1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. सिनेमा
  4. बॉलीवुड
  5. Jabariya Jodi: दहेज प्रथा पर बोलीं परिणीति चोपड़ा, 'एक लड़की की कीमत...'

Jabariya Jodi: दहेज प्रथा पर बोलीं परिणीति चोपड़ा, 'एक लड़की की कीमत...'

परिणीति चोपड़ा और सिद्धार्थ मल्होत्रा की फिल्म 'जबरिया जोड़ी' 9 अगस्त को रिलीज होगी।

IANS IANS
Updated on: August 04, 2019 23:19 IST
परिणीति चोपड़ा- India TV
परिणीति चोपड़ा

नई दिल्ली: भारत में 1961 से दहेज लेने व देने को गैर-कानूनी माना जाता है, लेकिन समाज में आज भी इसका प्रचलन है। ऐसे में अभिनेत्री परिणीति चोपड़ा को आश्चर्य होता है कि कैसे भारतीय परिवार इसे 'तोहफा' मान सकते हैं। 

परिणीति ने आईएएनएस को बताया, "सब जानते हैं कि दहेज-प्रथा गैरकानूनी और अनैतिक है, लेकिन वे फिर भी इसका लेन-देन करते हैं। ऐसे में मुझे गुस्सा तो तब आता है जब लोग इसे अच्छा बनाने के लिए 'तोहफा' का जामा पहना देते हैं। दहेज का साफ अर्थ यही होता है कि आप लड़की की कीमत लगा रहे हैं और उसे खरीद रहे हैं।"

अपनी आगामी फिल्म 'जबरिया जोड़ी' के प्रोमोशन के दौरान अभिनेत्री ने कहा, "हम खुद को आधुनिक कहते हैं, लेकिन फिर हम क्या कर रहे हैं? श्रेष्ठ दिखने के लिए हम लड़की के परिवार वालों से पैसे और लक्जेरियस चीजों की मांग करते हैं। हमारे देश का यह नजारा दुर्भाग्यपूर्ण है।"

दहेज देना एक और अपराध को न्योता देने जैसा है। इसमें से ही एक अपराध बालिगों को पकड़ कर जबरदस्ती बंदूक की नोक पर शादी करने के मजबूर करना है। इस अपराध को 'पकड़वा विवाह' (जबरदस्ती शादी) के नाम से जाना जाता है। यह बिहार में सालों से चला आ रहा है। अक्सर ऐसी जबरदस्ती शादियां इसलिए भी होती है, क्योंकि वरपक्ष शादी करने के लिए ढेर सारा दहेज मांगते हैं।

Also Read:

शाहरुख खान की कंपनी ने खरीदे इस फेमस वेब सीरीज के राइट्स, फिल्म में ये एक्टर निभा सकता है लीड रोल

बिना कोई डाइट फॉलो किए अक्षय कुमार ने घटा लिया 5-6 किलो वजन, इन फिल्मों के लिए शुरू कर दी तैयारी

Related Video
India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Bollywood News in Hindi के लिए क्लिक करें सिनेमा सेक्‍शन
Write a comment