Live TV
GO
Hindi News विदेश अमेरिका मैं कहना तो नहीं चाहता लेकिन...

मैं कहना तो नहीं चाहता लेकिन वेनेजुएला में सैन्य हस्तक्षेप भी एक विकल्प है: डोनाल्ड ट्रंप

गौरतलब है कि अमेरिका मादुरो को हटाने के लिए वैश्विक अभियान का नेतृत्व कर रहा है। मादुरो पर निरंकुश शासक होने का आरोप है।

IndiaTV Hindi Desk
IndiaTV Hindi Desk 04 Feb 2019, 8:30:20 IST

वॉशिंगटन: दक्षिण अमेरिकी देश वेनेजुएला का संकट खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है। यहां सत्ता के लिए चल रही खींचतान के बीच अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने रविवार को कहा कि वेनेजुएला में सैन्य हस्तक्षेप करना एक विकल्प है। दरअसल, पश्चिमी देश सोशलिस्ट नेता निकोलस मादुरो पर इस्तीफा देने के लिए दबाव बना रहे हैं। साथ ही, वे विपक्षी नेता एवं स्वयंभू अंतरिम राष्ट्रपति जुआन गुइदो को सत्ता सौंपना चाहते हैं। अमेरिका ने गुइदो को 23 जनवरी को अंतरिम राष्ट्रपति के तौर पर मान्यता दी थी। 

गौरतलब है कि अमेरिका मादुरो को हटाने के लिए वैश्विक अभियान का नेतृत्व कर रहा है। मादुरो पर निरंकुश शासक होने का आरोप है। ट्रंप ने सीबीएस न्यूज को कहा, ‘मैं यह नहीं कहना चाहता। लेकिन निश्चित रूप से यह (सैन्य हस्त्क्षेप) एक विकल्प है।’ आपको बता दें  कि ट्रंप ने बार-बार चेतावनी दी है कि वेनेजुएला में सारे विकल्प खुले हुए हैं। गौरतलब है कि मादुरो के नेतृत्व में वेनेजुएला आर्थिक संकट से जूझ रहा है, जहां खाने पीने की चीजें और दवाइयों की कमी पड़ गई है।

वहीं, इससे पहले अमेरिका के उपराष्ट्रपति माइक पेंस ने फ्लोरिडा में कहा था कि यह वक्त वेनेजुएला के राष्ट्रपति निकोलस मादुरो के समाजवादी शासन को समाप्त करने के लिए काम करने का है। पेंस ने बीते शुक्रवार को वेनेजुएला के लोगों से कहा कि अमेरिका ‘सत्ता के शांतिपूर्ण हस्तांतरण’ की ओर काम कर रहा है ताकि विपक्षी नेता जुआन गुएडो सत्ता में आ सके। साथ ही उन्होंने आश्वस्त किया कि राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का प्रशासन मादुरो की स्थिति कमजोर करेगा।

India Tv पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। US News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन

More From US