Live TV
GO
  1. Home
  2. विदेश
  3. एशिया
  4. मक्का में भगदड़ में 14 भारतीयों...

मक्का में भगदड़ में 14 भारतीयों सहित 717 की मौत

मीना: हज के दौरान यहां मची भगदड़ में 14 भारतीयों सहित कम से कम 717 लोगों की मौत हो गई जबकि 860 से अधिक घायल हुए। सउदी अरब में हज के दौरान यह अब तक का

India TV News Desk
India TV News Desk 25 Sep 2015, 11:32:01 IST

मीना: हज के दौरान यहां मची भगदड़ में 14 भारतीयों सहित कम से कम 717 लोगों की मौत हो गई जबकि 860 से अधिक घायल हुए। सउदी अरब में हज के दौरान यह अब तक का सबसे भयावह हादसा है। जेद्दा में भारतीय महावाणिज्य दूतावास के अधिकारियों ने कहा कि शैतान को कंकड़ मारने की रस्म के दौरान हुए हादसे में एक महिला और एक कार्यकर्ता सहित चार भारतीयों की मौत हुई है। दो भारतीय घायल भी हुए हैं।

सउदी नागरिक रक्षा प्रशासन ने कहा कि शैतान को कंकड़ मारने की रस्म के लिए जमारात जा रहे लोगों की भीड़ अचानक से बढ़ गई जिसके बाद यह हादसा हुआ जिसमें अलग अलग देशों के 717 श्रद्धालुओं की मौत हो गई जबकि 863 लोग घायल हुए। यह हादसा भारतीय समयानुसार दिन में 11:30 बजे हुआ।

सरकारी सउदी प्रेस एजेंसी ने कहा कि यह घटना जमारात को जाने वाले दो रास्तों को जोड़ने वाले स्थान पर हुई। यह स्थान मक्का से करीब पांच किलोमीटर की दूरी पर है।

तिरूवनंतपुरम में केरल के ग्रामीण विकास एवं अनिवासी केरलवासी मामलों के मंत्री केसी जोसेफ ने कहा कि मरने वाले भारतीयों में केरल के व्यक्ति की पहचान त्रिस्सूर जिले के कोडुंगालूर के मोहम्मद के रूप में हुई है।

उन्होंने कहा कि मृतक एक निजी प्रायोजक समूह के जरिये हज करने गया था। घायलों में राज्य की एक महिला शामिल है।

तेलंगाना प्रदेश हज समिति के विशेष अधिकारी एसए शुकूर ने कहा कि हैदराबाद की महिला की पहचान बीबी जान के रूप में हुई है जिसकी भगदड़ में मौत हुई।

उन्होंने कहा कि जान दो सितंबर को अपने पति तथा दो अन्य रिश्तेदारों के साथ तीर्थयात्रा पर गई थी। वह भगदड़ में फंस गई थी और उसकी मौत मीना में एक अस्पताल में हुई।

असम के दो भारतीय घायलों में शामिल हैं और उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

इससे पहले 1990 में हज के दौरान एक सुरंग के भीतर मची भगदड़ में 1,426 लोग मारे गए थे।

भारतीय हज मिशन के चिकित्सकों को मीना और मक्का के विभिन्न अस्पतालों में तैनात किया गया है।

दुनिया के कोने-कोने से हजयात्री यहां आते हैं। भगदड़ की घटनाओं को रोकने के लिए सऊदी अरब प्रशासन ने जो कदम उठाए थे, उनकी वजह से पिछले 7 साल के दौरान ऐसी दुर्घटना नहीं घटी थी। लेकिन आज शैतान को पत्थर मारने की रस्म के दौरान भगदड़ मच गई।

इस साल हज पर 1.5 लाख से ज्यादा भारतीयों सहित 20 लाख से ज्यादा यात्री गए हैं। जेद्दा में भारतीय वाणिज्य दूतावास के अधिकारियों ने बताया कि अभी तक किसी भारतीय के हताहत होने के बारे में जानकारी नहीं मिली है।

हाल ही में हुआ था क्रेन हादसा

12 सितंबर को मक्का स्थित मस्जिद में हुए क्रेन गिरने से 111 लोगों की मौत हो गई थी। हादसे में 331 लोग घायल हुए हैं। हादसा तेज आंधी और बारिश की वजह से क्रेन गिरने से हुआ था।

मरने वालों में पाकिस्तान के 15, भारत के 10, मिस्र के 23, ईरान के 25, मलेशिया के 6, बांग्लादेश के 25 और अल्जीरिया और अफगानिस्तान के एक-एक लोग शामिल थे।

शैतान को पत्थर मारने की रस्म के बारे में जानने के लिए देखिए अगली स्लाइड

India Tv पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Asia News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन
Web Title: मक्का मस्जिद में भगदड़ से 717 की मौत, 860 घायल