Live TV
GO
  1. Home
  2. खेल
  3. क्रिकेट
  4. डोपिंग टेस्ट में निलंबन झेल रहे...

डोपिंग टेस्ट में निलंबन झेल रहे यूसुफ़ पठान की मुसीबतें ख़त्म नहीं हुईं, करिअर का हो सकता है अंत

क्रिकेटर युसूफ पठान भले ही पहले डोप अपराध के लिये बीसीसीआई द्वारा लगाया गया पांच महीने का पूर्वप्रभावी प्रतिबंध जल्दी ही पूरा कर लेंगे लेकिन वाडा के शिकंजे सा बाहर निकलना मुश्किल है.

India TV Sports Desk
Written by: India TV Sports Desk 10 Jan 2018, 14:39:13 IST

क्रिकेटर युसूफ पठान भले ही पहले डोप अपराध के लिये बीसीसीआई द्वारा लगाया गया पांच महीने का पूर्वप्रभावी प्रतिबंध जल्दी ही पूरा कर लेंगे लेकिन विश्व डोपिंग निरोधक एजेंसी (वाडा) के प्रोटोकाल के तहत मामला अभी भी चल रहा है. ग़ौरतलब है कि भारतीय ऑलराउंडर पठान पर डोप टेस्ट में फ़ेल होने के कारण पांच महीने का पूर्वप्रभावी प्रतिबंध लगाया गया है जो 14 जनवरी को खत्म हो जायेगा. बीसीसीआई ने उनकी यह दलील स्वीकार कर ली थी कि उन्होंने अनजाने में प्रतिबंधित पदार्थ का सेवन किया है लेकिन वाडा के शिकंजे सा बाहर निकलना मुश्किल है.

वाडा के मीडिया और कम्युनिकेशंस मैनेजर मैगी डूरंड ने कहा है, ‘‘चूंकि यह मामला लंबित है तो हम इस पर टिप्पणी नहीं कर सकते.’’ बता दें कि वाडा की डोपिंग आचार संहिता 2015 के तहत पहली बार अपराध पर चार साल के निलंबन का प्रावधान है जो पठान पर लागू हो सकता है.

बीसीसीआई ने एक बयान में कहा, ‘‘युसूफ पठान पर डोपिंग उल्लंघन के कारण निलंबन लगाया गया. उन्होंने अनजाने में एक प्रतिबंधित पदार्थ का सेवन कर लिया जो आम तौर पर सर्दी खासी के सिरप में पाया जाता है.’’ 

पठान ने पिछले साल 16 मार्च को बड़ौदा और तमिलनाडु के बीच एक घरेलू टी20 मैच के बाद बीसीसीआई के डोपिंग निरोधक परीक्षण कार्यक्रम के तहत मूत्र का नमूना दिया था. बोर्ड ने कहा था, ‘‘उनके नमूने की जांच की गई और उसमें टरबूटेलाइन के अंश मिले जो यह वाडा के प्रतिबंधित पदार्थों की सूची में आता है.’’ 

पठान ने कहा था कि उन्हें यकीन था कि जान बूझकर सेवन का आरोप उन पर नहीं लगेगा । उन्होंने हालांकि भविष्य में और सतर्क रहने की बात कही । 

India Tv पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Cricket News in Hindi के लिए क्लिक करें खेल सेक्‍शन
Web Title: डोपिंग टेस्ट में निलंबन झेल रहे यूसुफ़ पठान की मुसीबतें ख़त्म नहीं हुईं, करिअर का हो सकता है अंत