1. You Are At:
  2. होम
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. शैलजा द्विवेदी मर्डर केस: कत्ल से लेकर गिरफ्तारी तक, जानें पिछले 48 घंटों में क्या-क्या हुआ?

शैलजा द्विवेदी मर्डर केस: कत्ल से लेकर गिरफ्तारी तक, जानें पिछले 48 घंटों में क्या-क्या हुआ?

दिल्ली पुलिस ने मेजर अमित द्विवेदी की पत्नी पत्नी शैलजा द्विवेदी के कत्ल की उलझी गुत्थी तो सुलझा तो ली है लेकिन अभी भी कई ऐसे अहम सबूत और सवाल हैं जिसकी मिस्ट्री बाकी है। यही वजह है कि पूछताछ में मेजर निखिल हांडा ने जिन जगहों का जिक्र किया उन जगहों पर पुलिस सबूत तलाश रही है। पुलिस इस मामले में मेजर निखिल हांडा के चाचा और भाई से भी पूछताछ कर रही है...

Written by: IndiaTV Hindi Desk [Updated:25 Jun 2018, 4:39 PM IST]
Army Major's wife shailja dwivedi murder case- India TV
Army Major's wife shailja dwivedi murder case

नई दिल्ली: दिल्ली के हाईप्रोफाइल शैलजा द्विवेदी मर्डर केस का आरोपी कोई और नहीं बल्कि शैलजा द्विवेदी का ही दोस्त मेजर निखिल हांडा है। पुलिस ने मेजर हांडा को गिरफ्तार कर लिया है और अब से थोड़ी देर बाद कातिल मेजर निखिल हांडा को पटियाला हाउस कोर्ट में पेश करेगी। दिल्ली पुलिस ने मेजर अमित द्विवेदी की पत्नी पत्नी शैलजा द्विवेदी के कत्ल की उलझी गुत्थी तो सुलझा तो ली है लेकिन अभी भी कई ऐसे अहम सबूत और सवाल हैं जिसकी मिस्ट्री बाकी है। यही वजह है कि पूछताछ में मेजर निखिल हांडा ने जिन जगहों का जिक्र किया उन जगहों पर पुलिस सबूत तलाश रही है। पुलिस इस मामले में मेजर निखिल हांडा के चाचा और भाई से भी पूछताछ कर रही है। पता लगाया जा रहा है कि आरोपी मेजर ने अपने रिश्तेदारों को इस बारे में क्या बताया है।

पुलिस कड़ी दर कड़ी बेहद तेजी से इस केस की तफ्तीश कर रही थी तभी इस केस में निखिल हांडा का नाम सामने आया और तब पता चला कि केवल निखिल हांडा ने शैलजा द्विवेदी पर चाकू से हमला ही नहीं किया था बल्कि कार से भी कुचला था। पुलिस जांच में पता चला है कि शैलजा द्विवेदी के कत्ल के बाद मेजर निखिल हांडा वापस बेस अस्पताल गया था जहां मेजर अमित द्विवेदी ने उसे देख लिया था। मेजर हांडा पर नजर पड़ते ही मेजर अमित को उस पर शक हुआ। शक ये था कि मेजर हांडा को दीमापुर में होना चाहिए था ऐसे में वो दिल्ली में क्या कर रहा है। फिलहाल पुलिस इस मामले की गहराई से पड़ताल कर रही है। सबूत ढूंझे जा रहे हैं ताकि वारदात की सारी कड़ियों को जोड़ा जा सके।

कत्ल से लेकर गिरफ्तारी तक जानें कब-कब क्या हुआ?

शनिवार, 23 जून

10 am: शैलजा द्विवेदी आर्मी की गाड़ी में बैठ कर फिजियोथिरैपी और एमआरआई स्कैन के लिए हॉस्पिटल के लिए गईं। इसके बाद ड्राइवर ने शैलजा को हॉस्पिटल पर छोड़ा और चला गया।

1 pm: हॉस्पीटल से 3 किलोमीटर दूर दिल्ली कैंट के संवेदनशील इलाके में राह चलते शख्स ने शैलजा का शव देखा और पुलिस को इसकी सूचना दी।

1pm to 4pm: पहली नजर में यह हिट एंड रन का केस लगा लेकिन लेकिन पोस्टमार्टम रिपोर्ट आई तो पता चला कि शैलजा की गला रेतकर हत्या की गई थी। पहले शैलजा का मर्डर किया गया और बाद में उन्हें गाड़ी से कुचल दिया गया। बताया जा रहा है कि घटना के करीब 4 घंटे बाद मृतक शैलजा के मेजर पति नारायणा थाने में उनके लापता होने की शिकायत लेकर पहुंचे थे लेकिन पत्नी का शव मिलने के बाद मेजर और उनके घरवाले भी सन्न रह गए।

पुलिस ने शैलजा के शव को देखकर चोरी या यौन हमले की संभावनाओं से इंकार कर दिया था। उनके शरीर पर गहने भी वैसे के वैसे थे। इस समय तक पुलिस ने आर्मी मेजर की पत्नी के रूप में उनकी पहचान नहीं की थी।

4pm: पुलिस शव की पहचान करने की जुगत में थी लेकिन कुछ देर बाद पुलिस को पता चला कि ये शव मेजर अमित द्विवेदी की पत्नी शैलजा द्विवेदी का है। घटना के करीब 4 घंटे बाद मृतक शैलजा के मेजर पति नारायणा थाने में उनके लापता होने की शिकायत लेकर पहुंचे थे लेकिन पत्नी का शव मिलने के बाद मेजर और उनके घरवाले भी सन्न रह गए।

इसके बाद पुलिस मर्डर के इस केस में सिल्वर रंग की एक होंडा सिटी कार की तलाश करने लगी। सीसीटीवी में शैलजा इसी रंग की कार में एक शख्स के साथ जाती हुई दिखी थी। पुलिस ने शक जता दिया था कि इस मर्डर केस में कोई जान पहचान वाला शामिल है। जैसे जैसे जांच आगे बढ़ रही थी वैसे वैसे एक शख्स के आसपास हत्या का ये पूरा मामला सिमटता जा रहा था। शैलजा की मर्डर मिस्ट्री में जो भी सबूत सामने आये उसमें शक सेना के ही एक दूसरे मेजर निखिल हांडा पर जाने लगा जो कि शैलजा के पति अमित द्विवेदी के साथ ही अरुणाचल प्रदेश के दीमापुर में पोस्टेड था।

रविवार, 24 जून
9.55am: पुलिस ने एक्सट्रा मैरिटल अफेयर के एंगल से केस की जांच शुरू की क्योंकि शैलजा की कॉल डिटेल्स से पता चला कि वो और निखिल हांडा लगातार संपर्क में थे। इसके बाद दिल्ली पुलिस ने मेजर हांडा की तलाश में 6 टीमें बनाई।

1.25pm: दिल्ली पुलिस ने मेरठ से मेजर निखिल हांडा को गिरफ्तार किया। पुलिस ने पाया कि अपराध के बाद वह अपने कई दोस्तों के संपर्क में था और मेरठ कैंट में अधिकारियों के मेस में छिपा था। दिल्ली पुलिस मेरठ पहुंची और निखिल हांडा को गिरफ्तार किया जव वो अपनी सिल्वर रंग की कार में वहां से भागने की कोशिश कर रहा था। उसकी कार से दो चाकू बरामद हुए जिससे ये संकेत मिला कि उसने पहले से मर्डर का प्लान बनाया था। वारदात के 24 घंटे के अंदर मुख्य आरोपी निखिल की गिरफ्तारी के बाद हत्या की पुष्टि भी हो गई।

9.36pm: पुलिस के मुताबिक शैलजा द्विवेदी की हत्या की वजह लव अफेयर है। निखिल हांडा और शैलजा द्विवेदी के बीच 2015 से दोस्ती थी। निखिल हांडा और शैलजा द्विवेदी के पति अमित द्विवेदी दोनों की पोस्टिंग नागालैंड के दीमापुर में थी यहीं निखिल हांडा और शैलजा द्विवेदी के बीच दोस्ती हुई। सूत्रों से पता चला है कि दोनों के बीच दोस्ती ऐसी थी कि जनवरी से लेकर अब तक करीब 3352 बार दोनों के बीच बात हुई है। दोनों के बीच रोजाना लगभग 10-15 बार बात होती थी। पुलिस ने मौके से कई ऐसे सबूत जुटा लिए हैं जिससे ये साबित होता है कि निखिल हांडा ने ही इस वारदात को अंजाम दिया है।

शनिवार को निखिल ने ही शैलजा को लगातार फोन करके बुलाया। शैलजा भी बेस अस्पताल फिजियोथेरेपी करवाने पहुंची जहां दोनों की मुलाकात हुई दोनों में वहां झगड़ा हुआ, जिसके बाद वो होंडा सिटी कार से शैलजा को लेकर निकला और रास्ते में चाकू से गला रेता और जहां वारदात को अंजाम दिया वहीं शैलजा को फेंक कर फरार हो गया। मर्डर करने के बाद निखिल ने अपनी कार का पहिया भी शैलजा के ऊपर चढ़ा दिया। निखिल ने इस वारदात को एक्सीडेंट दिखाने की कोशिश की थी।

सोमवार, 25 जून
पुलिस मेजर हांडा को दिल्ली ले आई और आज उसे पटियाला हाउस कोर्ट के समक्ष पेश किया जाएगा।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Web Title: शैलजा द्विवेदी मर्डर केस: कत्ल से लेकर गिरफ्तारी तक, जानें पिछले 48 घंटों में क्या-क्या हुआ?
Write a comment