1. You Are At:
  2. होम
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. हवाई किराये के मुद्दे पर बोले राजू, ‘एयरलाइंस कंपनियां कोई राक्षस नहीं’

हवाई किराये के मुद्दे पर बोले राजू, ‘एयरलाइंस कंपनियां कोई राक्षस नहीं’

नई दिल्ली: हवाई किरायों में मनमानी वृद्धि को लेकर बढ़ती चिंता के बीच नागर विमानन मंत्री अशोक गजपति राजू ने आज कहा कि हो सकता है कि एयरलाइन कंपनियां परियां नहीं हों लेकिन निश्चित तौर

Bhasha [Updated:23 Jun 2016, 5:27 PM IST]
ashok gajapthi- India TV
ashok gajapthi

नई दिल्ली: हवाई किरायों में मनमानी वृद्धि को लेकर बढ़ती चिंता के बीच नागर विमानन मंत्री अशोक गजपति राजू ने आज कहा कि हो सकता है कि एयरलाइन कंपनियां परियां नहीं हों लेकिन निश्चित तौर पर वह राक्षस भी नहीं हैं। उन्होंने स्पष्ट किया कि हद से ज्यादा हवाई किरायों से निपटने का कोई आसान समाधान नहीं हो सकता। वह किरायों की सीमा तय किए जाने के विचार को त्याग चुके हैं क्योंकि इससे न्यूनतम किरायों में बढ़ोत्तरी होगी।

हवाई यात्रा के लिये किराया सीमा तय करने की मांग के खिलाफ अडिग रहते हुए उन्होंने कहा कि पिछले साल एक विश्लेषण किया गया जिसमें यह बात सामने आई कि मात्र 1.7 प्रतिशत टिकटों को ही उंचे किराये पर बेचा जाता है। हवाई किरायों की सीमा तय किए जाने के एक सवाल पर उन्होंने कहा, अधिकतम और न्यूनतम सीमा तय किया जाना रोचक हैं लेकिन हमें ऐसी स्थिति में नहीं पड़ना चाहिये जहां 1.7 प्रतिशत यात्रियों को फायदा पहुंचाने के लिए 90 प्रतिशत यात्रियों के लिए किराये को बढ़ा दिया जाए।

राजू ने इस बात पर जोर दिया कि चेन्नई और श्रीनगर में बाढ़ संकट के दौरान एयरलाइन कंपनियों ने हवाई किराये को तर्कसंगत स्तर पर रखा और सरकार का मकसद

भी यही सुनिश्चित करना चाहिए है कि हवाई यात्रा किराया तर्कसंगत दायरे में रहे।

राजू ने कहा, वे (एयरलाइन) हो सकता है कि परियां नहीं हों लेकिन निश्चित रूप से राक्षस भी नहीं हैं। हमें उनके साथ काम करके उंचे किरायों के मामले में एक समाधान खोजने की जरूरत है। यह वे समस्याएं हैं जिनका अपने आप कोई आसान समाधान नहीं हो सकता।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Web Title: एयरलाइंस कंपनियां कोई राक्षस नहीं: अशोक गजपति राजू
Write a comment