1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. छत्तीसगढ़ में टूटा पिछले 15 सालों का रिकॉर्ड, 68 करोड़पति चुने गए हैं विधायक

छत्तीसगढ़ में टूटा पिछले 15 सालों का रिकॉर्ड, 68 करोड़पति चुने गए हैं विधायक

छत्तीसगढ़ इलेक्शन वाच और एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स (ADR) ने छत्तीसगढ़ में 90 नवनिर्वाचित विधायकों के शपथपत्रों का विश्लेषण किया है। रिपोर्ट के अनुसार राज्य में इस साल हुए चुनाव में 68 ऐसे विधायक चुने गए हैं जो करोड़पति हैं।

Bhasha Bhasha
Updated on: December 16, 2018 7:35 IST
छत्तीसगढ़ में पिछले 15...- India TV
छत्तीसगढ़ में पिछले 15 सालों में इस बार सबसे अधिक 68 करोड़पति विधायक सदन में चुनकर पहुंचे हैं।

रायपुर: छत्तीसगढ़ में पिछले 15 सालों में इस बार सबसे अधिक 68 करोड़पति विधायक सदन में चुनकर पहुंचे हैं। छत्तीसगढ़ इलेक्शन वाच और एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स (ADR) ने छत्तीसगढ़ में 90 नवनिर्वाचित विधायकों के शपथपत्रों का विश्लेषण किया है। रिपोर्ट के अनुसार राज्य में इस साल हुए चुनाव में 68 ऐसे विधायक चुने गए हैं जो करोड़पति हैं। 

रिपोर्ट के मुताबिक साल 2018 में सबसे अधिक 76 फीसदी करोड़पति विधायक चुने गए हैं। जबकि साल 2013 में 90 में से 67 (74 फसदी) और साल 2008 में 30 (35 फीसदी) करोड़पति विधायक चुने गए थे। रिपोर्ट के अनुसार इस साल कांग्रेस के 68 में से 48 विधायक, BJP के 15 में से 14 विधायक, जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (J) के सभी पांच विधायक और बहुजन समाज पार्टी के दो में से एक विधायक करोड़पति हैं।

ADR की रिपोर्ट के मुताबिक नेता प्रतिपक्ष रहे अंबिकापुर सीट से कांग्रेस के विधायक टी एस सिंहदेव के पास 500 करोड़ रूपए से अधिक की संपत्ति है। वहीं जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (J) के खैरागढ़ क्षेत्र से विधायक देवव्रत सिंह के पास 119 करोड़ रूपए से अधिक की संपत्ति है। राजिम सीट से कांग्रेस के विधायक अमितेष शुक्ला के पास 74 करोड़ रूपए से अधिक की संपत्ति है। टी एस सिंहदेव और देवव्रत सरगुजा खैरागढ़ राजघराने से हैं जबकि अमितेष शुक्ला अविभाजित मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री श्यामाचरण शुक्ल के पुत्र हैं।

रिपोर्ट के अनुसार इस विधानसभा में चुनकर आने वाले कांग्रेस के विधायक कसडोल से शकुंतला साहू के पास 5 लाख 75 हजार रूपए से अधिक और भरतपुर सोनहत सीट से गुलाब सिंह कमरो के पास 5 लाख 42 हजार रूपए से अधिक की संपत्ति है। 90 विधायकों में सबसे कम संपत्ति चंद्रपुर क्षेत्र से कांग्रेस के विधायक राम कुमार यादव के पास 30,464 रूपए की संपत्ति है। यादव और साहू के पास कोई भी अचल संपत्ति नहीं है।

रिपोर्ट के अनुसार 90 विधायकों में से 27 विधायकों ने अपनी शैक्षिक योग्यता पांचवीं और 12वीं के बीच घोषित की है जबकि 32 विधायकों ने अपनी शैक्षिक योग्यता स्नातक और इससे ज्यादा घोषित की है। एक विधायक ने अपनी शैक्षिक योग्यता साक्षर घोषित है। वहीं रिपोर्ट के मुताबिक 16 विधायकों ने अपनी आयु 25 से 40 साल से बीच घोषित की है, जबकि 54 विधायकों ने अपनी आयु 41 से 60 साल के बीच घोषित की है। वहीं 20 विधायकों ने अपनी आयु 61 से 80 साल के बीच घोषित की है।

विधानसभा में सबसे अधिक आयु वाले पत्थलगांव विधानसभा क्षेत्र से कांग्रेस के विधायक रामपुकार सिंह (79 साल) हैं। वहीं सबसे कम आयु वाले विधायक भिलाई नगर से कांग्रेस से विधायक देवेंद्र यादव (27 साल) और पामगढ़ क्षेत्र से बहुजन समाज पार्टी की विधायक इंदु बंजारे (27 साल) हैं।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment