Saaho Movie Review: प्रभास का एक्शन और श्रद्धा कपूर का रोमांस... लेकिन 'साहो' की कमजोर कहानी करती है निराश

Sahoo Movie Review 2019: Know All About Saaho Movie Review Updates - साहो मूवी रिव्यू 2019 ऑनलाइन टिकट्स रिलीज़ डेट, Movie Reviews, कास्ट एंड रिलीज़ डेट टिकट बुकिंग एवेंजर्स फिल्म आपके नजदीकी सिनेमा हॉल में उपलब्ध होगी, साहो के बारे में आप सभी को पता होना चाहिए कि साहो मूवी टिकट की कीमत, howtimes for Sahoo Movie Book Tickets Online on at Paytm.com and BookMyShow

Sonam Kanojia Sonam Kanojia
Updated on: August 30, 2019 16:51 IST
Prabhas and Shraddha in Saaho

Prabhas and Shraddha in Saaho

  • फिल्म रिव्यू: साहो
  • स्टार रेटिंग: 2 / 5
  • पर्दे पर: AUG 30, 2019
  • डायरेक्टर: सुजीत
  • शैली: एक्शन/थ्रिलर

Prabhas and Shraddha Kapoor Starrer Film Saaho Movie Review: 'बाहुबली' और 'बाहुबली 2' जैसी ब्लॉकबस्टर मूवीज के करीब 2 साल बाद साउथ के स्टार प्रभास (Prabhas) सिल्वर स्क्रीन पर दिखाई दिए। 350 करोड़ की लगात में बनी उनकी फिल्म 'साहो' (Saaho) 30 अगस्त को रिलीज हो गई। इसमें श्रद्धा कपूर (Shraddha Kapoor) लीड एक्ट्रेस हैं। फिल्म की शुरुआत एक बड़े शहर की बड़ी बिल्डिंग से होती है, जहां जैकी श्रॉफ (Jackie Shroff), चंकी पांडेय (Chunky Pandey) जैसे उम्दा स्टार्स मीटिंग करते दिखाई देते हैं। इसके बाद कहानी 2 लाख करोड़ की चोरी और ब्लैक बॉक्स के इर्द-गिर्द घूमती रहती है। प्रभास की एंट्री के साथ ही एक्शन की शुरुआत होती है और श्रद्धा के साथ रोमांस पर खत्म, लेकिन इन सबके बीच होता है बहुत सारा ड्रामा।     

एक्शन के मामले में हॉलीवुड फिल्मों को टक्कर देने वाली इस फिल्म की रफ्तार पर इसकी कमजोर कहानी ने धीमी कर दी है। पुरानी कहानी को एक्शन सीन्स में लपेटकर परोसा गया है। अबु धाबी, रोमानिया, हैदराबाद, मुंबई और यूरोप की बेहद खूबसूरत जगहों पर फिल्म की शूटिंग हुई है। लोकेशन और एक्शन सीन्स बहुत अच्छे हैं, लेकिन प्रभास-श्रद्धा की केमिस्ट्री आपका दिल नहीं छू पाती है। स्क्रीनप्ले काफी कंफ्यूजन भरा है और खराब डायरेक्शन की वजह से बोरियत महसूस होती है। ज्यादा ट्विस्ट के चक्कर में मेकर्स ने दर्शकों का सिर घुमा दिया है।

फिल्म की कहानी

मुंबई में 2 हजार करोड़ की चोरी होती है और पुलिस चोर को ढूंढने में नाकामयाब होती है। ऐसे में अंडरकवर पुलिस ऑफिसर प्रभास (अशोक चक्रवर्ती) को बुलाया जाता है। प्रभास क्राइम ब्रांच की ऑफिसर अमृता नायर (श्रद्धा कपूर) के साथ मिलकर चोर (नील नितिन मुकेश) को खोजने के लिए जमीन-आसमान एक कर देते हैं, लेकिन कहानी में कुछ और ही ट्विस्ट निकलता है। इस ट्विस्ट के सामने आने के बाद भी कहानी के अंत तक सस्पेंस बना रहता है और एक और जबरदस्त ट्विस्ट सामने आता है। एक साथ काम करते-करते प्रभास-श्रद्धा प्यार में पड़ जाते हैं। दूसरी तरफ बड़े-बड़े क्रिमिनल्स और गैंगस्टर्स एक चाभी पाना चाहते हैं, जो एक ब्लैक बॉक्स में बंद है। ये चाभी एक ऐसे लॉकर की है, जिसमें बहुत बड़ा राज छिपा हुआ है। अब ये राज क्या है, ये जानने के लिए आपको सिनेमाघर तक जाना पड़ेगा। 

एक्टिंग

एक्टिंग की बात करें तो 'साहो' में प्रभास का वो चार्म नज़र नहीं आया, जो 'बाहुबली' फिल्म में देखने को मिला था। लंबी-चौड़ी कद काठी होने की वजह से एक्शन सीक्वंस में वह जम रहे थे, लेकिन चेहरे के भाव में कुछ कमी नज़र आई। श्रद्धा ने इस फिल्म से साउथ इंडस्ट्री में डेब्यू किया है। ऐसे में उनके फैंस को ज्यादा उम्मीद थी, लेकिन चाहे एक्शन सीन्स हो या फिर रोमांस, श्रद्धा अपनी एक्टिंग से ज्यादा कमाल नहीं दिखा पाईं। साउथ एक्टर अर्जुन विजय भी अपनी छाप छोड़ने में ज्यादा कामयाब नहीं हो पाएं। विलेन के रूप में चंकी पांडेय की एक्टिंग दमदार है। इनके अलावा नील नितिन मुकेश, जैकी श्रॉफ और मंदिरा बेदी, महेश मांजरेकर, मुरली शर्मा औसत लगे, जबकि फिल्म में टीनू आनंद, प्रकाश बेलावाड़ी और एवलिन शर्मा भी नज़र आएं। 

डायरेक्शन

'साहो' फिल्म का डायरेक्शन सुजीत (Sujeeth) ने किया है। डायरेक्शन में आपको कमी सी महसूस होगी। इसी वजह से ही आपको पूरी फिल्म बिखरी नज़र आती है। कोई भी कलाकार अपनी एक्टिंग से प्रभावित नहीं कर पाता है और कुछ सीन्स भी बेबुनियाद लगते हैं। 

डायलॉग्स

फिल्म का एक ही डायलॉग है, जो आपको अंत में याद रह जाता है। प्रभास एक सीन में कहते हैं, 'गली क्रिकेट में तो सब तेंदुलकर हैं, असली टैलेंट वो होता है, जो भरे मैदान के बाहर सिक्सर मार सके।'

म्यूजिक

'साहो' फिल्म का म्यूजिक तनिष्क बाग्ची (Tanishk Bagchi), गुरु रंधावा (Guru Randhawa), बादशाह (Badshah) और शंकर-एहसान-लॉय (Shankar–Ehsaan–Loy) और मोहम्मद घिबरन (Mohamaad Ghibran) ने किया है। फिर चाहे वह 'साइको सईंया' (Psycho Saiyaan) और 'बैड ब्वॉय' (Bad Boy) जैसा मस्ती भरा सॉन्ग हो या फिर 'एन्नी सोणी' (Enni Soni) और 'बेबी वॉन्ट यू टेल मी' (Baby Won't You Tell Me) जैसे रोमांटिक गानें, ये सभी पहले से ही हिट हो चुके हैं। यूट्यूब पर इन गानों को लाखों व्यूज मिले हैं और लोगों को फिल्म के सभी गानें पसंद आए हैं। 

क्या हैं कमियां

- अगर आप यह सोचकर जाएंगे कि आपको 'साहो' में दमदार कहानी देखने को मिलेगी, तो आप थोड़ा निराश हो सकते हैं। इस फिल्म की कहानी में कोई दम नहीं है। 

- फिल्म की शुरुआत से ही कहानी को दिलचस्प बनाने के लिए खूब सारे ट्विस्ट्स दिखाए गए हैं। इन ट्विस्ट्स की वजह से कहानी बिखरी हुई लगती है। 
- कुछ एक्शन सीन्स भी आपको हजम नहीं होंगे, जैसे प्रभास का बिना किसी सपोर्ट के हवा में उड़ जाना।
- फिल्म भले ही अंत तक आपको बांधे रखती है, लेकिन इसकी बेवजह की लंबाई खलती है।
- फिल्म के गानें अच्छे हैं, लेकिन उनकी टाइमिंग खराब है। ऐसा लगता है मानों गानों की वजह से फिल्म खिंच रही है।
- प्रभास की हिंदी में डायलॉग डिलीवरी बहुत धीमे है, जो आपको इरिटेट करेगा।
- स्क्रीनप्ले कंफ्यूजन भरा है और क्लाइमैक्स में भी ज्यादा दम नहीं है।
  
क्यों देखें फिल्म

- अगर आपको एक्शन फिल्में देखने का शौक है और साउथ के स्टार प्रभास के फैन हैं तो ये फिल्म देखने जरूर जाएं। 

इंडिया टीवी इस फिल्म को 5 में से 2 स्टार देता है।

Saaho Trailer: