Live TV
GO
Hindi News विदेश एशिया शाहबाज की हिरासत को बढ़ाने की...

शाहबाज की हिरासत को बढ़ाने की एनएबी की मांग को अदालत ने किया खारिज, न्यायिक हिरासत में भेजा

नेशनल अकाउंटेबिलिटी ब्यूरो (एनएबी) ने अपदस्थ प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के छोटे भाई शाहबाज शरीफ को पांच अक्टूबर को 14 अरब रूपये के आशियाना-ए-इकबाल आवास योजना घोटाले के संबंध में हिरासत में लिया था।

Bhasha
Reported by: Bhasha 07 Dec 2018, 8:38:59 IST

लाहौर: पाकिस्तान की एक जवाबदेही अदालत ने गुरुवार को पीएमएल-एन के अध्यक्ष और नेशनल एसेंबली में विपक्ष के नेता शाहबाज शरीफ को एक आवास योजना घोटाले में उनकी कथित संलिप्तता के मामले में आठ दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया।

नेशनल अकाउंटेबिलिटी ब्यूरो (एनएबी) ने अपदस्थ प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के छोटे भाई शाहबाज शरीफ को पांच अक्टूबर को 14 अरब रूपये के आशियाना-ए-इकबाल आवास योजना घोटाले के संबंध में हिरासत में लिया था।

उन पर इस योजना में बोली लगाने में सफल रहने वाले व्यक्ति का ठेका रद्द करने और इसे अपने पसंदीदा फर्म को देने का आरोप है। एनएबी ने उन्हें रमजान सुगर मिल्स मामले में भी गिरफ्तार किया है।

पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज (पीएमएल-एन) कार्यकर्ताओं के प्रदर्शन के बीच शाहबाज लाहौर के जवाबदेही अदालत में घोटाला मामले की सुनवाई के लिए पेश हुए। एनएबी ने अदालत से शाहबाज की हिरासत 15 दिन बढ़ाने की मांग की।

जवाबदेही अदालत के न्यायाधीश सैय्यद नजमुल हसन ने शाहबाज की हिरासत को आगे बढ़ाने से इंकार कर दिया और उन्हें 13 दिसंबर तक के लिए कोट लखपत जेल भेज दिया।

आम चुनाव से जुड़ी ताजा खबरों, लोकसभा चुनाव 2019 की खबरों, चुनावों से जुड़े लाइव अपडेट्स और चुनाव परिणामों के लिए https://hindi.indiatvnews.com/elections पर बने रहें। इसके साथ ही हमें फेसबुक और ट्विटर पर लाइक करके या #ElectionsWithIndiaTV हैशटैग का इस्तेमाल करके 543 लोकसभा सीटें और विधानसभा चुनावों से जुड़े ताजा परिणाम पाएं। आप #ResultsWithRajatSharma हैशटैग का इस्तेमाल करके इंडिया टीवी के चेयरमैन एवं एडिटर-इन-चीफ रजत शर्मा के साथ 23 मई को चुनाव परिणामों की पल-पल की जानकारी हासिल कर सकते हैं।
Web Title: शाहबाज की हिरासत को बढ़ाने की एनएबी की मांग को अदालत ने किया खारिज, न्यायिक हिरासत में भेजा - Court refuses extension of Shahbaz Sharif’s custody to NAB in housing scam, sends him to judicial custody

More From Asia