rajasthan-assembly-elections
  1. You Are At:
  2. होम
  3. इलेक्‍शन
  4. राजस्थान विधानसभा चुनाव 2018
  5. RTI से हुआ खुलासा, राजस्थान में विधायकों के वेतन-भत्तों पर 90.79 करोड़ खर्च

RTI से हुआ खुलासा, राजस्थान में विधायकों के वेतन-भत्तों पर 90.79 करोड़ खर्च

आरटीआई से मिली जानकारी से पता चलता है कि वित्त वर्ष 2013-14 में राजस्थान के विधायकों के वेतन-भत्तों पर खर्च राशि 12.15 करोड़ रुपये के स्तर पर थी, जो वित्तीय वर्ष 2017-18 में डेढ़ गुना से भी ज्यादा बढ़कर 18.74 करोड़ रुपये पर पहुंच गई।

Edited by: IndiaTV Hindi Desk [Published on:05 Dec 2018, 6:36 PM IST]
vasundhara raje- India TV
vasundhara raje

इंदौर: राजस्थान विधानसभा चुनावों के 7 दिसंबर को होने वाले मतदान से पहले सूचना के अधिकार (RTI) से खुलासा हुआ है कि पिछले साढ़े पांच वित्तीय वर्षों के दौरान सूबे के 200 विधायकों के वेतन-भत्तों पर 90.79 करोड़ रुपये खर्च किए गए। इस अवधि में राज्य के पूर्व विधायकों की पेंशन की मद में सरकारी खजाने से 80.32 करोड़ रुपये का भुगतान किया गया।

मध्यप्रदेश के नीमच निवासी आरटीआई कार्यकर्ता चंद्रशेखर गौड़ ने बताया कि उन्हें जयपुर स्थित राजस्थान विधानसभा सचिवालय से सूचना के अधिकार के तहत यह जानकारी मिली है। राजस्थान विधानसभा सदस्यों के वेतन-भत्तों और पूर्व विधायकों की पेंशन के ये आंकड़े एक अप्रैल 2013 से 26 सितंबर 2018 तक की अवधि के हैं।

आरटीआई से मिली जानकारी से पता चलता है कि वित्त वर्ष 2013-14 में राजस्थान के विधायकों के वेतन-भत्तों पर खर्च राशि 12.15 करोड़ रुपये के स्तर पर थी, जो वित्तीय वर्ष 2017-18 में डेढ़ गुना से भी ज्यादा बढ़कर 18.74 करोड़ रुपये पर पहुंच गई।

बहरहाल, पांच वित्तीय वर्षों की इस आलोच्य अवधि में राजस्थान के पूर्व विधायकों को मिलने वाली पेंशन पर होने वाला सरकारी भुगतान लगभग तीन गुना बढ़ गया। राजस्थान में वित्तीय वर्ष 2013-14 के दौरान पूर्व विधायकों की पेंशन पर खर्च रकम 7.67 करोड़ रुपये थी, जो वित्तीय वर्ष 2017-18 में बढ़कर 22.59 करोड़ रुपये पर पहुंच गई।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Rajasthan Assembly Election 2018 News in Hindi के लिए क्लिक करें इलेक्‍शन सेक्‍शन
Web Title: RTI से हुआ खुलासा, राजस्थान में विधायकों के वेतन-भत्तों पर 90.79 करोड़ खर्च
Write a comment