Live TV
GO
Hindi News विदेश एशिया पाक: पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ बीमार,...

पाक: पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ बीमार, जेल में मिलने पहुंचे परिवार के लोग

जेल में बंद पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के परिवार वालों ने बृहस्पतिवार को उनसे कोट लखपत जेल में मुलाकात की और उनके स्वास्थ्य को लेकर चिंता व्यक्त की। 

Bhasha
Bhasha 22 Mar 2019, 17:43:57 IST
लाहौर: जेल में बंद पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के परिवार वालों ने बृहस्पतिवार को उनसे कोट लखपत जेल में मुलाकात की और उनके स्वास्थ्य को लेकर चिंता व्यक्त की। शरीफ (69) पिछले साल दिसम्बर से जेल में बंद हैं। नवाज को अल-अजीजिया स्टील मिल्स भ्रष्टाचार मामले में सात साल की सजा हुई है। नवाज के भाई और विपक्ष के नेता शहबाज शरीफ, मां शमीम बीबी, नवाज की बेटी मरियम और निजी डॉक्टर अदनान के साथ जेल पहुंचे। 
 
‘पाकिस्तान मुस्लिम लीग नवाज’ (पीएमएल-एन) के प्रमुख की बेटी मरियम ने मुलाकात के बाद ट्वीट किया कि लगातार सीने में दर्द (एन्जाइना) के कारण वह अस्वस्थ हैं। उन्होंने लिखा, ‘‘ अभी बाहर आई हूं । एमएनएस (मियां नवाज शरीफ) लगातार सीने में दर्द के कारण अस्वस्थ हैं। आज भी मुलाकात के दौरान उन्होंने दर्द एवं सांस लेने में तकलीफ होने की वजह से ‘सब्लिंगुअल स्प्रे’ का इस्तेमाल किया। कृपया रोजाना दुआओं में उनको याद करें। सबका शुक्रिया।’’ 
 
‘दुनियान्यूज.टीवी’ की एक खबर के अनुसार, तीन बार देश के प्रधानमंत्री रहे नवाज के लिए उनका परिवार खाना भी लाया था। रिपोर्ट के अनुसार नवाज के रक्त शर्करा और रक्तचाप का परीक्षण भी किया गया, जिसके बाद उनके निजी डॉक्टर ने दवाईयों में मामूली बदलाव भी किया। समाचारपत्र ‘डॉन’ की एक खबर के अनुसार, पार्टी का कोई अन्य नेता उनसे मिलने नहीं पहुंचा। उनकी बेटी मरियम ने कुछ समय पहले घोषणा की थी कि खराब स्वास्थ्य के कारण नवाज किसी से मुलाकात नहीं करेंगे। 
 
पीएमएल-एन के अन्य नेता हालांकि जेल के बाहर एकत्रित हुए और परिवार के वहां पहुंचने पर नारेबाजी भी की। नवाज से मिलने के बाद उनकी मां ने उनके मुश्किल समय के जल्द खत्म होने की उम्मीद जाहिर की। समाचार पत्र ने उनकी मां के हवाले से कहा, ‘‘ मेरी दुआएं मेरे बेटे के साथ हैं और वह जल्द ही जेल से रिहा हो जाएंगे।’’
India Tv पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Asia News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन