Live TV
GO
  1. Home
  2. विदेश
  3. अमेरिका
  4. उत्तर कोरिया अब भी बना रहा...

उत्तर कोरिया अब भी बना रहा है परमाणु सामग्री, ट्रंप-किम की बातचीत असफल?

पोम्पिओ ने सीनेट की विदेश संबंधों की समिति के समक्ष सांसदों से कहा, ‘‘हां, वे अब भी परमाणु सामग्री बना रहे हैं।’’

India TV News Desk
Edited by: India TV News Desk 26 Jul 2018, 12:17:14 IST

वाशिंगटन: अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ ने सांसदों को बताया कि उत्तर कोरिया अब भी परमाणु सामग्री बना रहा है। दरअसल छह सप्ताह पहले ही राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा था कि उत्तर कोरिया की ओर से परमाणु हमले का अब कोई खतरा नहीं है।

उत्तर कोरिया बना रहा हैं परमाणु सामग्री

पोम्पिओ ने सीनेट की विदेश संबंधों की समिति के समक्ष सांसदों से कहा, ‘‘हां, वे अब भी परमाणु सामग्री बना रहे हैं।’’ ट्रंप ने 12 जून को सिंगापुर में उत्तर कोरियाई नेता किम जोंग उन के साथ ऐतिहासिक शिखर वार्ता की थी, जहां अमेरिका ने कहा था कि किम पूरी तरह से परमाणु निरस्त्रीकरण के लिए सहमत हो गए हैं।

ट्रंप निरस्त्रीकरण की संभावना से उत्साहित

पोम्पिओ ने कहा कि ‘‘प्रगति हो रही है’’ और ट्रंप ‘‘उत्तर कोरिया के निरस्त्रीकरण की संभावनाओं को लेकर उत्साहित हैं।’’ बहरहाल, उन्होंने चेतावनी भी दी कि अमेरिका उत्तर कोरिया के साथ परमाणु निरस्त्रीकरण मुद्दे पर अनिश्चितकाल तक चर्चा नहीं करता रहेगा। उन्होंने कहा, ‘‘हम धैर्यपूर्ण कूटनीति में शामिल हैं लेकिन हम इसे लंबे समय तक चलने नहीं देंगे।’’

किम जोंग अपनी प्रतिबद्धताओं को पूरा करें

पोम्पिओ ने कहा कि उन्होंने किम का दायां हाथ माना जाने वाले किम योंग चोल के साथ ‘‘रचनात्मक’’ बातचीत के दौरान इस स्थिति पर बात की थी। उन्होंने कहा, ‘‘प्रगति हो रही है। हम चाहते हैं कि चेयरमैन किम जोंग उन सिंगापुर में अपनी प्रतिबद्धताओं को पूरा करें।’’ उपग्रह से प्राप्त नयी तस्वीरों से ऐसे संकेत मिल रहे हैं कि किम ने अंतमर्हाद्वीपीय बैलिस्टिक मिसाइलों के परीक्षण स्थल को नष्ट करना शुरू कर दिया है। पोम्पिओ ने कहा कि सभी देश उत्तर कोरिया के खिलाफ अमेरिकी प्रतिबंधों को लागू करें।

India Tv पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। US News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन
Web Title: उत्तर कोरिया अब भी बना रहा है परमाणु सामग्री, ट्रंप-किम की बातचीत असफल?