Live TV
  1. Home
  2. विदेश
  3. एशिया
  4. चीन ने दिया भरोसा- भारत-पाकिस्‍तान के...

चीन ने दिया भरोसा- भारत-पाकिस्‍तान के संबंधों को सुधारने में निभाएगा 'रचनात्मक' भूमिका

चीन ने भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनके पाकिस्‍तानी समकक्ष इमरान खान के बीच संबंध सुधारने के बयानों की सराहना की है।

Sachin Chaturvedi
Written by: Sachin Chaturvedi 22 Aug 2018, 16:58:27 IST

नई दिल्‍ली। चीन ने भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनके पाकिस्‍तानी समकक्ष इमरान खान के बीच संबंध सुधारने के बयानों की सराहना की है। चीन ने बुधवार को कहा है कि वह भारत और पाकिस्‍तान के बीच तनाव को दूर करने और‍ रिश्‍तों को बेहतर बनाने में 'रचनात्मक' भूमिका निभाने को तैयार है।

चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता लु कांग ने बुधवार को कहा कि चीन को पूरा भरोसा है कि भारत और पाकिस्‍तान क्षेत्रीय शांति, स्थिरता और समृद्धि के लिए मिल कर काम करेंगे। दोनों देशों के बीच संबंधों में सुधार और विकास इस क्षेत्र के लिए बेहद जरूरी है। हालांकि लु कांग ने अभी यह स्‍पष्‍ट नहीं किया है कि उनके ‘रचनात्‍मक’ शब्‍द का मतलब क्‍या है, और चीन किस प्रकार की भूमिका निभाने का इच्‍छुक है।।

क्षेत्रीय शांति बेहद जरूरी  

उन्होंने कहा, 'हम भारतीय पीएम नरेंद्र मोदी और पाकिस्तानी नेता की ओर से द्विपक्षीय रिश्तों को लेकर दिए गए सकारात्मक बयान का स्वागत करते हैं।' उन्‍होंने कहा कि चीन भारत और पाकिस्‍तान दोनों का पड़ौसी है। ऐसे में चीन दोनों पक्षों के बीच बातचीत और आपसी भरोसा बढ़ाने में महत्‍वपूर्ण भूमिका निभाना चाहता है। हमें पूरा भरोसा है कि दोनों देश मिलकर क्षेत्रीय शांति और प्रगति की दिशा में मिलकर काम करेंगे।

‘रचनात्‍मक’ पर ढुलमुल जवाब

जब लु से पूछा गया कि उनकी ओर से ‘रचनात्‍मक’ शब्‍द का मतलब क्‍या है तो उन्‍होंने कहा हम बस इतना कहना चाह रहे हैं कि हम भारत और पाकिस्‍तान की ओर से आपसी संबंध बेहतर बनाने की पहल को लेकर काफी उत्‍साहित हैं और इसे और बेहतर बनाने में हम जो कुछ भी कर पाएंगे जरूर करेंगे। जब उनसे पूछा गया कि क्‍या चीन मध्‍यस्‍थ की भूमिका निभाने का इच्‍छुक है तो उन्‍होंने कहा कि मैं अभी इस बारे में कोई पूर्ण निर्णय नहीं दे सकता कि कि हम किस पहलू में, किस क्षेत्र में, किस प्रकार मदद करेंगे।

मोदी ने बढ़ाया दोस्‍ती का हाथ 

इससे पहले भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पाकिस्‍तान के नवनियुक्‍त प्रधानमंत्री इमरान खान को पत्र लिखा था। जिसमें उन्‍होंने पड़ौसियों के बीच बेहतर संबंध स्‍थापित करने की जरूरत पर बल दिया था। इसके साथ ही उन्‍होंने क्षेत्र की बेहतरी के लिए सार्थक और रचनात्‍मक पहल करने की बात कही थी। इसके अलावा प्रधानमंत्री मोदी ने इमरान खान से भारतीय उपमहाद्वीप को आतंकवाद और हिंसा से मुक्‍त बनाने की बात भी कही थी।

इमरान ने कहा हम भी दोस्‍ती के लिए तैयार 

नरेंद्र मोदी के पत्र के जवाब में ट्वीट करते हुए इमारान खान ने भी कश्‍मीर को शामिल करते हुए बातचीत करने और मुद्दों को सुलझान की बात कही थी। इससे पहले इमरान खान ने कहा था कि यदि भारत एक कदम बढ़ाता है तो जवाब में पाकिस्‍तान भी दो कदम आगे बढ़ेगा। 

India Tv पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी रीड करते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Asia News in Hindi के लिए क्लिक करें khabarindiaTv का विदेश सेक्‍शन
Web Title: China wants to play 'constructive' role in improving India-Pakistan ties ) चीन ने दिया भरोसा- भारत-पाकिस्‍तान के संबंधों को सुधारने में निभाएगा 'रचनात्मक' भूमिका