1. You Are At:
  2. होम
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. प. बंगाल: दुविधा में कांग्रेस, लोकसभा चुनाव के लिए गठबंधन या ‘नो-गठबंधन’ पर विचार

प. बंगाल: दुविधा में कांग्रेस, लोकसभा चुनाव के लिए गठबंधन या ‘नो-गठबंधन’ पर विचार

पश्चिम बंगाल में कांग्रेस इस दुविधा में है कि वो लोकसभा चुनाव अकेले अपने दम पर लड़े या राज्य में CPI (M) के साथ गठबंधन करे।

Written by: Bhasha [Published on:02 Jan 2019, 2:48 PM IST]
File Photo- India TV
Image Source : PTI File Photo

कोलकाता: पश्चिम बंगाल में कांग्रेस इस दुविधा में है कि वो लोकसभा चुनाव अकेले अपने दम पर लड़े या राज्य में CPI (M) के साथ गठबंधन करे। पार्टी के कुछ नेता CPI (M) के साथ अनौपचारिक तरीके से सीटें साझा कर चुनाव लड़ने के पक्ष में हैं जबकि कुछ अन्य अकेले दम पर चुनाव लड़ना चाहते हैं। 

पार्टी सूत्रों ने बताया कि इस संबंध में अंतिम फैसला कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी करेंगे। पश्चिम बंगाल में कभी सबसे मजबूत रहे CPI (M)-नीत वाम मोर्चा अपना बड़ा आधार तृणमूल कांग्रेस के हाथों गंवा चुका है लेकिन अभी भी राज्य में उसके संगठन का ढांचा मौजूद है। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और समन्वय समिति के अध्यक्ष प्रदीप भट्टाचार्य ने कहा कि एक धड़ा CPI (M) के साथ सीटें साझा करने के पक्ष में है और ये बहुमत में है। हालांकि, एक धड़ा अकेले दम पर चुनाव लड़ना चाहता है।

इस मामले की जानकारी रखने वाले एक वरिष्ठ नेता ने बताया कि रणनीति तय करने के लिए इस महीने राज्य के पार्टी नेताओं की बैठक बुलाई जाएगी और उनके फैसले से आलाकमान को अवगत कराया जाएगा। पार्टी के एक नेता ने कहा, ‘‘पार्टी नेताओं का बहुमत CPI (M) के साथ सीटें साझा करने के पक्ष में है, हालांकि कुछ लोग अकेले चुनाव पड़ने के पक्ष में भी हैं। हम बैठक बुलाएंगे।’’

राज्य में लोकसभा की 42 सीटें हैं और कांग्रेस कम से कम 18-20 पर अपने उम्मीदवार उतारने पर विचार कर रही है। फिलहाल पार्टी के पास सिर्फ चार सीटें हैं। कांग्रेस के एक अन्य नेता ने कहा कि राहुल गांधी ने संगठन को मजबूत बनाने को कहा है। उन्होंने कहा, ‘‘उन्होंने अंतिम फैसला राज्य इकाई पर छोड़ा है। इस पर बंगाल इकाई का फैसला आने के बाद ही वे अंतिम निर्णय लेंगे। लेकिन हमने अभी तक अपना फैसला उन्हें नहीं बताया है।’’

कांग्रेस और CPI (M) दोनों के ही दलों के नेतृत्व को भरोसा है कि इस महीने राहुल गांधी और CPI (M) महासचिव सीता राम येचुरी की मुलाकात के दौरान कुछ हल निकलेगा। फिलहाल राज्य में तृणमूल कांग्रेस के 34, कांग्रेस के चार, CPI (M) और भाजपा के दो-दो लोकसभा सांसद हैं।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Web Title: Bengal Cong in a dilemma over whether to go alone or with CPI(M) for 2019 lok sabha election
the-accidental-pm-360x70
Write a comment
the-accidental-pm-300x100