The Lion King Hindi Movie Review: आ जाएगी 90 के दशक की याद, पसंद आ रही है शाहरुख खान के बेटे की आवाज

The Lion King Hindi Movie Review: आ जाएगी 90 के दशक की याद, पसंद आ रही है शाहरुख खान के बेटे की आवाज: the lion king hindi movie review shahrukh khan and aryan khans

Sonam Kanojia Sonam Kanojia
Updated on: July 18, 2019 16:40 IST
The Lion King Hindi Movie Review

The Lion King Hindi Movie Review

  • फिल्म रिव्यू: द लायन किंग
  • स्टार रेटिंग: 2.5 / 5
  • पर्दे पर: 19 जुलाई 2019
  • डायरेक्टर: जॉन फेवरोऊ
  • शैली: एनिमेशन

मुंबई: डिज्नी ने हम सभी को टार्जन, अलादीन, सिंड्रेला और रपुंजल ही नहीं दिए है, बल्कि 90 के दशक के बच्चों के जेहन में आज भी 'द लायन किंग' (The Lion King) की कहानी छपी हुई है। 1994 में डिज्नी की एनिमेटेड म्यूजिकल फिल्म 'द लायन किंग' रिलीज हुई थी, जो अब तक की सबसे ज्यादा कमाई वाली एनिमेटेड फिल्म बनी। साल 2019 में एक बार फिर इसी कहानी पर फिल्म बनाई गई है, जो इसलिए भी चर्चा में है, क्योंकि शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान ने फिल्म के हिंदी वर्जन में वॉइस ओवर किया है। 

ये है फिल्म की कहानी

पहले बात करते हैं कि फिल्म की कहानी और इसके सीन्स की। कहानी में दिखाया गया है कि मुफासा गौरवभूमि का राजा होता है और उसके राज में वहां के जानवर खुश हैं, लेकिन मुफासा का भाई स्कार इस बात से बिल्कुल खुश नहीं है। वह राजा बनना चाहता है और इसके लिए वह अपने भाई को जान से मारना चाहता है। दूसरी तरफ मुफासा और उसके बेटे सिंबा की खूबसूरत बॉन्डिंग को भी दिखाया गया है। 

हालांकि, दोनों भाईयों की राजनीति की वजह से बेटे सिंबा को किन-किन मुसीबतों का सामना करना पड़ता है और कैसे वह इन परिशानियों से बाहर निकलता है, ये जानने के लिए आपको फिल्म देखनी पड़ेगी।

फिल्म में सीन्स बहुत ही खूबसूरती से दिखाए गए हैं। जंगल, पहाड़, झरने और प्रकृति को देखकर आपका मन खुश हो जाएगा। विजुअल्स और ग्राफिक्स टीम ने बहुत अच्छा काम किया है।

फिल्म की कमियां

फिल्म का पहला हाफ आपको काफी धीमा लगेगा। कई जगहों पर आपको बोरियत महसूस होगी। वहीं, गानों की बात करें तो हिंदी गानों ने बहुत ही ज्यादा निराश किया है। 'हकूना मटाटा' छोड़कर आपको बाकी गानों के लिरिक्स याद नहीं रहेंगे। साथ ही थोड़ी-थोड़ी देर में बजते गानें आपको इरिटेट भी करेंगे।  सुनिधि चौहान और अरमान मलिक की आवाज शानदार है, लेकिन हिंदी गानों को ढंग से नहीं बनाया गया है।

क्यों देखने जाएं फिल्म

आप 90 के दशक के किड हैं तो आपको बचपन की यादें ताजा करने के लिए फिल्म जरूर देखनी चाहिए। इसके अलावा शाहरुख खान की आवाज भी आपको पसंद आएगी। उनके बेटे आर्यन की बात करें तो उन्होंने भी अच्छा काम किया है। 

बता दें कि मुफसा के लिए शाहरुख खान, सिंबा के लिए आर्यन खान, स्कार के लिए आशीष विद्यार्थी, जाजू के लिए असरानी, टीमोन के लिए श्रेयस तलपड़े और पुम्बा के लिए संजय मिश्रा ने अपनी आवाज दी है। सभी की आवाज कैरेक्टर्स पर खूब जंच रही है। अगर आप बचपन फिर से जीना चाहते हैं और अपने बच्चों को एक अच्छी फिल्म दिखाना चाहते हैं तो थियेटर्स का रुख जरूर करें। इंडिया टीवी इस फिल्म को दे रहा है 5 में से 2.5 स्टार।

Also Read: 

Mission Mangal Trailer Out: स्पेस, इसरो, साइंस और गर्व... अक्षय कुमार की फिल्म का ट्रेलर देख खड़े हो जाएंगे रोंगटे

रवि दुबे और निया शर्मा ने शुरू की 'जमाई राजा 2.0' की शूटिंग

arun-jaitley