1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. देखें: चंद्रयान-2 ने भेजी अपनी पहली तस्वीरें, बेहद ही खूबसूरत दिखाई दे रही है पृथ्वी

देखें: चंद्रयान-2 ने भेजी अपनी पहली तस्वीरें, बेहद ही खूबसूरत दिखाई दे रही है पृथ्वी

चंद्रमा के लिए ऐतिहासिक सफर पर निकले चंद्रयान 2 ने अपनी पहली तस्वीरें भेज दी हैं।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Updated on: August 04, 2019 18:23 IST
Chandrayaan 2 captures very first and beautiful images of the Earth- India TV
Chandrayaan 2 captures very first and beautiful images of the Earth

नई दिल्ली: चंद्रमा के लिए ऐतिहासिक सफर पर निकले चंद्रयान 2 ने अपनी पहली तस्वीरें भेज दी हैं। इन तस्वीरों में पृथ्वी को विभिन्न कोणों से दिखाया गया है। चंद्रायन 2 द्वारा भेजी गई इन तस्वीरों में पृथ्वी बेहद ही खूबसूरत दिखाई दे रही है। भारत के दूसरे चंद्रमा अभियान चंद्रयान-2 को 22 जुलाई को दोपहर बाद सफलतापूर्वक प्रक्षेपित किया गया था। 375 करोड़ रुपये के जियोसिंक्रोनाइज सैटेलाइट लांच व्हीकल मार्क-3 (GSLV M-3) रॉकेट ने 3.8 टन वजनी व 603 करोड़ रुपये की कीमत के चंद्रयान-2 को लेकर अंतरिक्ष के लिए चढ़ाई शुरू की थी।

चंद्रयान-2 पृथ्वी और चंद्रमा के बीच की लगभग 384,400 किलोमीटर की यात्रा तय करेगा। आपको बता दें कि चंद्रयान-2 की ऑर्बिट बीते शुक्रवार को चौथी बार सफलतापूर्वक बढ़ाई गई है। भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ने शुक्रवार दोपहर 3.27 बजे चंद्रयान की ऑर्बिट को चौथी बार बढ़ाया है।

भारतीय स्पेस एजेंसी ने कहा कि चंद्रयान-2 की कक्षा को 646 सेकेंड के लिए ऑनबोर्ड मोटरों को चालू कर के 277 गुणा 89,472 किलोमीटर तक बढ़ा दिया गया। स्पेसक्राफ्ट के सभी पैरामीटर सामान्य काम कर रहे हैं। इसके ऑर्बिट को 6 अगस्त को दोपहर 2.30 से 3.30 के बीच में पांचवीं बार बढ़ाया जाएगा।

चंद्रयान-2 में तीन खंड बनाए गए हैं। जिनमें ऑर्बिटर (वजन 2,379 किलोग्राम, आठ पेलोड), लैंडर 'विक्रम' (1,471 किलोग्राम, 4 पेलोड) और रोवर 'प्रज्ञान' (27 किलोग्राम, दो पेलोड) शामिल हैं। भारतीय अंतरिक्ष एजेंसी ने कहा कि चंद्रयान-2 मिशन में पृथ्वी के चक्कर लगाने के अलावा कई अलग-अलग गतिविधियां शामिल हैं। इसके तहत 14 अगस्त को अंतरिक्ष यान को चंद्रमा के लिए भेजा जाएगा, जोकि 20 अगस्त तक वहां पहुंच जाएगा। लैंडर विक्रम 7 सितंबर को चंद्रमा पर उतरेगा।

पहले जहां विक्रम को प्रक्षेपित होने के 54 दिन बाद चंद्रमा पर उतारने की योजना बनाई गई थी, वहीं अब इसकी लैंडिंग 48 दिनों में ही हो जाएगी।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment