Live TV
GO
Hindi News विदेश एशिया रूस ने की भारत-पाकिस्तान के बीच...

रूस ने की भारत-पाकिस्तान के बीच मध्यस्थता की पेशकश, पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय ने किया दावा

रूस ने शुक्रवार को भारत और पाकिस्तान को मौजूदा गतिरोध खत्म के लिए मध्यस्थता करने और बातचीत के लिए स्थान मुहैया कराने की पेशकश की। पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय ने ये दावा किया है।

Bhasha
Bhasha 02 Mar 2019, 6:53:40 IST

इस्लामाबाद: रूस ने शुक्रवार को भारत और पाकिस्तान को मौजूदा गतिरोध खत्म के लिए मध्यस्थता करने और बातचीत के लिए स्थान मुहैया कराने की पेशकश की। पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय ने ये दावा किया है। विदेश मंत्रालय ने कहा कि रूस के विदेश मंत्री सर्गेई लाउरोव ने पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी से फोन पर बात की और दोनों पड़ोसी देशों के बीच तनाव बढ़ने के बाद क्षेत्र के हालात पर चर्चा की।

पाकिस्तान के विदेश कार्यालय ने कहा, "रूस के विदेश मंत्री लाउरोव ने भारत और पाकिस्तान के बीच मध्यस्थता करने और बातचीत के लिए स्थान मुहैया कराने की पेशकश की बात दोहराई।" कुरैशी ने क्षेत्र में तनाव को कम करने में रूस की संतुलित और रचनात्मक भूमिका की सराहना की।

उन्होंने रूस के प्रस्ताव का स्वागत किया और कहा कि उन्होंने दिन में संसद में संयुक्त सत्र को संबोधित करते हुए मॉस्को की रचनात्मक भूमिका को स्वीकार किया था, जिसे अच्छा समर्थन मिला था।" विदेश कार्यालय के मुताबिक दोनों विदेश मंत्रियों ने क्षेत्र में शांति और स्थिरता को बढ़ावा देने के लिए विचार-विमर्श जारी रखने पर सहमति जताई है।

हालांकि, पाकिस्तान कहीं से भी अपनी चालाकियों से बाज नहीं आ रहा है। पायलट अभिनंदन वर्द्धमान को शुक्रवार को वाघा सीमा पर भारत को सौंपे जाने में देरी इसलिए हुई क्योंकि उनसे पाकिस्तानी अधिकारियों ने कैमरे पर बयान दर्ज करने को कहा। इसके बाद ही उन्हें सीमा पार करके स्वदेश जाने दिया गया। सूत्रों ने यह जानकारी दी।

यह स्पष्ट नहीं है कि उन्हें दबाव में कैमरे के सामने बयान देने को कहा गया या नहीं। इस वीडियो में सात कट हैं जो संकेत देते हैं कि इसे परोक्ष रूप से पाकिस्तानी रुख के अनुरूप करने के लिए इसमें बहुत काट-छांट की गई। ये वीडियो पाकिस्तान ने भारत के विरोध जताने के बाद भी जारी किया। जबकि, भारत ने पहले ही इस तरह के प्रदर्शन पर कड़ा ऐतराज जताया था।

India Tv पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Asia News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन

More From Asia