Live TV
GO
  1. Home
  2. विदेश
  3. एशिया
  4. Pakistan General Election 2018: अब तक...

Pakistan General Election 2018: अब तक के रुझानों में इमरान खान की पार्टी पीटीआई को बढ़त

पाकिस्तान की जनता ने अपना नया प्रधानमंत्री चुनने के लिए आज मतदान किया। पाकिस्तान में नई सरकार के लिए वोटों की गिनती हो रही है और ताज़ा अपडेट ये है कि इमरान खान की पार्टी सबसे बड़ी पार्टी के रूप में सामने आ रही है।

India TV News Desk
Edited by: India TV News Desk 26 Jul 2018, 0:00:46 IST

इस्लामाबाद: पाकिस्तान की जनता ने अपना नया प्रधानमंत्री चुनने के लिए आज मतदान किया। पाकिस्तान में नई सरकार के लिए वोटों की गिनती हो रही है और ताज़ा अपडेट ये है कि इमरान खान की पार्टी सबसे बड़ी पार्टी के रूप में सामने आ रही है। अब तक के नतीजे बताते हैं कि इमरान सरकार बनाने के करीब पहुंच सकते हैं। क्योंकि नवाज़ शरीफ की पार्टी दूसरे नंबर पर है और इमरान खान से काफी पीछे है। तीसरे नंबर पर बेनज़ीर भुट्टो और आसिफ अली ज़रदारी के बेटे बिलावल भुट्टो की पार्टी है। पाकिस्तान की नेशनल असेंबली में आज ही 272 सीटों के लिए चुनाव हुए थे और करीब 53 फीसदी मतदान हुआ था। शाम से ही वोटों की गिनती चल रही है और सुबह तक पाकिस्तान के नए निज़ाम का फैसला हो जाएगा।

Pakistan General Election 2018 Live Results: पाकिस्तान में कयामत का काउंटडाउन!

- पाकिस्तान नेशनल असेंबली की 272 सीटों के लिए वोटों की गिनती जारी
- इमरान खान की पार्टी पीटीआई 103 सीटों पर आगे


- नवाज शरीफ की पार्टी PML-N  59 सीटों पर आगे, बिलावल भुट्टों की पार्टी पीपीपी 32 सीटों पर आगे
- हाफिज सईद की पार्टी का खाता भी नहीं खुला
- पाकिस्तान में वोटों की गिनती जारी, रुझानों में इमरान खान की पार्टी को बढ़त
- नवाज शरीफ की पार्टी मुस्लिम लीग नवाज दूसरे नंबर पर, तीसरे नंबर पर बिलावल अली जरदारी की पार्टी पीपीपी
- आतंकी हाफिज सईद की पार्टी को किसी भी सीट पर बढ़त नहीं, मुस्लिम लीग (नवाज) और तहरीक ए इंसाफ के बीच कड़ी टक्कर
- नेशनल असेम्बली की 272 सीटों पर वोटों की गिनती जारी, 70 सीटें महिलाओं और अल्पसंख्यकों के लिए आरक्षित हैं
- कल दोपहर तक होगा पाकिस्तान के नए पीएम का ऐलान, 70 साल में दूसरी बार लोकतांत्रिक तरीके से सत्ता हस्तांतरण
- क्वेटा शहर के एक मतदान केंद्र के बाहर हुआ आत्मघाती हमला, आत्मघाती हमले में 30 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई

आखिरी नतीजे 26 जुलाई को दोपहर दो बजे तक घोषित किए जा सकते हैं। स्थानीय समयानुसार सुबह आठ बजे 85,000 से ज्यादा मतदान केंद्रों पर मतदान शुरू हुआ। शाम छह बजे मतदान संपन्न हुआ। नतीजों का ऐलान 24 घंटे के भीतर हो जाएगा। वहीं, आईएसआईएस के आत्मघाती हमले और चुनावी हिंसा में कम से कम 35 लोग मारे गए हैं। देश के 70 साल के इतिहास में दूसरी बार लोकतांत्रिक तरीके से सत्ता हस्तांतरण के लिए यह चुनाव हो रहा है। पाकिस्तान की सेना पर जहां आम चुनाव में हस्तक्षेप करने के आरोप लग रहे हैं, वहीं इसमें कट्टरपंथी इस्लामियों के शामिल होने के कारण भी लोग सशंकित हैं।

आम चुनाव के लिए मतदान शुरू होने के कुछ ही घंटे के भीतर बलूचिस्तान की प्रांतीय राजधानी क्वेटा के भोसा मंडी क्षेत्र में हुए आत्मघाती हमले में पुलिसकर्मियों समेत 31 लोग मारे गए हैं। वहीं, चुनाव से जुड़ी हिंसा की अलग-अलग घटनाओं में चार लोगों की मौत हुई है। कई मतदान केन्द्रों के बाहर प्रतिद्वंदी दलों के कार्यकर्ताओं के बीच हिंसक झड़प होने की सूचना है। देश में आज नेशनल असेम्बली की 272 सीटों और चार प्रांतों पंजाब, सिंध, बलूचिस्तान और खैबर पख्तूनख्वा की प्रांतीय विधानसभाओं की कुल 577 सीटों के लिए मतदान हुआ। नेशनल असेम्बली और चार प्रांतीय विधानसभाओं के सदस्यों को चुनने के लिए करीब 10.6 करोड़ पंजीकृत मतदाता हैं।

पाकिस्तान निर्वाचन आयोग के अनुसार, नेशनल असेम्बली की 272 सीटों के लिए 3,459 उम्मीदवार अपनी राजनीतिक किस्मत आजमा रहे हैं जबकि पंजाब, सिंध, बलूचिस्तान और खैबर पख्तूनख्वा प्रांतों की विधानसभाओं की 577 सीटों के लिए 8,396 उम्मीदवार मैदान में हैं। चुनावों में 30 से ज्यादा राजनीतिक दलों ने अपने उम्मीदवार उतारे हैं। देशभर में बनाए गए 85,000 से ज्यादा मतदान केन्द्रों पर मतदान स्थानीय समयानुसार सुबह आठ बजे शुरू हुआ। उत्साही मतदाता अपने-अपने मतदान केंद्रों के बाहर सुबह सात बजे से ही कतारों में लगने लगे।

साल 2013 में हुए आम चुनावों में पीएमएलएन ने 125 सीटें, पीटीआई को 27, पीपीपी को 31, MQM को 18, JUI-F को 10 और PML-F को 5 सीटों मिली थी। वहीं 32 सीटें निर्दलीयों के खाते में गई थी।

पाकिस्तान के सेना प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा ने रावलपिंडी में मतदान किया। पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज (पीएमएल-एन) के अध्यक्ष शाहबाज शरीफ लाहौर में सबसे पहले मतदान करने वालों में शामिल थे। वह अगला प्रधानमंत्री बनने की उम्मीद कर रहे हैं। उन्होंने अपने ट्वीट में कहा, ‘‘अभी-अभी मतदान किया। यही सही समय है जब पाकिस्तान की प्रगति और खुशहाली के लिये मतदान करने की खातिर आप सब बाहर आएं। यह चुनाव देश के लिये शांति और स्थिरता का स्रोत बने।’’

पूर्व प्रधानमंत्री शाहिद खाकान अब्बासी, सिंध प्रांत के पूर्व मुख्यमंत्री मुराद अली शाह, एमक्यूएम-पी के फारूक सत्तार, पाक सरजमीन पार्टी (पीएसपी) अध्यक्ष मुस्तफा कमाल, पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) पार्टी के प्रमुख इमरान खान, पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (पीपीपी) के सह-अध्यक्ष बिलावल भुट्टो और जेयूआई-एफ प्रमुख मौलाना फजलुर रहमान ने भी अपने-अपने क्षेत्र में अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया। भुट्टो बहनों--आसिफा भुट्टो जरदारी और बख्तावर भुट्टो जरदारी ने भी मतदान किया। बख्तावर ने मतदान करने के बाद अपनी बहन के साथ तस्वीर सोशल मीडिया पर पोस्ट की है।

चुनाव पूर्व सर्वेक्षणों में पूर्व क्रिकेटर इमरान खान की पार्टी पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ और पीएमएल-एन के बीच कांटे का मुकाबला बताया जा रहा है। चुनाव की पूर्व संध्या पर जारी गैलप पाकिस्तान के सर्वेक्षण के नतीजों के मुताबिक पीटीआई को राष्ट्रीय स्तर पर बढ़त मिलती दिख रही है जबकि महत्वपूर्ण पंजाब प्रांत में पीएमएल-एन को जीत मिलने की उम्मीद है। पूर्व प्रधानमंत्री बेनजीर भुट्टो के बेटे बिलावल भुट्टो के नेतृत्व वाली पीपीपी (पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी) भी चुनावी समर में है।

शांतिपूर्ण, स्वतंत्र और निष्पक्ष तरीके से चुनाव कराने के लिए आयोग ने मतदान केन्द्रों पर करीब 16 लाख कर्मचारियों को तैनात किया। सुरक्षा के लिए 4,49,465 पुलिसकर्मियों और सेना के 3,70,000 जवानों को तैनात किया गया। पाकिस्तान की नेशनल असेम्बली में कुल 342 सीटें हैं। इनमें से 272 सीटों पर प्रत्यक्ष निर्वाचन होता है जबकि 60 सीटें महिलाओं और 10 सीटें धार्मिक अल्पसंख्यकों के लिए आरक्षित हैं। इनका बाद में अप्रत्यक्ष तरीके से निर्वाचन होता है। किसी भी पार्टी को देश में सरकार बनाने के लिए 172 सीटों की जरूरत होगी।

(यह खबर रात के 12 बजे तक अपडेट हुई है)

India Tv पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Asia News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन
Web Title: Pakistan General Election 2018: अब तक के रुझानों में इमरान खान की पार्टी पीटीआई को बढ़त