1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. मोदी सरकार-2 के नाम पर ठगी का प्लान, दिल्ली पुलिस ने फर्जी वेबसाइट के संचालक को किया गिरफ्तार

मोदी सरकार-2 के नाम पर ठगी का प्लान, दिल्ली पुलिस ने फर्जी वेबसाइट के संचालक को किया गिरफ्तार

जब भाजपा मोदी सरकार के दोबारा सत्ता में आने का जश्न माना रही थी, तभी एक आईआईटी पास आउट युवक जल्द पैसे कमाने की लालच में प्रधानमंत्री मोदी की तस्वीर का इस्तेमाल कर देश के लोगों को 2 करोड़ लैपटॉप देने का झांसा दे रहा था।

Abhay Parashar Abhay Parashar @abhayparashar
Updated on: June 02, 2019 23:04 IST
delhi police- India TV
Image Source : INDIA TV दिल्ली पुलिस ने किया फर्जी वेबसाइट का संचालक गिरफ्तार 

नई दिल्ली। दिल्ली पुलिस साइबर सेल की सूझबूझ ने मोदी सरकार के नाम पर बहुत बड़ी साजिश करने वाले गैंग का पर्दाफाश किया है। पुलिस ने पीएम नरेंद्र मोदी की तस्वीर लगाकर फर्जी वेबसाइट चलाने वाले आईआईटी से बीटेक और एमटेक कर चुके पढ़े लिखे शातिर राकेश और निरंजन को राजस्थान के नागौर से गिरफ्तार किया है।

दरअसल जब भाजपा मोदी सरकार के दोबारा सत्ता में आने का जश्न माना रही थी, तभी एक आईआईटी पास आउट युवक जल्द पैसे कमाने की लालच में प्रधानमंत्री मोदी की तस्वीर का इस्तेमाल कर देश के लोगों को 2 करोड़ लैपटॉप देने का झांसा दे रहा था।

पुलिस ने बताया कि गिरफ्तार किया गया युवक राकेश आईआईटी कानपुर से पास आउट है, वह फर्जी वेबसाइट बनाकर ज्यादा से ज्यादा लाइक्स के जरिए पैसे कमाने का मास्टर प्लान तैयार करता है। राकेश इस साजिश में अपने चचेरे भाई निरंजन को भी शामिल करता है। राकेश ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुंचने के लिए व्हाट्सप्प का इस्तेमाल करता है, जो उसके और निरंजन के सलाखों के पीछे होने की सबसे बड़ी वजह बन जाता है।

delhi

दिल्ली पुलिस ने फर्जी वेबसाइट के संचालक को किया गिरफ्तार 

महज 3 दिन में वेबसाइट पर 15 लाख लोगों ने किया विजिट

दिल्ली पुलिस की साइबर सेल ने खुद मामले में एफआईआर दर्ज कर जांच शुरू की तो पता चला कि महज 3 दिन में राकेश की इस फर्जी वेब साइट को 15 लाख से भी ज्यादा लोग विजिट कर चुके थे। बड़ी संख्या में लोग फर्जी बेवसाइट पर आवेदन तक दाखिल कर चुके थे।

कम समय में ज्यादा पैसा कमाना चाहता था राकेश

राकेश ने पूछताछ में बताया कि वो कम समय में ज्यादा पैसा कमामा चाहता था और उसे हाल ही में हैदराबाद में जॉब का ऑफर भी मिला था। लेकिन जल्दी से जल्दी अधिक पैसा कमाने का लालच राकेश को गलत राह पर ले पहुंचा, जिस वजह से पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया।

सामने आ सकता है एक और फर्जीवाड़ा

दिल्ली पुलिस की साइबर सेल राकेश और निरंजन से अभी पूछताछ कर रही है। साइबर सेल की जांच में सोलर पैनल के वादे को लेकर भी बात सामने आ रही है लेकिन अभी तक की पूछताछ में डीसीपी के मुताबिक आरोपियों ने सिर्फ 2 करोड़ लैपटॉप बाटने के फर्जी वादे पर ही कायम है सोलर पैनल का भी वादा इन्होंने किया था या नही इसपर जांच जारी है।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment