1. You Are At:
  2. होम
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. कर्नाटक: 12वीं कक्षा का केमिस्ट्री का पेपर लीक, 40 अधिकारी सस्पेंड

कर्नाटक: 12वीं कक्षा का केमिस्ट्री का पेपर लीक, 40 अधिकारी सस्पेंड

बेंगलुरु: कर्नाटक में आज दस दिनों में दूसरी बार 12 वीं कक्षा के रसायन शास्त्र का प्रश्नपत्र लीक हो गया जिसके कारण परीक्षा को रद्द करने पर बाध्य होना पड़ा और माता-पिता एवं छात्रों ने

Bhasha [Updated:31 Mar 2016, 9:44 PM IST]
bengluru- India TV
Image Source : PTI bengluru

बेंगलुरु: कर्नाटक में आज दस दिनों में दूसरी बार 12 वीं कक्षा के रसायन शास्त्र का प्रश्नपत्र लीक हो गया जिसके कारण परीक्षा को रद्द करने पर बाध्य होना पड़ा और माता-पिता एवं छात्रों ने इसका कड़ा विरोध किया। पुलिस ने बताया कि डिपार्टमेंट ऑफ प्री-यूनिवसिटी एजुकेशन (DPUE) भवन के सामने हिंसा भड़क उठी और गुस्साये छात्रों के एक धड़े द्वारा पत्थर फेंके जाने के कारण खिड़कियों के शीशे टूट गए। इस मामले में कर्नाटक सरकार ने कड़ा कदम उठाते हुए आज प्री-यूनिवर्सिटी विभाग के 40 अधिकारियों एवं अन्य कर्मचारियों को निलंबित कर दिया।

पुलिस के मुताबिक, राज्य में दो अलग-अलग स्थानों पर प्रश्नपत्र लीक हुआ जिसके कारण 1.74 लाख से अधिक पीयूसी (प्री-यूनिवसिटी पाठ्यक्रम) छात्र प्रभावित हुए। विज्ञान के छात्रों द्वारा प्रश्नपत्र लीक होने के बारे में अधिकारियों को बताये जाने के बाद इससे पहले 21 मार्च को निर्धारित रसायन शास्त्र परीक्षा रद्द कर दी गयी थी और इसे 31 मार्च को पुनर्निर्धारित किया गया था।

प्रश्नपत्र लीक के बारे में छात्रों द्वारा बताये जाने के बाद राज्य सरकार ने मामले की जांच सीआईडी को सौंप दी थी। डीपीयूई भवन के सामने हंगामे वाले माहौल के बीच एक माता-पिता छत पर चढ़ गए और यह कहते हुए कि उनकी समस्या को सुनने के लिए कोई अधिकारी मौजूद नहीं है कूदने की धमकी देने लगे। हालांकि, उन्हें ऐसा नहीं करने के लिए राजी किया गया और नीचे लाया गया।

पुलिस ने बताया कि एक अन्य छात्र प्रदर्शन के दौरान बेहोश हो गया और उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है। यह मसला विधानसभा में भी उठाया गया जहां पर विपक्षी भाजपा के सदस्यों ने प्राथमिक और माध्यमिक शिक्षा मंत्री किममाने रत्नाकर के इस्तीफे की मांग करते हुये धरना दिया और नारेबाजी की। गृह मंत्री जी परमेश्वर ने संवाददाताओं को बताया, सीआईडी मामले की जांच कर रही है और सरकार इस बारे में गंभीर है।

आगे की स्लाइड में देखे वीडियो-

इंडिया टीवी 'फ्री टू एयर' न्यूज चैनल है, चैनल देखने के लिए आपको पैसे नहीं देने होंगे, यदि आप इसे मुफ्त में नहीं देख पा रहे हैं तो अपने सर्विस प्रोवाइडर से संपर्क करें।
Write a comment
pulwama-attack
australia-tour-of-india-2019