाहता था लेकिन जिस व्यक्ति को शिवसेना प्रमुख को मारने का जिम्मा सौंपा गया था वह गिरफ्तार हो गया, लेकिन वह बाद में पुलिस को चकमा देकर फरार होने में कामयाब रहा।

हेडली ने कहा, हम शिव सेना प्रमुख को निशाना बनाना चाहते थे...उनका नाम बाल ठाकरे था। एलईटी मौका मिलते ही उनकी जान लेना चाहता था। मैं जानता था कि बाल ठाकरे शिव सेना के प्रमुख हैं। मुझे पूरी जानकारी तो नहीं है, लेकिन मुझे लगता है कि लश्कर ने बाल ठाकरे को मारने की एक कोशिश की भी थी।

यहां सत्र अदालत में अबु जुंदाल के खिलाफ 26/11 आतंकी मामले में सुनवाई के दौरान हेडली ने कहा, मुझे नहीं पता कि यह प्रयास किस तरह से किया गया था। मुझे लगता है कि वह व्यक्ति :जिसे ठाकरे को मारने के लिए भेजा गया था: गिरफ्तार कर लिया गया, लेकिन वह पुलिस हिरासत से भागने में कामयाब रहा। हालांकि मुझे इस बारे में पक्की जानकारी नहीं है।

इंडिया टीवी 'फ्री टू एयर' न्यूज चैनल है, चैनल देखने के लिए आपको पैसे नहीं देने होंगे, यदि आप इसे मुफ्त में नहीं देख पा रहे हैं तो अपने सर्विस प्रोवाइडर से संपर्क करें।
Write a comment
pulwama-attack
australia-tour-of-india-2019