1. You Are At:
  2. होम
  3. सिनेमा
  4. बॉलीवुड
  5. फैशन आइकॉन हैं करीना कपूर लेकिन पति सैफ को नहीं पसंद आते हैं बेबो की पसंद के कपड़े

फैशन आइकॉन हैं करीना कपूर लेकिन पति सैफ को नहीं पसंद आते हैं बेबो की पसंद के कपड़े

यह पूछे जाने पर क्या करीना कभी उनके लिए भी खरीदारी करती है, सैफ ने मुस्कुराते हुए कहा, "नहीं, बिल्कुल नहीं।

Written by: India TV Entertainment Desk [Updated:10 Nov 2018, 6:58 PM IST]
saif kareena- India TV
saif kareena

मुंबई: अभिनेता सैफ अली खान ने फ्लिपकार्ट के स्वामित्व वाली ऑनलाइन फैशन रिटेलर मिंत्रा के साथ मिलकर खुद का एथनिक फैशन ब्रांड 'हाउस ऑफ पटौदी' लांच किया है। सैफ का कहना है कि इस क्लोदिंग लाइन के जरिए वे अपनी पुरानी विरासत को लोगों तक पहुंचाना चाहते हैं। सैफ ने यहां आईएएनएस को बताया, "मुझे कपड़ों से प्यार है। मुझे कपड़ों में एथनिक स्टाइल की अच्छी समझ है। मै समझता हूं कि बाजार में एथनिक कपड़े उतने उपलब्ध नहीं हैं और ज्यादा से ज्यादा लोग अब एथनिक कपड़े ऑनलाइन खरीदना चाहते हैं। इसलिए मैंने मिंत्रा के सीईओ से बात की. और हमने 'हाउस ऑफ पटौदी' के विचार को मूर्त रूप दिया।"

फैशन के मामले में सैफ अपनी पत्नी करीना कपूर खान की भी कम तारीफ नहीं करते हैं और उन्हें फैशन आयकॉन करार देते हैं। सैफ ने कहा, "करीना को फैशन की अदभुत समझ है। वह हमेशा कपड़ों में रुचि लेती है। जब भी हम मिलते हैं, वह हमेशा कार्यक्रमों में पहनने के लिए शानदार ड्रेसेज की खरीदारी करती है। मैं समझता हूं कि उन्हें भी अपने शानदार ड्रेसेज को बेंचमार्क करना शुरू कर देना चाहिए। उसके बाद हर कोई उसी जगह से कपड़े खरीदेगा और वैसी ड्रेसेज प्राप्त कर पाएगा।"

यह पूछे जाने पर क्या करीना कभी उनके लिए भी खरीदारी करती है, सैफ ने मुस्कुराते हुए कहा, "नहीं, बिल्कुल नहीं। मैं अपने कपड़े खुद चुनता हूं..अगर आपको महिलाओं के कपड़ों की अच्छी समझ है, तो इसका मतलब यह नहीं है कि आपकों पुरुषों के कपड़ों की भी अच्छी समझ होगी। दोनों में काफी अंतर है। कभी-कभी तो यह और भी जटिल हो जाता है।" 

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Bollywood News in Hindi के लिए क्लिक करें सिनेमा सेक्‍शन
Web Title: फैशन आइकॉन हैं करीना कपूर लेकिन पति सैफ को नहीं पसंद आते हैं बेबो की पसंद के कपड़े saif on kareena fashion sense
Write a comment