1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. नोएडा में आम्रपाली बिल्डर के खिलाफ 8 मामले दर्ज, करोड़ों रूपये की हेराफेरी का आरोप

नोएडा में आम्रपाली बिल्डर के खिलाफ 8 मामले दर्ज, करोड़ों रूपये की हेराफेरी का आरोप

नोएडा पुलिस ने फ्लैट खरीदारों के साथ धोखाधड़ी करके करोड़ों रूपये की हेराफेरी करने वाले बिल्डरों के खिलाफ मामला दर्ज करना शुरू कर दिया है।

India TV News Desk India TV News Desk
Published on: September 03, 2017 7:35 IST
8 cases registered against Amrapali builder in Noida- India TV
8 cases registered against Amrapali builder in Noida

नोएडा: नोएडा पुलिस ने फ्लैट खरीदारों के साथ धोखाधड़ी करके करोड़ों रूपये की हेराफेरी करने वाले बिल्डरों के खिलाफ मामला दर्ज करना शुरू कर दिया है। बीती रात को नोएडा के छह थाना क्षेत्रों में 13 प्रोजेक्ट के निदेशकों के खिलाफ मामला दर्ज हुआ है। इसमें से नौ मामले तो सिर्फ आम्रपाली बिल्डर के खिलाफ हैं। एक मामला सुपरटेक बिल्डर के खिलाफ जबकि तीन मामले अन्य बिल्डर के खिलाफ हैं। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक के PRO प्रभात दीक्षित ने बताया कि 31 अगस्त को ग्रेटर नोएडा आए मंत्रियों के समूह के सामने सैकड़ों की संख्या में फ्लैट खरीदारों ने अपनी समस्या रखी थी। खरीदारों ने मांग की थी कि उनके साथ धोखाधड़ी करके उनके पैसे पर ऐश करने वाले बिल्डरों के खिलाफ मामला दर्ज किया जाए। मंत्री समूह ने पुलिस को इस मामले में मामला दर्ज करने के लिए कहा था। (सरकार ने जारी किया अलर्ट, लॉकी रैनसमवेयर के फैलने की दी चेतावनी)

PRO ने बताया कि फ्लैट खरीदारों की शिकायत के आधार पर आम्रपाली बिल्डर के खिलाफ थाना बिसरख में 8 मामले दर्ज हुए हैं ।थाना सेक्टर 49 में भी आम्रपाली सिलिकॉन सिटी के खरीदारों की शिकायत पर मामला दर्ज हुआ है। इन मामलों में आम्रपाली बिल्डर के निदेशक अनिल शर्मा एवं अन्य डायरेक्टरों का नाम आरोपियों में हैं। जबकि थाना बिसरख में सुपरटेक बिल्डर के इको विलेज टू के निवेशकों की शिकायत पर मामला दर्ज हुआ है। वहीं थाना सूरजपुर में एकदंत वेलफेयर सोसाइटी, थाना कासना में टेक्नो सिटी अपार्टमेंट, थाना एक्सप्रेसवे में टुडे होम्स एवं थाना फेस 3 में द पार्क एवेन्यू नामक बिल्डर के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज हुआ है।

पीआरओ ने बताया कि पुलिस घटना की रिपोर्ट दर्ज करके मामले की जांच कर रही है। मालूम हो कि तीन दिन पूर्व उत्तर प्रदेश सरकार के तीन मंत्रियों का समूह संदीप महाना के नेतृत्व में नोएडा आया था। मंत्रीसमूह के सामने फ्लैट खरीदारों ने अपनी समस्या रखी थी। उसके बाद ये मामले दर्ज हुए हैं।

India TV Hindi पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment
bigg-boss-13
plastic-ban