Live TV
GO
Hindi News खेल क्रिकेट World Cup 2019: अफगानिस्तान से जीत...

World Cup 2019: अफगानिस्तान से जीत के बाद नाखुश कप्तान विराट कोहली, बल्लेबाजों को सुनाई खरी-खोटी

अफगानिस्तान की टीम के सामने भारतीय बल्लेबाज बैकफुट पर नजर आए। जिसके चलते अफगानिस्तान को भारत ने 225 रनों का लक्ष्य दिया।

India TV Sports Desk
India TV Sports Desk 23 Jun 2019, 11:58:28 IST

आईसीसी विश्व कप 2019 में भारत ने टूर्नामेंट की सबसे निचले पायदान की टीम अफगानिस्तान के सामने रोमांचक मैच में 11 रन से जीत हासिल की। इस मैच में एक समय ऐसा लग रहा था कि भारत मैच हार सकता है। लेकिन तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह की शानदार गेंदबाजी और मोहम्मद शमी की हैट्रिक के चलते टीम इंडिया ने विजय हासिल की।

भारत ने टॉस जीतकर बल्लेबाजी चुनी। जिसके जवाब में भारत की शुरुआत खराब रही और उपकप्तान रोहित शर्मा जल्द ही 1 रन बनाकर पवेलियन लौट गए। इसके बाद के. एल राहुल भी गैर जिम्मेदाराना शॉट खेलकर 30 रन बना कर आउट हो गए। अफगानिस्तान की टीम के सामने भारतीय बल्लेबाज बैकफुट पर नजर आए। जिसके चलते अफगानिस्तान को भारत ने 225 रनों का लक्ष्य दिया। हालाँकि टीम इंडिया के गेंदबाजों ने पैनी गेंदबाजी करते हुए टीम को 11 रन से जीत दिलाकर नाक कटने से बचा ली। ऐसे में मैच में अर्धशतक जमाने वाले टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली को जीत तो नसीब हुई लेकिन वो टीम के बल्लेबाजों से खुश नहीं दिखें। 

के.एल. राहुल व अन्य बल्लेबाजों के खराब शॉट चयन को लेकर कप्तान विराट कोहली ने कहा, “अफगानिस्तान जैसी टीम जिसके पास बहुत प्रतिभा है वह आपको उस तरह से खेलने नहीं देती है। जिस तरह से आप खेलना चाहते हैं। हालांकि, कम स्कोर के बावजूद हम सभी का सामूहिक विश्वास था कि हम इसे जीत सकते हैं। जैसे ही मैं क्रीज में अंदर बल्लेबाजी करने गया मैंने इस पिच की गति को समझा, इस पिच पर क्रॉस बल्लेबाजी के शॉट आसान नहीं हैं, इसलिए मैंने स्ट्राइक रोटेट करने के बारे में सोचा। हमारा शॉट सिलेक्शन इससे काफी बेहतर हो सकता था। मुझे लगता है कि हॉरिजॉन्टल बैट शॉट्स से हमारे विकेट आउट हुए हैं, इसलिए मुझे पता लगता है, कि इस पिच पर सीधे बल्ले से खेलना ही एकमात्र तरीका था।"

वही टीम इंडिया के गेंदबाजों की तारीफ करते हुए विराट कोहली ने कहा,“ईमानदारी से कहूँ, तो हम अच्छी क्रिकेट खेल रहे हैं। आज हमने टॉस जीता और और बोर्ड पर बड़े रन लगाना चाहते थे, लेकिन विपक्षी टीम में तीन गुणवत्ता वाले स्पिनरों थे औत साथ ही पिच धीमी थी, इसलिए 270 रन का स्कोर भी हम करते तो वह काफी अच्छा होता। 250 का स्कोर भी इस विकेट पर एक फाइटिंग टोटल था। हालांकि, हमारे गेंदबाजों को श्रेय जाता है, कि उन्होंने 224 को भी डिफेंड किया।”

कोहली ने आगे कहा, “बुमराह को हम स्मार्ट तरीके से उपयोग करना चाहते थे जब परिस्थितियाँ मुश्किल हो रही थी। हम उसे गेंदबाजी सौप रहे थे और वह अपना का बखूबी कर रहा था। 49वें ओवर में उसने शानदार गेंदबाजी की और शमी के पास आखिरी ओवर में बचाव करने के लिए पर्याप्त रन थे। सभी गेंदबाज लाजवाब थे। चहल और शमी की भी गेंदबाजी शानदार रही है।

वही टीम इंडिया के 3D खिलाड़ी कहे जाने वाले विजय शंकर के बारे में कोहली ने कहा, “विजय शंकर बल्लेबाजी के दौरान अच्छे लग रहे थे और वह अच्छा क्षेत्ररक्षण भी कर रहे हैं। विश्व कप में अपने देश का प्रतिनिधित्व करना सभी के लिए सम्मान की बात है।"

India Tv पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Cricket News in Hindi के लिए क्लिक करें खेल सेक्‍शन