Live TV
GO
Hindi News खेल अन्य खेल डिस्कस थ्रोअर विकास गौड़ा ने एथलेटिक्स...

डिस्कस थ्रोअर विकास गौड़ा ने एथलेटिक्स को कहा अलविदा

अमेरिका में रहने वाले विकास ने ई-मेल में लिखा, "काफी सोच विचार और विमर्श के बाद मैंने एथलेटिक्स से अलग होने का फैसला किया है।'' 

India TV Sports Desk
India TV Sports Desk 31 May 2018, 13:06:37 IST

नई दिल्ली: भारत के दिग्गज चक्का फेंक एथलीट विकास गौड़ा ने बुधवार को एथलेटिक्स से संन्यास की घोषणा कर दी। चक्का फेंक में वर्तमान में राष्ट्रीय रिकॉर्ड धारक विकास गौड़ा एक ई-मेल के जरिए भारतीय एथलेटिक्स संघ (एएफआई) अपने संन्यास के फैसले की जानकारी दी। 

अमेरिका में रहने वाले विकास ने ई-मेल में लिखा, "काफी सोच विचार और विमर्श के बाद मैंने एथलेटिक्स से अलग होने का फैसला किया है। मैं अब अपने शरीर को और दर्द नहीं दे सकता। मैं अपने जीवन के अगले चरण पर ध्यान देना चाहता हूं।"

गौड़ा ने 2012 लंदन ओलम्पिक खेलों में चक्का फेंक स्पर्धा में आठवां स्थान हासिल किया था। उन्होंने 65.20 मीटर की दूरी तय की थी। एएफआई को समर्थन के लिए धन्यवाद देते हुए विकास ने कहा कि वह एथलेटिक्स में भारत का प्रतिनिधित्व करने वाली यादें हमेशा जहन में ताजा रखेंगे। उनके लिए अपने देश का प्रतिनिधित्व करना सम्मान की बात रही। 

मैसूर में पांच जुलाई, 1983 को जन्मे विकास छह साल की उम्र से पहले ही अपने परिवार के साथ अमेरिका में बस गए। उनके पिता शिव भी एक पूर्व भारतीय एथलीट और 1988 में ओलम्पिक कोच रहे। 

चक्का फेंक एथलीट के रूप में पहचान बनाने से पहले विकास ने करियर की शुरुआत गोला फेंक स्पर्धा से की थी। 2006 में एटलांटा में उन्होंने 19.62 मीटर की दूरी तय कर सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया था। 

विकास ने इसके बाद अपना अच्छा प्रदर्शन करते हुए राष्ट्रीय रिकॉर्ड तोड़ा था। पिछले साल ही उन्हें भारत सरकार द्वारा पद्मश्री पुरस्कार से सम्मानित किया गया। उन्होंने 2008 बीजिंग ओलम्पिक खेलों में भी भारत का प्रतिनिधित्व किया था। हालांकि, वह क्वालीफायर में ही बाहर हो गए थे। 

साल 2014 में आयोजित राष्ट्रमंडल खेलों में स्वर्ण पदक जीतना विकास के लिए सबसे स्वर्णिम पल था। उन्होंने इसमें 63.64 मीटर की दूरी तय कर सोने पर कब्जा जमाया था। 

एएफआई के अध्यक्ष एडिले जे सुमारिवाला ने कहा, "एक एथलीट के रूप में विकास का करियर शानदार रहा है और इतने वर्षों में हासिल की गई उनकी उपलब्धियां उनके समर्पण तथा कड़ी मेहनत को दर्शाती हैं। उन्होंने कई एथलीटों को प्रेरित किया है और मैं आश्वस्त हूं कि वह अपने जीवन के अगले चरण में भी इसे जारी रखेंगे। मैं उन्हें भविष्य के लिए शुभकामनाएं देता हूं।"

India Tv Hindi पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Other Sports News in Hindi के लिए क्लिक करें खेल सेक्‍शन