1. You Are At:
  2. होम
  3. इलेक्‍शन
  4. इलेक्‍शन न्‍यूज
  5. विधानसभा चुनाव: भाजपा, कांग्रेस और अन्य पार्टियों के लिए कितना मायने रखते हैं एग्जिट पोल के नतीजे

विधानसभा चुनाव: भाजपा, कांग्रेस और अन्य पार्टियों के लिए कितना मायने रखते हैं एग्जिट पोल के नतीजे

5 राज्यों में हुए विधानसभा चुनावों के बाद शुक्रवार को आए एग्जिट पोल्स के बाद बेहद ही दिलचस्प तस्वीर उभरकर सामने आई है।

Edited by: IndiaTV Hindi Desk [Updated:08 Dec 2018, 12:07 PM IST]
Assembly Elections 2018- India TV
Assembly Elections 2018 | PTI

नई दिल्ली: 5 राज्यों में हुए विधानसभा चुनावों के बाद शुक्रवार को आए एग्जिट पोल्स के बाद बेहद ही दिलचस्प तस्वीर उभरकर सामने आई है। अधिकांश एग्जिट पोल्स के मुताबिक, राजस्थान में कांग्रेस और मध्य प्रदेश एवं छत्तीसगढ़ में भाजपा की सरकार बनती दिखाई दे रही है। वहीं, तेलंगाना में के. चंद्रशेखर राव की तेलंगाना राष्ट्र समिति अपने दम पर बहुमत लाती हुई दिख रही है। मिजोरम की बात करें तो वहां कांग्रेस को इस बार हार का मुंह देखना पड़ सकता है। यदि 11 तारीख को चुनाव परिणाम एग्जिट पोल्स के नतीजों के आसपास भी रहते हैं तो भारतीय राजनीति पर इसके बड़े प्रभाव देखने को मिल सकते हैं।

कांग्रेस जीती तो बढ़ेगा राहुल गांधी का कद

एग्जिट पोल्स के आंकड़े सही साबित हुए तो राजस्थान में कांग्रेस इस बार सरकार बना सकती है। वहीं, मध्य प्रदेश में भी कांग्रेस की सीटों में अच्छी-खासी संख्या में बढ़ोतरी होने की उम्मीद है। यदि ऐसा होता है तो निश्चित तौर पर राहुल गांधी के नेतृत्व को एक बड़े स्तर पर स्वीकार्यता मिलेगी। वहीं, यदि भाजपा राजस्थान को बचाने में कामयाब रहती है तो राहुल को इसका झटका भी लग सकता है। राजस्थान और मध्य प्रदेश में कांग्रेस की हार अन्य क्षेत्रीय दलों को उसपर हावी होने का मौका दे सकती है और लोकसभा चुनावों में सीटों के लिए सौदेबाजी में राहुल की पार्टी को घाटा उठाना पड़ सकता है।

देखें: इंडिया टीवी-CNX मध्य प्रदेश एग्जिट पोल

मुश्किल में होगा महागठबंधन का निर्माण
इस बार सिर्फ तेलंगाना में ही एक मजबूत महागठबंधन के. चंद्रशेखर राव के खिलाफ ताल ठोक रहा है। इसमें कांग्रेस और टीडीपी प्रमुख पार्टियां हैं। एग्जिट पोल के नतीजों के मुताबिक, तेलंगाना में महागठबंधन को मुंह की खानी पड़ सकती है और यह महागठबंधन की सेहत के लिए अच्छा नहीं होगा। तेलंगाना की हार से यह संदेश जाएगा कि मजबूत प्रतिद्वंदी को हराने में महागठबंधन उतना कारगर नहीं है और दो प्रतिद्वंदियों के साथ आने से वोटों के तीसरी जगह ट्रांसफर होने का खतरा है।

देखें: इंडिया टीवी-CNX राजस्थान एग्जिट पोल

राजस्थान में ‘रानी’ की विदाई
राजस्थान विधानसभा चुनावों के एग्जिट पोल भारतीय जनता पार्टी के लिए टेंशन ही लेकर आए हैं। किसी भी प्रमुख एग्जिट पोल में भाजपा की जीत की भविष्यवाणी नहीं की गई है। यदि ऐसा होता है तो मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे की न सिर्फ गद्दी जाएगी बल्कि वह राज्य में भाजपा की सबसे बड़ी नेता होने का रसूख भी खो सकती है। जनता की मानें तो वसुंधरा ने काम भी ठीक-ठाक किया है, लेकिन उनका अहंकार, एंटि-इनकंबैंसी और अनंदपाल एनकाउंटर के बाद राजपूतों की कथित नाराजगी वसुंधरा के भविष्य पर भारी पड़ सकते हैं।
देखें: इंडिया टीवी-CNX छत्तीसगढ़ एग्जिट पोल

धीमी पड़ जाएगी मोदी लहर
इन राज्यों के विधानसभा चुनावों में यदि भारतीय जनता पार्टी का प्रदर्शन अच्छा नहीं रहता है तो इसका असर 2019 के लोकसभा चुनावों पर भी पड़ सकता है। इन चुनावों में हार के साथ ही जनता में यह संदेश जाएगा कि नरेंद्र मोदी का जादू कम हो रहा है। साथ ही देश के दूसरे सबसे लोकप्रिय नेता के रूप में राहुल गांधी को मजबूती मिल सकती है जो 2019 तक आते-आते कांग्रेस के लिए कमाल दिखा सकती है।

देखें: इंडिया टीवी-CNX तेलंगाना एग्जिट पोल

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। News News in Hindi के लिए क्लिक करें इलेक्‍शन सेक्‍शन
Web Title: Assembly Elections 2018: What exit poll predictions may mean for BJP, Congress and other parties
Write a comment