Live TV
GO
  1. Home
  2. विदेश
  3. यूरोप
  4. डेमोक्रेटिक पार्टी ने लगाया ट्रंप पर...

डेमोक्रेटिक पार्टी ने लगाया ट्रंप पर आरोप, कहा पुतिन के प्रति नरम रूख अपना रहे हैं

रूस के राष्ट्रपति व्लादिमिर पुतिन ने अमेरिकी प्रतिबंध कानून के तहत जारी देश के अधिकारियों और उद्योगपतियों की सूची को राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के राजनीतिक शत्रुओं की ओर से उठाया गया शत्रुतापूर्ण और ‘बेवकूफी’ भरा कदम बताते हुए कहा कि...

India TV News Desk
Edited by: India TV News Desk 31 Jan 2018, 10:17:19 IST

मॉस्को: रूस के राष्ट्रपति व्लादिमिर पुतिन ने अमेरिकी प्रतिबंध कानून के तहत जारी देश के अधिकारियों और उद्योगपतियों की सूची को राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के राजनीतिक शत्रुओं की ओर से उठाया गया शत्रुतापूर्ण और ‘बेवकूफी’ भरा कदम बताते हुए कहा कि क्रेमलिन फिल्हाल कोई जवाबी कार्रवाई नहीं करेगा। वहीं वाशिंगटन में विपक्षी दल डेमोक्रेटिक पार्टी के सांसदों ने इससे विपरित शिकायत करते हुए आरोप लगाया है कि ट्रंप पुतिन के प्रति नरम रूख अपना रहे हैं। वर्ष 2016 के राष्ट्रपति चुनाव में कथित हस्तक्षेप को लेकर रूस के रक्षा और खुफिया क्षेत्रों को सबसे अलग-थलग करने की मंशा रखने वाले कानून को लागू नहीं करने पर राष्ट्रपति की आलोचना की है। (चीन में पत्रकारों की स्थिति खराब: रिपोर्ट )

डेमोक्रेट्स का कहना है कि पुतिन द्वारा जवाबी कार्रवाई नहीं किया जाना यह दिखाता है कि रूसी नेता को अभी भी अमेरिका के साथ संबंध सामान्य होने की आशा है। इस सूची में पुतिन प्रशासन के ज्यादातर वरिष्ठ सदस्य शामिल हैं। सूची में 114 राजनीतिज्ञ और 96 कारोबारी शामिल हैं। इनमें से हर कारोबारी एक अरब डालर से ज्यादा संपत्ति का मालिक है और अमेरिकी सरकार उन्हें पुतिन का करीबी मानती है।

सात पन्ने की इस गैर-गोपनीय सूची से सीधे किसी प्रतिबंध की शुरुआत नहीं होती। इसमें विदेशमंत्री सर्गेई लावरोव और प्रधानमंत्री मेदवेदेव और रूसी खुफिया एजेंसियों के शीर्ष अधिकारी शामिल हैं। प्रतिबंधित लोगों की इस सूची में ऊर्जा क्षेत्र की रोसनेफ्ट और स्बरबैंक सरीखी बड़ी कंपनियों के सीईओ भी शामिल हैं।

India Tv पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Europe News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन
Web Title: Democratic Party charges allegations on trump said trump is adopting a soft attitude towards Putin