1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. सिनेमा
  4. बॉलीवुड
  5. Amrish Puri's Birthday:गूगल ने बनाया अमरीश पुरी का डूडल, इस खास अंदाज में किया याद

Amrish Puri's Birthday:गूगल ने बनाया अमरीश पुरी का डूडल, इस खास अंदाज में किया याद

 बॉलीवुड के दिवंगत एक्टर अमरीश पुरी या यूं कहें मोगैंबो का आज 87वां बर्थडे है। आज वह हमारे बीच नहीं है लेकिन उनकी फिल्में और डायलॉग्स आज भी हमारे कानों में गुंजते हैं।

India TV Entertainment Desk India TV Entertainment Desk
Published on: June 22, 2019 14:14 IST
अमरीश पुरी- India TV
Image Source : अमरीश पुरी

नई दिल्ली:  बॉलीवुड के दिवंगत एक्टर अमरीश पुरी या यूं कहें मोगैंबो का आज 87वां बर्थडे है। आज वह हमारे बीच नहीं है लेकिन उनकी फिल्में और डायलॉग्स आज भी हमारे कानों में गुंजते हैं। इस खास दिन को और खास बनाने के लिए गूगल ने उन्हें याद करते हुए अमरीश पुरी का डूडल बनाया है। गूगल ने फिल्म दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे (DDLJ) में उनके लुक पर स्केच बनाया है।

अध‍िकतर लोग अमरीश पुरी को उनके किरदार मोगैंबो के लिए जानते हैं लेकिन गूगल ने फिल्म दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे (DDLJ) में उनके लुक पर स्केच बनाया है। फिल्म दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे में अमरीश पुरी ने काजोल (सिमरन) के पिता चौधरी बलदेव सिंह का किरदार निभाया था। इस फिल्म का डायलॉग 'जा सिमरन जा, जी ले अपनी जिंदगी' काफी मशहूर है।

22 जून 1932 को पंजाब के नवनशहर में जन्में अमरीश पुरी हिंदी सिनेमा जगत के ऐसे अभिनेता थे जो अपने नेगेटिव रोल्स के लिए मशहूर थे। एक्ट‍िंग से पहले उन्होंने एंप्लोइज स्टेट इंश्योरेंस कॉरपोरेशन (ESIC) में 21 साल तक काम किया था। इसी दौरान उन्हें अपनी कलीग उर्मिला देवीकर से प्यार हो गया। बाद में दोनों ने शादी कर ली। उनके दो बच्चे राजीव पुरी और नम्रता पुरी हैं।

1980-90 के दशक में शायद ही कोई फिल्म होगी जिसमें अमरीश पुरी ने विलेन का किरदार नहीं निभाया होगा। 1987 में शेखर कपूर की फिल्म मिस्टर इंडिया में मोगैंबो के किरदार में अमरीश पुरी ने खूब शोहरत बटोरी। लगातार कई फिल्मों में नेगेटिव रोल्स करने के कारण असल जिंदगी में भी लोगों को उनका खौफ रहता था। एक बार उनके बेटे राजीव पुरी ने बताया कि उनके (राजीव के) दोस्त उनके घर आने से डरते थे। उन्हें लगता था कि अमरीश पुरी बहुत सख्त होंगे। लेकिन कुछ दिनों के बाद राजीव के दोस्तों ने अमरीश की सच्चाई जानी और सहज रूप से उनके घर आने लगे।

बॉलीवुड में आने से पहले अमरीश के दो भाई चमन पुरी और मदन पुरी बॉलीवुड में पांव जमा चुके थे। उनके नक्शे कदम पर चलते हुए अमरीश ने भी फिल्मों का रुख किया, लेकिन स्क्रीन टेस्ट में फेल होने के कारण उन्हें सिलेक्ट नहीं किया गया। हालांकि इस दौरान भी वे थिएटर से जुड़े रहे।

अमरीश पुरी ने लंबे समय तक ESIC में सेवा देने के बाद बॉलीवुड में एंट्री ली थी। उस वक्त उनकी उम्र लगभग 40 के पास थी। प्रेम पुजारी फिल्म से उन्हें पहला ब्रेक मिला था। इसके बाद उन्होंने कई फिल्मों में अपने अभिनय का लोहा मनवाया। नेगेटिव रोल्स के अलावा उनके सकारात्मक किरदार भी पर्दे पर खूब पसंद किए गए हैं। विरासत, इतिहास, दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे (DDLJ), घातक आदि कई फिल्मों में उनके पॉजीटिव रोल्स ने लोगों का दिल जीत लिया। उन्होंने लगभग 400 फिल्मों में काम किया है। उन्होंने हॉलीवुड डायरेक्टर स्टीवन स्पीलबर्ग के साथ फिल्म इंडियाना जोन्स: द टेंपल ऑफ डूम में भी काम किया है।

अमरीश पुरी का निधन 12 जनवरी 2005 को 72 साल की उम्र में हो गया था। वे माइलोडीस्प्लास्ट‍िक सिंड्रोम नाम के एक ब्लड कैंसर से जूझ रहे थे।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Bollywood News in Hindi के लिए क्लिक करें सिनेमा सेक्‍शन
Write a comment
budget-2019