1. You Are At:
  2. होम
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. 'तुम्‍हारी आने वाली पीढ़ियां भी मेरे नाम से कांपेंगी'

'तुम्‍हारी आने वाली पीढ़ियां भी मेरे नाम से कांपेंगी'

केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने बुधवार को कहा कि उसने अपने अधिकारियों के खिलाफ एक जांच शुरू की है, जिन्होंने पूर्व कॉरपोरेट मामलों के मंत्रालय के अधिकारी बी.के. बंसल के खिलाफ जांच पर जोर दिया।

IANS [Published on:29 Sep 2016, 8:11 AM IST]
BK Bansal- India TV
BK Bansal

नई दिल्ली: केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने बुधवार को कहा कि उसने अपने अधिकारियों के खिलाफ एक जांच शुरू की है, जिन्होंने पूर्व कॉरपोरेट मामलों के मंत्रालय के अधिकारी बी.के. बंसल के खिलाफ जांच पर जोर दिया। बंसल और उनके 31 साल के बेटे ने मंगलवार को अपने अपार्टमेंट में आत्महत्या कर ली थी। एजेंसी ने यह कदम बंसल और बेटे योगेश के हाथ से लिखे सुसाइड नोट के बाद उठाया, जिसमें कुछ सीबीआई अधिकारियों पर उन्हें प्रताड़ित करने का आरोप लगाया गया था। बंसल की पत्नी और बेटी ने पहले ही आत्महत्या कर ली थी।

बीके बंसल ने अपने सुसाइड नोट में सीबीआई पर प्रताड़ि‍त करने का आरोप लगाया। बसंल ने अपने सुसाइड नोट में लिखा कि सीबीआई उनकी पत्‍नी और बेटी को भी 'टॉर्चर' कर रही थी। बंसल ने अपने सुसाइड नोट में लिखा कि 'सीबीआई जांचकर्ता ने कहा था कि तुम्‍हारी आने वाली पीढ़ियां भी मेरे नाम से कांपेंगी।'

सीबीआई ने एक बयान में कहा, "हमें आज दिल्ली पुलिस से पत्र मिला है, जिसमें तथाकथित बी.के. बंसल और योगेश के हाथ का लिखा नोट संलग्न था। इसमें कुछ सीबीआई अधिकारियों के खिलाफ बंसल और दूसरों के खिलाफ चल रहे रिश्वत जांच से जुड़े आरोप लगाए गए हैं।"

बंसल को 16 जुलाई को एक कॉरपोरेट कंपनी का पक्ष लेने के लिए नौ लाख रुपये रिश्वत लेने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था। बंसल मुंबई की एक दवा कंपनी के नियमों के उल्लंघन से जुड़ा मामला देख रहे थे। दिल्ली की एक अदालत ने बंसल को 30 अगस्त को जमानत दी थी।

सीबीआई ने बयान में कहा, "हमने मामले का परीक्षण किया और आरोपों की जांच करने का फैसला किया।" सीबीआई पूरी तरह से एक निष्पक्ष और पेशेवर तरीके से कानून के मापदंडों के भीतर, बिना किसी के उत्पीड़न के जांच करने के लिए प्रतिबद्ध है। सीबीआई सूत्रों ने बताया कि जांचकर्ता बंसल और उनके बेटे ने जिन अधिकारियों के खिलाफ आरोप लगाए हैं, उनके कॉल की विस्तृत रिकॉर्ड (सीडीआर) की जांच करेंगे।

एक सूत्र ने कहा, "इसमें सीबीआई मुख्यालय में विशेष तारीखों में बंसल से हुई पूछताछ के रिकॉर्ड की जांच की जाएगी। इसमें जांच दल के दूसरे सदस्यों, बंसल के संबंधियों और पड़ोसियों की भी जांच की जाएगी।" मामले को लेकर उप महानिरीक्षक संजीव गौतम, पुलिस अधीक्षक अमृता कौर, उप पुलिस अधीक्षक रेखा सांगवान, जांच अधिकारी हरनाम सिंह और एक अनाम हेड कांस्टेबल के खिलाफ जांच की जाएगी।

बंसल के सुसाइड नोट में सांगवान और कौर पर उसे 18 और 19 जुलाई की रात बुरी तरह प्रताड़ित करने का आरोप है। बंसल ने यह भी आरोप लगाया है कि गौतम ने एक महिला अधिकारी को फोन पर यह कहा था कि वह उनकी पत्नी और बेटी को बेजान हो जाने तक प्रताड़ित करे। बंसल ने कहा कि उन्होंने गौतम से गुहार लगाई कि वह उनकी पत्नी और बेटी को हानि नहीं पहुंचाए, लेकिन वह अड़े हुए थे। बंसल ने अपने सुसाइड नोट में कहा है कि उसने कहा यदि वह मेरी पत्नी और बेटी को मृत नहीं कर दिया, तो मैं सीबीआई डीआईजी संजीव गौतम नहीं। तुम्हारी आने वाली पीढ़िया संजीव गौतम को याद रखेंगी।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Web Title: Bureaucrat BK Bansal’s suicide note alleges torture by CBI
Write a comment