1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. इलेक्‍शन
  4. लोकसभा चुनाव 2019
  5. देशभर में चुनाव आचार संहित तुरंत प्रभाव से खत्म, ECI ने दी जानकारी

देशभर में चुनाव आचार संहित तुरंत प्रभाव से खत्म, ECI ने दी जानकारी

Model code of conduct removed: चुनाव आयोग ने 10 मार्च को लोकसभा चुनाव और 4 राज्य यानि आंध्र प्रदेश, ओडिशा, अरुणाचल प्रदेश तथा सिक्किम के लिए चुनाव कार्यक्रम का ऐलान किया था जिसके बाद देशभर में चुनाव आचार संहिता लागू हो गई थी।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: May 26, 2019 16:21 IST
Model code of conduct removed with immediate effect says ECI- India TV
Model code of conduct removed with immediate effect says ECI

नई दिल्ली। देशभर में लोकसभा चुनाव के साथ 4 राज्यों में विधानसभा चुनाव नतीजे आने के बाद चुनाव आयोग ने रविवार को चुनाव आचार संहिता खत्म करने की घोषणा की है। आयोग ने तुरंत प्रभाव से चुनाव आचार संहिता खत्म कर दी है। गुरुवार और शुक्रवार को लोकसभा और विधानसभा चुनाव परिणाम घोषित हुए थे। शनिवार को चुनाव आयोग ने चुनाव जीतने वाले सांसदों की पूरी सूचि राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को सौंप दी है।

चुनाव आयोग ने 10 मार्च को लोकसभा चुनाव और 4 राज्य यानि आंध्र प्रदेश, ओडिशा, अरुणाचल प्रदेश तथा सिक्किम के लिए चुनाव कार्यक्रम का ऐलान किया था जिसके बाद देशभर में चुनाव आचार संहिता लागू हो गई थी। आयोग ने 7 चरणों में लोकसभा चुनाव कराने का ऐलान किया था, पहले चरण का मतदान 11 अप्रैल को हुआ था और 7वें चरण के लिए 19 मई को मतदान हुआ, इसके बाद 23 और 24 मई को लोकसभा चुनाव परिणाम घोषित हुए।

इस बार लोकसभा चुनावों में सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी की अगुवाई वाले राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन को भारी बहुमत मिला है, 542 लोकसभा सीटों में गठबंधन को 353 सीटों पर जीत मिली है, अकेले भारतीय जनता पार्टी 303 सीटों पर जीत प्राप्त करने में कामयाब हुई है। मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस सिर्फ 52 सीटों पर ही जीत प्राप्त कर पाया है जबकि तीसरे नंबर पर 23 सीटों के साथ डीएमके, चौथे पर 22-22 सीटों के साथ टीएमसी और वाईएसआर कांग्रेस और पांचवें नंबर पर 18 सीटों के साथ शिवसेना है।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Lok Sabha Chunav 2019 News in Hindi के लिए क्लिक करें इलेक्‍शन सेक्‍शन
Write a comment
arun-jaitley