1. You Are At:
  2. होम
  3. सिनेमा
  4. बॉलीवुड
  5. 'Padmaavat' movie review: जाबांज महारानी पद्मावती के अदम्य साहस और बलिदान की कहानी, दीपिका पादुकोण का दमदार अभिनय

'पद्मावत' movie review: दीपिका का सुंदरता में डूबा सम्‍मोहित कर देने वाला शानदार अभिनय, Box office पर दिखा रणवीर सिंह का खौफनाक जानवर सा अंदाज

पद्मावत movie review: दीपिका पादुकोण, रणवीर सिंह और शाहिद कपूर के अभिनय से सजीं फिल्‍म पद्मावत अंतत: 25 जनवरी 2018 को बॉक्‍स ऑफिस पर रिलीज होने जा रही है...

Reported by: Jyoti Jaiswal [Updated:24 Jan 2018, 2:04 PM IST]
padmaavat- India TV
padmaavat

पद्मावत फिल्‍म Review 'Padmaavat’: संजय लीला भंसाली के निर्देशन में बनीं और दीपिका पादुकोण, रणवीर सिंह और शाहिद कपूर (Shahid Kapoor) के अभिनय से सजीं फिल्‍म 'पद्मावत' (Padmaavat) को सिनेमाई कहानी कहने की कला और विजुअल इफेक्‍ट के चलते दर्शक इसे पसंद करेंगे। यह दीपिका पादुकोण (Deepika Padukone), की बेजोड़ ब्‍यूटी और रानी पद्मावती के किरदार में शानदार अभिनय के लिए तो याद की जाएगी, साथ ही रणवीर सिंह (Ranveer Singh) को खिलजी के खूंखार अवतार में दमदार अभिनय के लिए भी दर्शक पसंद करेंगे।मलिक मोहम्‍मद जायसी ने पद्मावत को कविता की शैली में लिखते हुए महारानी पद्मावती के जौहर और राजपूतों के गौरवशाली इतिहास को बताया था तो संजय लीला भंसाली को भी इस बात के लिए आपको साधुवाद देना पड़ेगा कि उन्‍होंने इस महाकाव्‍य को बॉक्‍स ऑफिस के बड़े परदे पर उतनी ही भव्‍यता के साथ फिल्‍मांकन किया है। फिल्‍म देखते समय आपको इस बात का अहसास ही नहीं होता कि इस फिल्‍म में ऐसा कुछ है जिसके चलते इस पर इतना विवाद और शोर मचाया गया। करणी सेना से जुड़े लोगों को भी यह फिल्‍म देखनी ही चाहिए। बॉक्‍स ऑफिस के बड़े परदे पर जब आंखों के सामने घूमर गीत शुरू होता है तो उसका उसका वैभव, उसकी कोरियोग्राफी देखते ही बनती है।

हालांकि फिल्‍म शुरुआत में कई जगह स्‍लो नजर आती है, उसकी समय सीमा भी तीन घंटे होने से कुछ दर्शक उतना कनेक्‍ट शायद ना हो पाएं लेकिन रणवीर सिंह ने खिलजी के किरदार को जिस अंदाज में जिया है वह अपने आप में बेजोड़ है। 2018 में शायद नकारात्‍मक किरदार इससे दमदार, खूंखार खलनायक आपको देखने को ना मिलें। यां फिर आप यूं समझ लें कि बॉक्‍स ऑफिस पर लंबे समय बाद खिलजी (रणवीर सिंह) के रूप में एक ऐसा खलनायक नजर आया है जिसे देखकर दर्शक हैरान हो जाते हैं।


फिल्‍म दर्शक इस बात को जानने के उत्‍सुक होंगे कि क्‍या फिल्‍म में विवाद जैसी कोई बात है की नहीं?
तो ऐसे दर्शको को से मैं यह जानकर खुशी होगी की जो फिल्‍म बॉक्‍स ऑफिस पर रिलीज हो रही है उसमें ऐसा कुछ भी नहीं है जिससे राजपूत समुदाय को नाराज होना चाहिए,बल्कि फिल्‍म देखकर उनको गर्व का अहसास होगा। 

दूसरी बात क्‍या यह संजय लीला भंसाली की सबसे बेहतरीन फिल्‍म कही जा सकती है?
रामलीला और बॉजीराव मस्‍तानी से इस फिल्‍म की तुलना नहीं करनी चाहिए लेकिन मुझे लगता है कि कहानी कहने की कला में बेजोड़ संजय लीला भंसाली ने कलाकारों से तो शानदार अभिनय करवाया,सिनेमैटाग्राफी भी फिल्‍म की कमाल की है लेकिन ऐसा लगता है कि यह बॉजीराव मस्‍तानी के टक्‍कर की फिल्‍म नहीं बन पाई।देवदास और बॉजीराव मस्‍तानी जैसी फिल्‍म बनाने वाले संजय लीला भंसाली की इस फिल्‍म को उतना दमदार नहीं कहा जा सकता जितनी की उम्‍मीद की जा रही थी।

दीपिका पादुकोण और रणवीर सिंह में किसका अभिनय रहा दमदार? 
दीपिका पादुकोण रानी पद़मावती के रोल में बेजोड़ नजर आई है,उनमा अप्रतिम सौदर्य राजपूत महारानी के रूप में निखर कर आया है, उनके अभिनय में अलग किस्‍म की पराकाष्‍ठा देखने को मिलती है। लेकिन जिस खिलजी के किरदार को रणवीर सिंह ने बॉक्‍स ऑफिस पर जानवर सा जिया है उसे देखना अपने आप में हैरान कर देता है,एक ऐसा चरित्र जिसे देखने मात्र से आपको नफरत हो जाए,रणवीर सिंह उस चरित्र के अंदर इस कदर घुस गए है कि वह रणवीर सिंह नजर ही नहीं आते मानों परकाया प्रवेश कर गए है और यह एक शानदार कलाकार की पहचान होती है। निश्चित रूप से रणवीर सिंह पद़मावत में जबरदस्‍त खलनायक बनके सामने आए है। बॉलीवुड के बॉक्‍स ऑफिस पर इस खिलजी से आपको नफरत हो जाएगी लेकिन रणवीर सिंह के अभिनय का अलग मुकाम देखने को भी मिलेगा। 
 
आखिर इस फिल्‍म को क्‍यों देखा जाए ? 
मलिक मोहम्‍मद जायसी के महाकाव्‍य पद़मावत पर बनीं इस फिल्‍म की कहानी में पद़मावती के जौहर को देखने के लिए,दीपिका के दमदार अभिनय के लिए,रणवीर सिंह और शाहिद कपूर के शानदार अभिनय और गजब की सिनेमेटोग्राफी आपको पसंद आएगी। और सबसे जरूरी बात यह जानने के लिए कि इस फिल्‍म में ऐसा कोई विवाद नहीं नजर आता,ऐसा कोई सीन या संवाद नहीं है जो राजपूतों के गौरवशाली इतिहास पर चोट पहुंचाता हो, बल्कि इस फिल्‍म को देखकर आपको गर्व का अहसास ही होता है।

फिल्‍म पद्मावत को आज मीडिया जगत को दिखाया जा रहा है और khabarindiatv.com के दर्शकों के लिए फिल्‍म रिपोर्टर ज्‍योति जायसवाल इस फिल्‍म का लाइव फिल्‍म रिव्‍यू करते हुए फिल्‍म से जुड़ी खास बातें आपके साथ शेयर कर रही हैं: 

LIVE (पद्मावत) Padmaavat movie review : सबसे पहले बात फिल्‍म निर्देशक संजय लीला भंसाली की जो फिल्‍म  पद्मावत के निर्माता और निर्देशक है। आज वो फिल्‍म जगत में अपनी फिल्‍मों के दम पर ऐसा स्‍थान बना चुके है कि उनकी फिल्‍मों को देखने के लिए दर्शकों में एक खास क्रेज रहता है और एक बार फिर बॉक्‍स ऑफिस पर अपनी नई फिल्‍म पद्मावत के साथ दर्शको के बीच आ रहे हैं।​

- इस फिल्‍म की कहानी मलिक मोहम्‍मद जायसी द्वारा कविता की शैली में लिखे गए महाग्रंथ पद्मावत पर आधारित है,जिसमें राजपूत महारानी पद्मावती के अदम्य साहस और बलिदान और उनके जौहर की कहानी को बताया गया है।

- संजय लीला भंसाली की फिल्‍म पद़मावत 163.28 सेकंड की है और फिल्‍म की शुरुआत में फिल्‍म निर्माता ने इसे एक काल्‍पनिक कहानी के डिस्‍कलेमर के साथ रिलीज किया है।फिल्‍म में दीपिका पादुकोण की इंट्री जंगल में धनुष बाण चलाते हुए और हिरण के शिकार करते हुए दिखाई गई है। अब ये तीर हिरण को लगता है या किसी और को इसको हम यहां शेयर नहीं कर रहे हैं।
- महारानी पद्मावती के दमदार रोल में दीपिका पादुकोण के होने से फिल्‍म से दर्शकों की उम्‍मीदें और भी बढ़ जाती है और अभिनेता रणवीर सिंह को खिलजी के खूंखार रूप में देखना अपने आप में रोचकता का आभास दिलाता है। शाहिद कपूर को महाराजा रतनसिंह के शौर्यवान रूप में दर्शको की रूची का खास कारण बनने जा रहा है। 

-सबसे खास बात फिल्‍म निर्देशक संजय लीला भंसाली की 'देवदास' से लेकर 'रामलीला' और 'बाजीराव-मस्‍तानी' तक फिल्‍मों की यात्रा में कहानी में भव्‍यता के साथ ड्रामा का जबरदस्‍त असर रहता है और फिल्‍म में गीत संगीत का भी कहानी के साथ शानदार तारतम्‍य देखने को मिलता है,फिल्‍म पद्मावत में भी आपको कुछ ऐसा ही देखने को मिलने जा रहा है,एक ऐसी सिनेमाई कहानी जो आपका मनोरंजन तो करेगी ही साथ ही आपको राजपूतों के गौरवगाथा की भी याद दिलाने जा रही है।

- फिल्‍म की शुरुआत के 30 से 45 मिनट काफी स्‍लो हैं,इस दौरान राजा रतन सिंह का विवाह पद़मावती से होना और दिल्‍ली की सल्‍लतनत पर खिलजी का आना दो बड़ी बातें फिल्‍म में दिखाई गई है। 
- फिल्‍म में घूमर गीत को दिखाया गया है और महाराज रतन सिंह के अलावा उस समय कोई और पुरुष वहां नहीं होता है। फिल्‍म में रानी पद़मावती की ड्रेस पर विशेष ध्‍यान रखा गया है,कुछ संपादन के साथ गीत को बॉक्‍स ऑफिस पर दिखाया गया है,कमर और पेट का पूरी तरह से कपड़ों से ढके हुए नजर आ रहे हैं,गौरतलब है कि इस गीत के फिल्‍माकंन को लेकर कुछ विरोध दर्ज हुआ था जिसके बाद उसे संपादित करके दर्शको को दिखाया गया है।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Bollywood News in Hindi के लिए क्लिक करें सिनेमा सेक्‍शन
Web Title: 'पद्मावत' movie review: जाबांज महारानी पद्मावती के अदम्य साहस और बलिदान की कहानी, दीपिका पादुकोण का दमदार अभिनय
Write a comment
the-accidental-pm-300x100