Live TV
  1. Home
  2. विदेश
  3. एशिया
  4. नहीं सुधरा पा‌किस्तान, रक्षा दिवस पर...

नहीं सुधरा पा‌किस्तान, रक्षा दिवस पर फिर छेड़ा कश्मीर का राग

1965 के युद्ध को पाकिस्तान रक्षा दिवस के तौर पर मनाता है। इस मौके पर राजधानी इस्लामाबाद में एक कार्यक्रम में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान, राष्ट्रपति ममनून हुसैन और आर्मी चीफ कमर जावेद बाजवा मौजूद थे।

IndiaTV Hindi Desk
Edited by: IndiaTV Hindi Desk 07 Sep 2018, 10:41:26 IST

नई दिल्ली: भारत के साथ 1965 के युद्ध की 53वीं वर्षगांठ के अवसर पर पाकिस्तान ने एक बार फिर दिखा दिया कि वह नहीं सुधर सकता। पाकिस्तान के आर्मी चीफ कमर जावेद बाजवा ने भारत को धमकी देते हुए कहा है कि बॉर्डर पर बहे खून की एक एक बूंद का पाकिस्तान सेना बदला लेगी। बाजवा ने ये धमकी रावलपिंडी में पाकिस्तान के शहीदी दिवस कार्यक्रम में दी। बाजवा ने कहा कि वे कश्मीर के भाईयों और बहनों द्वारा उनकी आजादी की लड़ाई में दी जाने वाले कुर्बानी के लिए सलाम करते हैं।

1965 के युद्ध को पाकिस्तान रक्षा दिवस के तौर पर मनाता है। इस मौके पर राजधानी इस्लामाबाद में एक कार्यक्रम में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान, राष्ट्रपति ममनून हुसैन और आर्मी चीफ कमर जावेद बाजवा मौजूद थे। कश्मीर के लोगों का जख्म कुरेदते हुए जनरल बाजवा ने इसे आजादी की लड़ाई करार देते हुए कश्मीरियों की कुर्बानी के लिए सलाम भेजा।

बाजवा ने कहा कि पिछले दो दशक से युद्ध के तरीके बदल गए हैं। पाकिस्तान को कमजोर करने की कोशिश की जा रही है। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान की रक्षा में देश ने अब तक 76000 सैनिक खोए हैं। इनकी कुर्बानी बेकार नहीं जाएगी।

वहीं इस मौके पर प्रधानमंत्री इमरान खान ने कहा, पाकिस्तान शांतिपूर्ण सह-अस्तित्व में विश्वास करता है और अपने पड़ोसियों और पूरी दुनिया के साथ समानता के आधार पर पारस्परिक सहयोग को बढ़ावा देना चाहता है। कश्मीर पर इमरान ने कहा कि क्षेत्र में शांति के लिए संयुक्त राष्ट्र के प्रस्तावों के तहत कश्मीर मुद्दे का समाधान निकालना अनिवार्य है।

India Tv पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी रीड करते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Asia News in Hindi के लिए क्लिक करें khabarindiaTv का विदेश सेक्‍शन
Web Title: नहीं सुधरा पा‌किस्तान, रक्षा दिवस पर फिर छेड़ा कश्मीर का राग - Pakistan Defence Day: Imran Khan and General Bajwa raise Kashmir issue