1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. शशि थरूर ने भगवा को बताया गौरवशाली रंग, कहा मैंने भी पहनी भगवा जैकेट

शशि थरूर ने भगवा को बताया गौरवशाली रंग, कहा मैंने भी पहनी भगवा जैकेट

एक ओर जहां भगवा को लेकर कांग्रेस और भाजपा के बीच विवाद जारी है, इसी बीच केरल से सांसद और वरिष्ठ कांग्रेसी नेता शशि थरूर ने अपना भगवा प्रेम जग जाहिर कर दिया है।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: July 07, 2019 11:14 IST
Shashi taroor- India TV
Shashi taroor

एक ओर जहां भगवा को लेकर कांग्रेस और भाजपा के बीच विवाद जारी है, इसी बीच केरल से सांसद और वरिष्‍ठ कांग्रेसी नेता शशि थरूर ने अपना भगवा प्रेम जग जाहिर कर दिया है। दरअसल शशि थरूर इंग्‍लैंड में चल रहे विश्‍वकप में भारतीय टीम की भगवा जर्सी को लेकर बोल रहे थे। शशि थरूर ने भगवा रंग को लेकर एक गौरवशाली रंग बताया। उन्होंने कहा कि भारतीय क्रिकेट टीम ने आईसीसी के नियमों की वजह से एक मैच के लिए केसरिया रंग चुना।

थरूर ने कहा, ‘आईसीसी के एक नए नियम में कहा गया है कि जब दो टीमों की जर्सी एक ही रंग की होती है, तो मेजबान देश की टीम को अपने ड्रेस का रंग बदलने की जरूरत नहीं है. लेकिन दूसरी टीम को अपनी ड्रेस बदलनी होती है, लिहाजा भारत ने अपनी लिये केसरिया और नीले रंग की ड्रेस चुनी’

शशि थरूर ने कहा कि टीम इंडिया के सपोर्ट में मैंने भी भगवा रंग की जैकेट पहनी थी. उन्होंने कहा, 'क्योंकि टीम इंडिया को अपनी जर्सी बदलनी पड़ी, 'इसीलिए मैंने थोड़ा नीली रुमाली जेब के साथ केसरिया जैकेट पहनी थी, जोकि इंग्लैंड के खिलाफ मैच में भारतीय टीम के समर्थन में पहनी गई थी.'

बता दें कि टीम इंडिया ने वर्ल्ड कप 2019 में इंग्लैंड के साथ होने वाले एक मुकाबले के दौरान जैसे ही ड्रेस चेंज की, बवाल शुरू हो गया। क्योंकि ये ड्रेस भगवा यानी केसरिया कलर की थी। इस पर राजनीतिक दलों ने ऐतराज जताया और क्रिकेट टीम का भगवाकरण करने का आरोप लगाया। 

वहीं जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने तो एक कदम आगे बढ़कर इस ड्रेस को टीम इंडिया की हार का कारण बता दिया। उन्होंने ट्विटर पर लिखा, चाहे मुझे अंधविश्वासी कहो, लेकिन मैं मानती हूं कि जर्सी की वजह से ही भारत का विजय रथ रुक गया।

Related Video
India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment