1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. सीबीआई ने भ्रष्टाचार मामले में रोल्स रॉयस पर किया केस दर्ज, 2007 से 2011 के बीच रिश्‍वत देने का आरोप

सीबीआई ने भ्रष्टाचार मामले में रोल्स रॉयस पर किया केस दर्ज, 2007 से 2011 के बीच रिश्‍वत देने का आरोप

सीबीआई ने 2007 से 2011 के बीच कमीशन देने से जुड़े भ्रष्टाचार के मामले में लंदन स्थित ऑटोमोबाइल कंपनी रोल्स रॉयस के खिलाफ मामला दर्ज किया।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Updated on: August 01, 2019 7:50 IST
CBI- India TV
CBI

केन्द्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) ने 2007 से 2011 के बीच सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों एचएएल, ओएनजीसी और गेल के ठेके हासिल करने के लिए एक एजेंट को 77 करोड़ रुपये से अधिक की कथित कमीशन देने से जुड़े भ्रष्टाचार के मामले में लंदन स्थित ऑटोमोबाइल कंपनी रोल्स रॉयस के खिलाफ मामला दर्ज किया। एजेंसी द्वारा पांच साल तक चली जांच के बाद यह कार्रवाई की गई है। 

रक्षा मंत्रालय की शिकायत के आधार पर जांच शुरू हुई थी। दरअसल, मंत्रालय को रोल्स रॉयस द्वारा सिंगापुर में रहने वाले अशोक पाटनी तथा उसकी कंपनी आशमोरे प्राइवेट लिमिटेड की सेवाएं लेने की शिकायत मिली थी। रक्षा मंत्रालय को रोल्स रॉयस के पाटनी के साथ संबंधों के बारे में पत्र मिला था जिसे जांच के लिए सीबीआई के पास भेजा गया था। फिलहाल रोल्स रॉयस की तरफ से कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है। अधिकारियों ने आरोप लगाया कि 2000 से 2013 के बीच एचएएल के साथ रोल्स रॉयस का कुल कारोबार 4700 करोड़ रुपये का रहा। 

आरोप है कि रोल्स रॉयस ने 2007 से 2011 के बीच एचएएल को एवन एवं एलीसन इंजन के पुर्जों के सौ आर्डर में ‘‘वाणिज्यिक सलाहकार’’ के रूप में पाटनी को 18 करोड़ रुपये का भुगतान किया। एजेंसी ने आरोप लगाया कि पुर्जों की आपूर्ति के लिए ओएनजीसी और गेल के साथ रोल्स रॉयस के सीधे ठेकों के लिए भी पाटनी की सेवाएं ली गईं। उन्होंने आरोप लगाया कि रोल्स रॉयस ने गेल को आपूर्ति के लिए 2007 से 2010 के दौरान कुल 28.09 करोड़ रुपये के कमीशन का भुगतान किया। 

India TV Hindi पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment
bigg-boss-13
plastic-ban